News Nation Logo

बॉम्बे हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार से पूछा : 65 साल से अधिक उम्र के कलाकार काम क्यों नहीं कर सकते

फिल्म 'बेलबॉटम' (Bell Bottom) की कहानी सच्ची घटनाओं से प्रेरित है और 1980 के दशक पर आधारित है. इसमें भारत के एक भूले बिसरे नायकों के बारे में बताया गया है

IANS | Edited By : Akanksha Tiwari | Updated on: 23 Jul 2020, 12:37:46 PM
bombay high court

बॉम्बे हाईकोर्ट (Photo Credit: फोटो- IANS)

नई दिल्ली:

बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) ने महाराष्ट्र सरकार से उनके निर्देश के बारे में सवाल किया है जिसके तहत कोविड-19 (Covid 19) महामारी के बीच दस साल से कम और 65 से अधिक उम्र के कलाकारों को शूटिंग करने की अनुमति नहीं दी गई है. सरकार के निर्देश के खिलाफ मंगलवार को बॉलीवुड के वरिष्ठ अभिनेता प्रमोद पांडे द्वारा याचिका दायर की गई.

यह भी पढ़ें: सुशांत सिंह राजपूत के फैंस के लिए आई खुशखबरी, 24 जुलाई को इतने बजे रिलीज होगी फिल्म 'Dil Bechara'

एक रिपोर्ट के मुताबिक, हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से पूछा कि वह ये बताएं कि अगर वरिष्ठ अभिनेताओं को शूटिंग करने की इजाजत नहीं है तो वे अपना खर्चा किस तरह से चला पाएंगे. कोर्ट ने राज्य सरकार से यह भी पूछा कि क्या किसी रिपोर्ट या डेटा के आधार पर यह आयु सीमा तय की गई है. अदालत ने कथित तौर पर सरकार से शुक्रवार तक जवाब पेश करने को कहा है.

यह भी पढ़ें: सुशांत सिंह राजपूत के गाने 'तारे गिन' की शूटिंग का Video हुआ वायरल

मीडिया से बात करते हुए पहले पांडे ने कहा था, 'काम करना और एक सम्मानजनक जिंदगी जीना हमारा संवैधानिक अधिकार है, लेकिन राज्य सरकार का आदेश हमें काम करने की अनुमति नहीं देता है. हम कोरोना से तो बच जाएंगे, लेकिन अगर काम नहीं करेंगे तो बेरोजगारी और भुखमरी से मर जाएंगे. मैंने अपनी पूरी जिंदगी संघर्ष किया है. मैं हर महीने लगभग चालीस हजार रुपये तक कमा लेता था, लेकिन अब कोई काम नहीं है, कोई ऑडिशन के लिए भी नहीं बुलाता है. छोटे बच्चों के लिए यह नियम समझ में भी आता है क्योंकि उनके पास देखभाल करने के लिए माता-पिता होते हैं, लेकिन जिन अभिनेताओं और क्रू मेंबर्स की उम्र 65 साल से अधिक हैं वे क्या करें? वे मर जाएंगे.'

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 23 Jul 2020, 12:37:46 PM

For all the Latest Entertainment News, TV News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.