News Nation Logo
Banner

Corona: दीपावली से पहले Omicron के नए वेरिएंट की दस्तक, बढ़ा खतरा

Vaibhav Parmar | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 20 Oct 2022, 07:37:18 PM
corona case

Omicron के नए वेरिएंट की दस्तक (Photo Credit: File Photo)

नई दिल्ली:  

Corona Virus: कोरोना वायरस (Corona Virus) के नए ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron Variants) से दुनियाभर के देशों में खलबली मच गई थी. अब देश में फेस्टिव सीजन से पहले कोरोना के वेरिएंट ओमिक्रॉन का भी एक और नया वेरिएंट सामने आ गया है, जिससे लोगों की परेशानियां एक बार फिर बढ़ सकती हैं. हालांकि, देश में कोरोना वायरस के मामले कम सामने आ रहे हैं. आइये न्यूज नेशन आपको बताएगा कि देश में ओमिक्रॉन के नए वेरिएंट की क्या स्थिति है? 

यह भी पढ़ें : DefExpo 2022: निजी क्षेत्र के निवेशक आगे आएं और रक्षा उद्योग में निवेश करें: राजनाथ सिंह

देश में कोविड-19 के मामले तो कम सामने आ रहे हैं, लेकिन जबसे कोरोना वायरस की एंट्री हुई है तबसे लगातार कोरोना का कोई न कोई नया रूप अलग-अलग स्ट्रेन और वेरिएंट के रूप में मिलता ही गया है. पिछले साल दक्षिण अफ्रीका से फैलने शुरू हुए कोरोना के नए ओमिक्रॉन (Omicron) वेरिएंट से दुनियाभर में खलबली मचती नजर आई थी. इसके बाद इसके कई और वेरिएंट भी सामने आए, जिसने और चिंता बढ़ा दी है. अब कोरोना के वेरिएंट ओमिक्रॉन का भी एक और नया वेरिएंट सामने आ गया है. देश में ओमिक्रॉन के सब वेरिएंट्स BA.5.1.7 और BF.7 सामने आए हैं.

भारत में BF.7 सब वेरिएंट के पहले मामले के बारे में गुजरात बॉयोटेक्नोलॉजी रिसर्च सेंटर ने पता लगाया है. रिसर्च सेंटर ने ही इस वेरिएंट के पहले मामले के बारे में जानकारी दी है. नए वेरिएंट को लेकर हेल्थ एक्सपर्ट ने सावधानी बरतने को कहा है. चीन में कोरोना के मामले बढ़ने का कारण यही वेरिएंट है. चीन में कोविड-19 मामलों में आई तेजी का कारण BF.7 और BA.5.1.7 वेरिएंट ही बताया गया था. अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, ब्रिटेन और बेल्जियम में भी इस नए वेरिएंट के मामले सामने आ चुके हैं, लेकिन बावजूद इसके देश के कई हिस्सों से इस त्योहारी सीजन में लोगों की लापरवाही की तस्वीरें सामने आ रही हैं. 

दिल्ली में तो लोग वीकेंड्स के अलावा वीक डेज पर भी अपने परिवार के साथ बाहर निकल रहे हैं. दीवाली की खरीदारी कर रहे हैं और खाने पीने की दुकानों पर व्यंजनों का स्वाद ले रहे हैं. दिल्ली के सरोजनी नगर समेत कई बाजारों में सोशल डिस्टेंसिंग बिल्कुल नजर नहीं आ रहा और ना ही मास्क किसी के पास दिखाई दे रहा है. लेकिन फिर भी लोगों को बाहर निकलना जरूरी लगता है. 

यह भी पढ़ें : KBC 14: अमिताभ बच्चन के कंटेस्टेंट हुए नाराज, होस्ट ने खुद कहा सॉरी...

इस साल की शुरुआत में जब कोरोना के ओमिक्रोन वेरिएंट ने कई लोगों को संक्रमित किया था, तब दिल्ली सरकार ने तुरंत पाबंदियां लगाकर उसके प्रसार को रोकने के प्रयास किए थे, लेकिन अब गुजरात चुनाव के प्रचार में व्यस्त आम आदमी पार्टी को गुजरात में मिले ओमिक्रोन वेरिएंट पर कोई चिंता नहीं है. सरकार ने आज ही दिल्ली में मास्क न पहनने पर अब तक लगने वाले 500 रुपये के चालान को हटा दिया है. जिसके बाद यह कहा जा सकता है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन और डॉक्टरों की लाख चेतावनी के बावजूद ना तो सरकार को चिंता है और न ही लोगों को इस वायरस से कोई डर लग रहा है. हालांकि, डॉक्टर्स अब भी सावधानी बरतने की ही सलाह दे रहे हैं.

एलएनजेपी अस्पताल, दिल्ली के डायरेक्टर डॉ. सुरेश कुमार ने कहा कि जिस रफ्तार से विदेशों में यह नया वेरिएंट फैला था, अगर भारत में भी उसी रफ्तार से फैल गया तो उसका कारण लोगों की लापरवाही ही होगी. लोगों को समझना होगा कि जब तक देश में सभी को वैक्सीन नहीं लग जाती तब तक मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग को ही वैक्सीन समझना होगा और भीड़भाड़ वाले इलाकों में जाने से बचना होगा. अगर ऐसा नहीं हुआ तो इनकी लापरवाही से संक्रमण और बढ़ सकता है और नए वेरिएंट के म्युटेट होने पर खतरा और गंभीर हो सकता है. 

First Published : 20 Oct 2022, 07:34:42 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.