News Nation Logo
Agnipath Scheme: आज से Air Force में भर्ती के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू होंगे 2002 Gujarat Riots: जाकिया जाफरी की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आज Agnipath Scheme: एयरफोर्स के लिए अग्निवीरों का रजिस्ट्रेशन आज से शुरू, ऐसे करें आवेदनRead More » राष्ट्रपति चुनाव के लिए विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा 27 जून को राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपना नामा Coronavirus: भारत में 17000 से ज्यादा केस, 5 माह में सबसे ज्यादा मामलेRead More » यशवंत सिन्हा को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल का 'जेड (Z)' श्रेणी का सशस्त्र सुरक्षा कवच प्रदान किया NCP प्रमुख शरद पवार से मिलने मुंबई के लिए शिवसेना नेता संजय राउत वाई.बी. चव्हाण सेंटर पहुंचे सुप्रीम कोर्ट ने एसआईटी जांच के खिलाफ जाकिया जाफरी की याचिका की खारिजRead More » महाराष्ट्र सियासी संकट पर सुप्रीम कोर्ट बुधवार को करेगा सुनवाई

Fact Check: क्या WHO के डॉक्टर कोरोना के नाम पर गुमराह कर रहे है, जानें सच

सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो रहा है कि जिसमें दावा किया जा रहा है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन यानि WHO के डॉक्टरों ने कोरोना कहा है कि कोविड 19 से अब डरने की जरूरत नहीं है.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 07 Nov 2020, 12:40:58 PM
Fact Check

फैक्ट चेक (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:  

कोरोना सकंट अभी देश में कम नहीं हुआ है. हर दिन हजारों में कोरोना संक्रमण के केस सामने आते है. कोविड 19 से लोग पर परेशान है. लोगों के मन में हमेशा डर रहता है. वह बाहर निकलते है तो बहुत सावधानी के साथ. मुंह पर मास्क लागाए रखते है, जेब में सेनेटाइजर की छोटी बोतल रखते है. हाथ को ग्लब्स से ढके रहते है. किसी भी बाहरी समान को छूने से पहले हाथ को धोते है और सेनेटाइज कर रहे है. वहीं, सोशल मीडिया पर कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए तरीकों के पोस्ट भी लोगों ने शेयर किए है. 

यह भी पढ़ें : 'केरल के हादिया केस से भी खतरनाक है मेवात का मामला'

इस बीच इन दिनों सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो रहा है कि जिसमें दावा किया जा रहा है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन यानि WHO के डॉक्टरों ने कोरोना कहा है कि कोविड 19 से अब डरने की जरूरत नहीं है. ना ही अब मास्क पहनने की आवश्यकता है. साथ ही ना सामाजिक दूरी बनाने की. वहीं, इस मैसेज के वायरल होते ही सोशल मीडिया पर लोगों की यह जानने की जिज्ञासा बढ़ गई की आखिर क्या सच में WHO ने इस तरह का कोई मैसेज दिया है. क्या सच में अब कोविड 19 से डरने की जरूरत नहीं.

यह भी पढ़ें : बिहार चुनाव में मोदी ने की वोटिंग रिकॉर्ड बनाने की अपील

वायरल हो रहे इस मैसेज की पीआईबी फैक्ट चेक ने पूरी पड़ताल की है. पीआईबी फैक्ट चेक ने दावा कि कोविड 19 एक दूसरे को छूने से होता है. यह छूत की बीमारी है, मास्क पहनने जैसी सावधानियां, सामाजिक दूरी का पालन करना जरूरी है. वायरल हो रहा मैसेज पूरी तरह से फेक है. पीआईबी फैक्ट चेक ने अपने ट्विटर अकाउंट पर वायरल मैसेज की पूरी पड़ताल पोस्ट की है. पीआईबी ने लिखा- वायरल मैसेज में दावा किया गया है कि WHO के डॉक्टर COVID-19 में सामाजिक दूरी और मास्क पहनने के खिलाफ सलाह दे रहे हैं. PIB Fact Check: दावा FAKE हैं. COVID-19 एक छूत की बीमारी है, मास्क पहनने जैसी सावधानियां, सामाजिक दूरी का पालन करना चाहिए.

First Published : 07 Nov 2020, 12:40:58 PM

For all the Latest Fact Check News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.