News Nation Logo

Menopause Joint Pain Treatment: मेनोपॉज के दौरान जोड़ों में हो रहा है तेज दर्द, ये घरेलू नुस्खे हैं जबरदस्त

मेनोपॉज (menopause) के दौरान लेडीज को गैस, ब्लोटिंग, उल्टी, मूड स्विंग, घबराहट होने लगती है. लेकिन, कई लेडीज को जोड़ों में दर्द की भी शिकायत होती है. इसलिए, हम आपके लिए ऐसे घरेलू नुस्खे (menopause home remedy) लाए हैं जिससे आपका दर्द छूमंतर हो जाएगा

News Nation Bureau | Edited By : Megha Jain | Updated on: 03 Mar 2022, 12:11:20 PM
Menopause Joint Pain Treatment

Menopause Joint Pain Treatment (Photo Credit: istock)

नई दिल्ली:  

मेनोपॉज (menopause) से शायद ही कोई महिला अंजान होगी. ये एक ऐसा प्रोसेस है जिससे हर लेडी को एक टाइम पर गुजरना ही पड़ता है. वैसे तो आमतौर पर मेनोपॉज की प्रॉब्लम 45 से 55 साल की उम्र के बीच होती है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मेनोपॉज की प्रॉब्लम स्वाभाविक रूप से पीरियड्स (home remedies for menopause) या मासिक धर्म बंद होने के बाद दिखने लगती है. लेकिन, इस प्रोसेस से गुजरते टाइम लेडीज को कई तरह की फिजिकल और मेंटल प्रॉब्लम्स (Menopause joint pain natural remedies) को झेलना पड़ता है.

यह भी पढ़े : Back Pain Treatment: कमर के दर्द ने बढ़ा रखी है तकलीफ, ये दमदार घरेलू तरीके देंगे आपको रिलीफ

इस कारण से हार्मोनल चेंजिस भी होते है. जिसकी वजह से गैस, ब्लोटिंग, उल्टी, मूड स्विंग, डिप्रेशन और घबराहट भी होती है. लेकिन, वहीं कई लेडीज को जॉइंट पेन की शिकायत भी रहती है. अगर इस पर वक्त रहते ध्यान न दिया जाए तो ये दर्द लंबे टाइम (Menopause joint pain treatment) तक खिंचने लगता है. इसलिए, हम आपको कुछ ऐसे दमदार घरेलू नुस्खे बताने जा रहे हैं जिससे आप बहुत ही जल्दी इस दर्द से छुटकारा (menopause home remedies) पा लेंगे. 

यह भी पढ़े : Mouth Ulcers Treatment: मुंह के छालों से मिलेगा छुटकारा, लेंगे जब इन घरेलू नुस्खों का सहारा

धूप लें 
जो भी कैल्शियम हड्डियों की मजबूती के लिए लिए जाते हैं, उनका बॉडी में एब्सॉर्रब होना बहुत जरूरी होता है. जिसके लिए विटामिन D की जरूरत होती है. विटामिन D आपको सुबह 9 बजे तक की धूप से आसानी से मिल जाता है. इसलिए रोजाना सुबह की धूप लेना बहुत जरूरी होता है. इसके साथ ही रोजाना कुछ देर टहलने की आदत भी डालें. इससे आपको दर्द (sunlight) में काफी राहत मिलेगी.

लहसुन खाएं 
लहसुन में एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज होती हैं. जो जॉइंट पेन को कंट्रोल करते हैं. इसके साथ ही बॉडी के टॉक्सिक सब्सटांसिज को निकालने में मददगार होता है. अगर आप रोजाना खाली पेट एक लहसुन की कली को पानी के साथ खा लें तो, इससे आपको जॉइंट पेन में तो राहत मिलेगी ही साथ ही आपको गैस, ब्लोटिंग जैसी परेशानियों से भी राहत मिलेगी. इसके अलावा लहसुन (garlic) का तेल घर में बनाकर उससे मालिश करने से भी बेहद आराम मिलता है.

यह भी पढ़े : Fasting Benefits: Immunity करे बूस्ट और Digestive System रखे दुरुस्त, एक दिन व्रत रखने के ये फायदे जानें जबरदस्त

अलसी के बीज लें 
जॉइंट पेन में अगर आप राहत चाहते हैं तो इसके लिए जल्द से जल्द अपनी डाइट में अलसी के बीजों को शामिल करें. इसे सुपरफूड कहा जाता है. अलसी के बीजों को जोड़ों के दर्द को दूर करने के अलावा मेनोपॉज की दूसरी प्रॉब्लम्स जैसे हार्मोन डिसबैलेंस, हॉट फ्लैशेस, जोड़ों की सूजन वगैराह को कंट्रोल करने में मददगार (alsi seeds) माना जाता है.

हल्दी लें 
हल्दी ज्यादातर हर बीमारी का रामबाण इलाज होती है. इसमें एंटीसेप्टिक, एंटी-इंफ्लेमेटरी क्वालिटीज और एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं. ये चीजें जॉइंट पेन से राहत दिलाने में मददगार मानी जाती हैं. अगर कच्ची हल्दी ली जाती है तो वो और भी ज्यादा इफेक्टिव होती है. हल्दी खाने के साथ-साथ आप इसे दूध में उबालकर भी पी सकते हैं, या एक कप पानी में आधा चम्मच पिसी हल्दी (turmeric) और थोड़ी अदरक को डालकर उबाल भी सकते हैं. फिर 10 मिनट बाद छान लें. इस लिक्विड को पीने से काफी आराम मिलता है.

First Published : 03 Mar 2022, 12:11:20 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.