News Nation Logo
Banner
Banner

ज्यादा बढ़ गया है यूरिक एसिड, तो इस होम रेमेडी को कर लें पिक

अश्वगंधा बढ़े हुए यूरिक एसिड को कैसे कंट्रोल करेगा. तो भई अश्वगंधा एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है. जो कई बीमारियों को दूर करने में असरदार है. तो ऐसे में अगर कोई भी यूरिक एसिड की प्रॉब्लम से जूझ रहा है.

News Nation Bureau | Edited By : Megha Jain | Updated on: 10 Oct 2021, 11:37:15 AM
Ashwagandha Benefits

Ashwagandha Benefits (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली:

बॉडी में कुछ भी अगर ज्यादा हो जाता है. तो वो नुकसानदायक तो होता ही है. इन्हीं में से एक यूरिक एसिड भी है. इसके बढ़े होने के कारण कई तरह की प्रॉब्लम्स हो सकती हैं. जैसे कि घुटनों, पैरों की उंगलियों में दर्द रहना या फिर बॉडी में सूजन आ जाना. ऐसे में लोग डॉक्टर्स की दवाईयों तो खा लेते हैं. लेकिन, घरेलू नुस्खे नहीं अपनाते हैं. तो जनाब एक बार ये घरेलू नुस्खा आजमाकर तो देखिए जिसका नाम अश्वगंधा है. तो आइए फटाफट से जान लेते हैं कि आखिर अश्वगंधा बढ़े हुए यूरिक एसिड को कैसे कंट्रोल करेगा. 

यह भी पढ़े : दांतों पर है कीड़े का कब्जा, आज ही आजमाएं ये बेजोड़ नुस्खा

तो पहले बता देते हैं कि अश्वगंधा बढ़े हुए यूरिक एसिड को कैसे कंट्रोल करेगा. तो भई अश्वगंधा एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है. जो कई बीमारियों को दूर करने में असरदार है. तो ऐसे में अगर कोई भी यूरिक एसिड की प्रॉब्लम से जूझ रहा है. तो अश्वगंधा उस प्रॉब्लम को भी कंट्रोल करने में कारगर साबित होता है. इसके लिए बस इसके इस्तेमाल के सही तरीके की जानकारी होनी चाहिए. इसे रोजाना लेने से बढ़ा हुआ यूरिक एसिड कंट्रोल हो जाता है. साथ ही इससे अर्थराइटिस की वजह से होने वाली सूजन और जोड़ों के दर्द में भी राहत मिलती है. 

अगर आपको कमजोरी महसूस होती है और आप उससे निजात पाना चाहते हैं. तो, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अश्वगंधा और दूध आपकी बॉडी को मजबूत बनाता है. अगर आपको किसी भी वजह से थकान या कमजोरी महसूस हो भी रही है तो अश्वगंधा लेना बेहद फायदेमंद होगा. इसके लिए बस रोजाना 2 ग्राम अश्वगंधा पाउडर के साथ 125 ग्राम त्रिकाटू पाउडर एक गिलास दूध में मिक्स करके पी लें. कुछ ही दिनों में आपको फर्क नजर आने लगेगा. साथ ही ऐसा करने से आपको आराम भी मिलेगा. 

यह भी पढ़े : पड़ सकता है भारी इन गलतियों को दोहराना, वजन बढ़ाएगा व्रत का खाना

वहीं अगर किसी को बीपी की प्रॉब्लम है तो इसको जरूर लें. अश्वगंधा काफी हद तक हाई बीपी की प्रॉब्लम को कंट्रोल कर सकता है. बस इसे 2 ग्राम अश्वगंधा पाउडर के साथ 125 ग्राम मोटी पिसती और 1 गिलास दूध के साथ लें.  इसे लेने से केवल फायदा ही होगा. 

वहीं जो लोग अपने बढ़े हुए वेट से परेशान हो रहे हैं. तो वो भी अश्वगंधा ले सकते हैं. बहुत ही कम लोग इस बात को जानते हैं कि अश्वगंधा वेट कम करने में भी असरदार है. इसके लिए बस एक गिलास दूध में एक चम्मच अश्वगंधा मिला लें. अगर आपको इसे ऐसे लेने में दिक्कत हो रही है. तो आप इसमें एक चम्मच शहद मिला सकते हैं. लेकिन, शुगर पेशेंट शहद का इस्तेमाल करने से बचें.

यह भी पढ़े : कोलेस्ट्रॉल की प्रॉब्लम गई है बढ़, ये सिंप्टम भी है इसकी जड़

साथ ही अश्वगंधा सारी डिजीजिज से अपने आप बचाव भी कर देता है. जब आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत हो. ये रोग प्रतिरोधक क्षमता किसी भी वायरस से बॉडी का बचाव करने में मदद करती है. इसलिए अगर आपको बीमारियों से खुद का बचाव करना है. तो अश्वगंधा जरूर लें. ये इम्यूनिटी बूस्ट करके आपको बीमारियों से बचाएगी. 

First Published : 10 Oct 2021, 11:37:15 AM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.