News Nation Logo

अल्जाइमर और मेमोरी लॉस की करे छुट्टी, इन आयुर्वेदिक हर्ब्स से भरी बंद मुट्ठी

अल्जाइमर एक ऐसा रोग (Alzheimer's Disease) है जिसमें याद्दाश्त धीरे-धीरे (Memory Loss) खोने लगती है. कुछ हेल्थ रिपोर्ट्स के मुताबिक, आयुर्वेद में मौजूद कुछ हर्ब्स इस डिजीज से होने वाले कोगनिटिव लॉस को रोकने में बेहद कारगर है.

News Nation Bureau | Edited By : Gaveshna Sharma | Updated on: 22 Sep 2021, 12:19:32 PM
ayurvedic herb for memory loss

ayurvedic herb for memory loss (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली :

अल्जाइमर एक ऐसा रोग (Alzheimer's Disease) है जिसमें याद्दाश्त धीरे-धीरे (Memory Loss) खोने लगती है. कुछ हेल्थ रिपोर्ट्स के मुताबिक, आयुर्वेद में मौजूद कुछ हर्ब्स इस डिजीज से होने वाले कोगनिटिव लॉस को रोकने में बेहद कारगर है (Ayurvedic Herbs for Memory Loss and Alzhiemers ). इतना ही नहीं, आपको जानकर हैरानी होगी कि आयुर्वेद की ये महान जड़ी-बूटियां आपकी अपनी रसोई में ही मौजूद हैं. आइए जानते हैं इन आयुर्वेदिक हर्ब्स के बारे में जो आपकी मेमोरी बूस्ट (Memory Boost) कर आपको डिमेंशिया और अल्जाइमर्स जैसी डिजीज से बचा सकती हैं.

यह भी पढ़ें: नहीं लेना पड़ेगा ज्यादा स्ट्रेस और टेंशन जब सोते-सोते घट जाएगा वजन

1. दालचीनी (Cinnamon)
दालचीनी ऐसा मसाला है, जो हर घर में मौजूद होता है. वृद्ध वयस्कों और प्री-डायबिटिक लोगों के लिए दालचीनी फायदेमंद साबित हो सकती है, क्योंकि इसमें प्रीफ्रंटल कॉर्टेक्स में ब्लड सर्कुलेशन बेटर बनाने की कैपेसिटी होती है, जो दिमाग को मजबूत और याद्दाश्त को तेज बनाती है. इसका अलावा, यह कोलेस्ट्रॉल, फास्टिंग ग्लूकोज और एचबीए1सी के लेवल को कम करने और इंसुलिन संवेदनशीलता (insulin sensitivity) को इम्प्रूव करने के लिए भी जानी जाती है. 

2. हल्दी (Turmeric)
कुछ हेल्थ रिपोर्ट्स के मुताबिक, हल्दी दिमाग की सेहत के लिए बेहद जरूरी हर्ब है. ये आसानी से हर घर में पाई जाती है. हल्दी न सिर्फ दिमाग को तेज बनाती है बल्कि बीटा-एमिलॉइड (एक प्रोटीन टुकड़ा) को दिमाग से साफ कर अल्जाइमर रोग को दूर भी कर सकती है. बता दें कि, बीटा-एमिलॉइड ही वो एलिमेंट है जो दिमाग में अल्जाइमर से जुड़े brain plaque क्रिएट करता है. इसके अलावा, हल्दी दिमाग में nerve cells
के डैमेज होने को रोककर दिमाग को चुस्त बनाने का काम भी करती है. 

3. केसर (Saffron)
कुछ हेल्थ फैक्ट्स और हेल्थ एक्सपर्ट्स के अकॉर्डिंग, केसर याद्दाश्त बढ़ाने और अल्जाइमर के असर को कम करने के लिए एक बेहद ही इफेक्टिव हर्ब है. इसके अलावा, डिप्रेशन मेमोरी लॉस के पीछे का एक अहम कारण माना जाता है. ऐसे में केसर mild to moderate depression के इलाज में भी काफी इम्पैक्टफुल है.  

यह भी पढ़ें: बिगड़ती लाइफस्टाइल की ये गलतियां बजा रही हैं आपके मेटाबॉलिज्म की बैंड

4. थाइम (Thyme)
थाइम एक टेस्टी हर्ब है जो दिमाग में न्यूरॉन्स को वक्त से पहले बूढ़ा होने से बचाने में मदद करती है. थाइम दिमाग में एक्टिव ओमेगा -3 डीएचए (डोकोसाहेक्सैनोइक एसिड) की मात्रा को भी बढ़ाती है. ओमेगा -3 फैटी एसिड मेमोरी फंक्शनिंग को बैटर बनाने और मूड को रेफ्रेशिंग बनाए रखने में एक अहम रोल प्ले करता है. 

5. अश्वगंधा (Ashwagandha)
सबसे पुरानी और हर रोग में बेजोड़ अश्वगंधा ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करके दिमाग की सेहत को बेहतर बनाती है जिससे मेमोरी पॉवर बूस्ट होती है. अश्वगंधा को कितना जबरदस्त तोड़ है मेमोरी लॉस का, इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि इसके सेवन से आप बूढ़े होने के बाद भी दिमागी तौर पर मजबूत रहेंगे और आपकी मेमोरी कभी भी नहीं कमजोर पड़ेगी.  

First Published : 22 Sep 2021, 11:08:56 AM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो