News Nation Logo
Banner

Fact Check: क्या प्रदूषण के साथ-साथ बढ़ रहा है कोरोना वायरस फैलने का खतरा, जानें सच्चाई

ट्विटर पर एक यूजर ने Covid India Seva को टैग करते हुए प्रदूषण और कोरोना के संबंधों को लेकर सवाल किया. यूजर के सवाल पर Covid India Seva ने पूरा जवाब दिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Chaurasia | Updated on: 10 Nov 2020, 09:08:53 AM
pollution

दिल्ली की जहरीली हवा (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

हमारा देश इन दिनों कई भयानक समस्याओं से जूझ रहा है. कोरोनावायरस के बाद अब बढ़ते प्रदूषण ने भी लोगों की चिंता बढ़ा दी है. उत्तर भारत की हवाओं में तेजी से जहर फैल रहा है, जिससे उम्रदराज लोगों और सांस से संबंधित दिक्कतों से परेशान मरीजों का भारी दिक्कतें हो रही हैं. कोरोना के साथ-साथ बढ़ते प्रदूषण को लेकर लोगों के बीच कई तरह के सवाल भी हैं जो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहे हैं.

ये भी पढ़ें- Fact Check : जो बाइडन के आने से भारतीयों के खाने-पीने पर पड़ेगा असर

सोशल मीडिया पर ऐसे मैसेज वायरल हो रहे हैं कि बढ़ते प्रदूषण के साथ-साथ कोरोनावायरस फैलने का खतरा भी बढ़ गया है. ऐसे में ट्विटर पर एक यूजर ने Covid India Seva को टैग करते हुए प्रदूषण और कोरोना वायरस के संबंधों को लेकर सवाल किया. यूजर के सवाल पर Covid India Seva ने पूरा जवाब दिया. Covid India Seva ने अपने जवाब में लिखा, ''स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक पटाखे जलाने से वायु प्रदूषण, एलर्जी और श्वसन समस्याओं को बढ़ा देंगे. जिससे सीधे तौर पर कोरोनोवायरस फैसले का खतरा बढ़ जाएगा.

ये भी पढ़ें- Fact Check: WHO के डॉक्टर कोरोना के नाम पर गुमराह कर रहे है, जानें सच

जवाब में आगे लिखा गया, ''कुछ अध्ययनों से पता चला है कि वायु प्रदूषकों के उच्च स्तर के संपर्क में रहने वाले लोगों में कोविड-19 संक्रमण का अधिक जोखिम पाया जाता है. इस प्रकार, वायु प्रदूषण और कोरोना वायरस के बीच महत्वपूर्ण संबंध है क्योंकि कोरोनोवायरस के एरोसोल हवा में कम तापमान और वायु प्रदूषकों के कारण लंबे समय तक हवा में बने रहेंगे और बिना मास्क लगाए स्वस्थ व्यक्तियों द्वारा सांस लेने पर शरीर में प्रवेश कर सकते हैं.

First Published : 10 Nov 2020, 09:08:13 AM

For all the Latest Fact Check News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.