News Nation Logo

कंगना लौटा देंगी पद्मश्री सम्मान! देश को लेकर कह दी ऐसी बात

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनोट अपने बेबाक अंदाज़ के लिए जानी जाती हैं. लेकिन इस बार उन्होंने देश को लेकर कुछ ऐसा कह दिया है. जिसको लेकर उनकी मुश्किलें बढ़ गई है. यहां तक कि उन्हें पद्मश्री सम्मान भी लौटाना पड़ सकता है.

News Nation Bureau | Edited By : Pallavi Tripathi | Updated on: 13 Nov 2021, 06:06:03 PM
1

कंगना ने देश को लेकर कही ऐसी बात (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली :

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनोट अपने बेबाक अंदाज़ के लिए जानी जाती हैं. जिसको लेकर कभी उनकी सराहना होती है तो कभी वो मुश्किलों में पड़ जाती हैं. सोशल मीडिया यूज़र्स उन्हें ट्रोल करना शुरू कर देते हैं. हाल ही में एक बार फिर कंगना सुर्खियों में आ गई है. इस बार भी उनके चर्चा में आने की वजह उनका बयान भी है. जिसको लेकर कहा जा रहा है कि उन पर देशद्रोह का मुकदमा चलाया जाना चाहिए. वहीं, कंगना भी अपने बयान पर अड़ी हुई हैं और कह रही हैं कि उन्होंने ऐसा कुछ नहीं कहा है. लेकिन अगर कोई इस बात को साबित कर देता है तो वो पद्मश्री सम्मान लौटा देंगी. बता दें कि एक्ट्रेस को हाल ही में पद्मश्री अवॉर्ड से सम्मानित किया गया है. 

यह भी पढ़ें- Geetanjali Mishra और MD Desi का गाना Dunaali ने मचाया सोशल मीडिया पर शोर

दरअसल, कंगना ने टाइम्स नाउ नवभारत को इंटरव्यू दिया था. जिस दौरान उन्होंने कहा कि हमें भीख में आजादी मिली है. जिसके बाद से ये विवाद खड़ा हुआ. लोग उनकी खूब आलोचना कर रहे हैं. वहीं, राजनीतिक पार्टियों का कहना है कि उन पर देशद्रोह का मुकदमा चलाया जाना चाहिए. जिस पर कंगना ने लंबी-चौड़ी इंस्टाग्राम स्टोरी शेयर की है. जिसमे उन्होंने अपने बयान को सही बताते हुए कहा कि वह अपना पद्मश्री सम्मान वापस कर देंगी, अगर कोई उन्हें ये बताएगा कि 1947 में क्या हुआ था.

उन्होंने लिखा, 'सब कुछ बहुत स्पष्ट रूप से मेंशन है उसी इंटरव्यू में. 1857 में पहली लड़ाई हुई थी, स्वतंत्रता के लिए कई लोगों ने बलिदान दिया था जैसे सुभाष चंद्र बोस, रानी लक्ष्मी बाई और वीर सावरकर जी. 1857 मुझे पता है कौन-सी लड़ाई 1947 में लड़ी गई थी, मैं इससे अवेयर नहीं हूं.' 

यह भी पढ़ें-

अनुष्का की बॉडी में हुआ बड़ा बदलाव, खुद से नफरत करने की बात का किया खुलासा!

कंगना ने आगे लिखा, 'मैंने रानी लक्ष्मीबाई पर बनी फिल्म में काम किया है. 1857 की क्रांति पर काफी रिसर्च किया है. राष्ट्रवाद के साथ दक्षिणपंथ का भी उभार हुआ, लेकिन अचानक से ये गायब कैसे हो गया? और गांधी ने भगत सिंह को क्यों मरने दिया.. आखिर क्यों नेता बोस की हत्या हुई और उन्हें गांधी जी का सपोर्ट क्यों नहीं मिला? क्यों बंटवारे की रेखा अंग्रेज द्वारा खींची गई? आजादी की खुशियां मनाने के बजाय भारतीय एक दूसरे को मार रहे थे. मुझे इन सभी सवालों के जवाब चाहिए, जिसके लिए मुझे मदद की जरूरत है.'

एक्ट्रेस के इसी बयान को लेकर बवाल मच गया है. सोशल मीडिया पर यूज़र्स कंगना को खूब लताड़ लगा रहे हैं. वहीं, ऐसे में देखना ये होगा कि कंगना की जीत होती है या फिर उन्हें उनके बयान के मुताबिक, पद्मश्री लौटाना पड़ सकता है.

First Published : 13 Nov 2021, 06:06:03 PM

For all the Latest Entertainment News, Bollywood News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.