News Nation Logo
भारत में अब तक कोविड के 3.46 करोड़ मामले सामने आए हैं: लोकसभा में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हरियाणा में अगले आदेश तक गुरुग्राम, सोनीपत, फरीदाबाद और झज्जर के स्कूलों को बंद करने का आदेश Omicron Update: 31 देशों में 400 से ज्यादा संक्रमण के मामले मलेशिया में ओमीक्रॉन के पहले मामले की पुष्टि अमेरिका में ओमीक्रॉन से संक्रमण के मामले बढ़कर 8 हुए केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस: CCTV के मामले में दिल्ली दुनिया में नंबर 1 केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस: दिल्ली में महिलाएं पूरी तरह सुरक्षित केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस: दिल्ली में 1.40 कैमरे और लगाए जाएंगे थोड़ी देर में ओमीक्रॉन पर जवाब देंगे स्वास्थ्य मंत्री IMF की पहली उप प्रबंध निदेशक के रूप में ओकामोटो की जगह लेंगी गीता गोपीनाथ 12 राज्यसभा सांसदों के निलंबन को लेकर विपक्षी दलों के सांसदों का गांधी प्रतिमा के पास विरोध-प्रदर्शन यमुना एक्‍सप्रेसवे पर सुबह सुबह बड़ा हादसा, मप्र पुलिस के दो जवानों समेत चार की मौत जयपुर में दक्षिण अफ्रीका से लौटे एक ही परिवार के चार लोग कोरोना संक्रमित

स्ट्रेस में ज्यादा खाने की नहीं बदली आदत, ये बीमारियां बॉडी में दे देंगी दस्तक

स्ट्रेस ईटिंग (stress eating) यानी कि स्ट्रेस के दौरान खाना खाना होता है. बता दें, कि ये हैबिट आपकी किसी सीरियस प्रॉब्लम से दोस्ती करवा सकती है. इसलिए ये बहुत ज़रूरी होता है कि स्ट्रेस के दौरान ये ज्यादा खाने की आदत को छोड़ा जाए.

News Nation Bureau | Edited By : Megha Jain | Updated on: 27 Oct 2021, 03:00:18 PM
Overeating during Stress causes serious problems

Overeating during Stress causes serious problems (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

स्ट्रेस ईटिंग यानी कि स्ट्रेस के दौरान खाना खाना. इसे ईमोशनल ईटिंग का नाम भी दिया जा सकता है. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि जब भी कोई स्ट्रेस में होता है. तो वो भूख से ज्यादा खाने लगता है. खाने की भूख हो या ना हो. लेकिन, आप खाते जरूर है. इससे पहले की इसको कोई कॉमन-सी प्रॉब्लम समझा जाए. बता दें, कि ये हैबिट आपकी किसी सीरियस प्रॉब्लम से दोस्ती करवा सकती है. इतना ही नहीं, इसकी वजह से लाइलाज मोटापे जैसी प्रॉब्लम भी हो सकती है. इसके साथ ही ये हैबिट आपका डेली रूटीन भी खराब कर सकती है. इसलिए ये बहुत ज़रूरी होता है कि स्ट्रेस के दौरान ये ज्यादा खाने की आदत को छोड़ा जाए. लेकिन, ये सोचकर आप रूटीन में कम खाना मत शुरू कर 
दीजिएगा. टेंशन तो बिल्कुल भी मत लेना क्योंकि इस प्रॉब्लम से निपटने का सॉल्यूशन है हमारे पास और ना सिर्प सॉल्यूशन बल्कि इसके पीछे के कारण भी बता देते है. 
 
ये भी पढ़े : इन स्नैक्स को रूटीन में किया शामिल, वेट कंट्रोल करना हो जाएगा मुश्किल

पहले आपको बता देते है कि स्ट्रेस ईटिंग के पीछे के रीजन्स क्या है. इसके पीछे सबसे बड़ा रीजन किसी बात से दिखी होना या किसी बात से परेशान होना है. अक्सर कुछ लोगों की स्ट्रेस के चलते कुछ न कुछ खाते रहने की आदत होती है. ऐसा इसलिए क्योंकि उस टाइम पर उन्हें खाना ही आराम देता है. ध्यान देने वाली बात ये है कि, स्ट्रेस में लोग अक्सर बाहर का जंक फूड खाना शुरू कर देते है. जो कि गलत है. इसके सिंप्टम्स वक्त पर पहचानना बहुत जरूरी होता है. तो आइए ये भी बता देते है कि आप इसके सिंप्टम्स पहचानेंगे कैसे. 

इसके मेन सिंप्टम्स बिना भूख लगे खाने की आदत होता है. तो वहीं दूसरा टेंशन में किसी खास खाने की इच्छा होना होता है. इसका एक लास्ट सिंप्टम हमेशा मन में खाना खाने की इच्छा होना भी होता है. 

ये भी पढ़े : ठण्ड में शरीर को गरम रखने के लिए ये सारे फल हैं ज़रूरी

ये तो हो गए स्ट्रेस ईटिंग के कारण और सिंप्टम. अब, जरा जान लेते है कि इस पर कंट्रोल कैसे किया जा सकता है. तो, इसके लिए सबसे पहले स्ट्रेस के रीजन्स जान लें. तभी तो स्ट्रेस ईटिंग पर रोक लगेगी. तो भई भागदौड़ भरी जिंदगी में स्ट्रेस हर किसी को ट्रिगर करने के साथ-साथ खाने के लिए भी फोर्स करता है. हर किसी की लाइफ में ऐसी कई स्टेज आती है या चल रही होती है. जब उन्हें स्ट्रेस का शिकार होना पड़ता है. इससे निजात तो हर कोई पाना चाहता है लेकिन ये काम आसान नहीं है. अगर आप इन सिंप्म्स को पहचान लेते हैं तो कंट्रोल करने से पहले ही आप स्ट्रेस से निपटने के लिए सही स्टेप्स उठा सकते है. 

ये ही है स्ट्रेस की खास वजह. लेकिन, इसे रोका कैसे जाए. अब, सवाल यही आता है. तो, बता दें इसके लिए आप दूसरों की मदद ले सकते है. वो ऐसे कि अगर आपके अपने तरीके स्ट्रेस ईटिंग को रोकने में सक्सेसफुल नहीं हो पा रहे हैं तो इसके लिए आप तुरंत फ्रेंड्स या फैमिली की हेल्प ले सकते हैं. इस तरह आप स्ट्रेस ईटिंग से खुद को दूर रख पाएंगे. 

ये भी पढ़े : Kidney Stone की प्रॉब्लम से पानी है मुक्ति, ये घरेलू नुस्खे दिला देंगे छुट्टी

वहीं इसका एक तरीका टाइम पर और रोजाना खाना खाना भी है. आमतौर पर जो काम में लगे रहते है. उन्हें भी खाना खाने की भूख लगी रहती है. लेकिन, अगर आपको स्ट्रेस फील होता है तो आपको बार-बार खाना खाने से बचना चाहिए. खुद को एक सही टाइम पर खाने की हैबिट से जोड़ना चाहिए. इससे आप स्ट्रेस ईटिंग से बच सकते हैं. 

First Published : 27 Oct 2021, 03:00:18 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.