News Nation Logo
Banner

इस ब्लड ग्रुप को कोरोना से सबसे ज्यादा है खतरा, रिसर्च में हुआ खुलासा

कोरोना वायरस (Corona Virus) को लेकर रिसर्च में खुलासा किया गया है कि किस मरीज को सांस लेने में कम दिक्कत होगी और किसे अधिक ये उसके ब्लड ग्रुप पर निर्भर करता है.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 05 Jun 2020, 11:23:57 AM
Coronavirus

इस ब्लड ग्रुप को कोरोना से सबसे ज्यादा है खतरा, रिसर्च में हुआ खुलासा (Photo Credit: प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्ली:  

कोरोना वायरस (Coronavirus) ने दुनियाभर में अब तक 65 लाख से अधिक लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है. इससे होने वाली मौत का आंकड़ा भी चार लाख के करीब पहुंचने वाला है. इस बीमारी का लक्षण है कि इसमें मरीज को सांस लेने में दिक्कत होती है. इसी कारण उसकी मौत भी हो जाती है. अब एक रिसर्च में खुलासा किया है कि किस मरीज को सांस लेने में कितनी दिक्कत होगी ये उसके ब्लड ग्रुप पर निर्भर करता है.

यह भी पढ़ेंः भारतीय अर्थव्यवस्था में आ सकती है भारी गिरावट, रिजर्व बैंक का अनुमान

इस ब्लड ग्रुप को सबसे अधिक खतरा
इस रिपोर्ट में खुलासा किया गया कि A पॉजिटिव ग्रुप के मरीजों को कोरोना संक्रमित होने पर सांस में लेने में ज्यादा दिक्कत होती है. जबकि O पॉजिटिव मरीजों में ये खतरा कम रहता है. यह रिसर्च करीब 1600 लोगों पर किया गया है. डॉक्टरों ने यह रिसर्च जीन के आधार पर किया है. रिसर्च में शोधकर्ताओं ने 2205 ऐसे ब्लड सैंपल का भी विश्लेषण का जो कोरोना से संक्रमित नहीं थे.

यह भी पढ़ेंः UP: एक साथ 25 स्कूलों में नौकरी, 13 महीनों में कमाए एक करोड़ रुपये

अभी तक नहीं बनी वैक्सीन
कोरोना वायरस के लिए कई देशों के वैज्ञानिक इसकी वैक्सीन तैयार करने में लगे है लेकिन किसी को भी सफलता नहीं मिल पाई है. करीब 100 से ज्यादा कंपनियां इस वक्त कोरोना की वैक्सीन तैयार करने में लगी है. लेकिन अभी तक किसी को कोई ठोस कामयाबी हाथ नहीं लगी है. इस बीच दो कंपनियों ने अच्छी खबर दी है और दावा किया है कि उनकी वैक्सीन शुरुआती दौर में कारगार साबित हो रही है.

First Published : 05 Jun 2020, 11:23:57 AM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.