News Nation Logo

विवादित बयान के बाद अब बोले जावेद अख्तर- ‘दुनिया में सबसे सभ्य और सहिष्णु हैं हिंदू’

जावेद अख्तर (Javed Akhtar) ने हिंदू को दुनिया का सबसे 'सभ्य' और 'सहिष्णु' समुदाय बताया है. जावेद अख्तर ने सामना अखबार में लेख लिख कर अपनी बात स्पष्ट की है

News Nation Bureau | Edited By : Akanksha Tiwari | Updated on: 16 Sep 2021, 11:38:34 AM
javed akhtar

जावेद अख्तर (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • जावेद अख्तर बोले सबसे सभ्य और सहिष्णु हैं हिंदू
  • जावेद अख्तर अक्सर बयानों की वजह से चर्चा में आ जाते हैं
  • जावेद अख्तर ने 'सामना' में लिखा लेख

नई दिल्ली:

जाने-माने लेखक और गीतकार जावेद अख्तर (Javed Akhtar) हाल ही में स्वयंसेवक संघ (RSS), विश्व हिंदू परिषद (VHP) और बजरंग दल की तालिबान से तुलना करने पर विवादों में आए थे. वहीं अब जावेद अख्तर (Javed Akhtar) ने हिंदू को दुनिया का सबसे 'सभ्य' और 'सहिष्णु' समुदाय बताया है. जावेद अख्तर ने सामना अखबार में लेख लिख कर अपनी बात स्पष्ट की है. जावेद अख्तर ने इस बात पर हैरानी जताई कि उनके बारे में यह कहा गया है कि वे सिर्फ हिंदू कट्टरवाद पर बोलते हैं और इस्लामिक कट्टरता पर चुप रह जाते हैं. जावेद अख्तर ने यह भी कहा कि भारत, अफगानिस्तान कभी नहीं बन सकता.

यह भी पढ़ें: राज कुंद्रा के खिलाफ बयान देंगी शिल्पा शेट्टी, गवाहों की लिस्ट में नाम शामिल

शिवसेना (Shiv Sena) के मुखपत्र 'सामना' में जावेद अख्तर ने लिखा, 'एक इंटरव्यू में मैंने कहा था कि हिंदू दुनिया में सबसे सभ्य और सहिष्णु समुदाय है. मैंने इस बात पर भी बल दिया था कि भारत कभी भी अफगानिस्तान जैसा नहीं बन सकता क्योंकि भारतीय स्वभाव से चरमपंथी नहीं हैं और वो नरम विचारधारा वाले हैं. सामान्य रहना उनके डीएनए में है.'

यह भी पढ़ें: Birthday Special : 44 की हुईं गौरी प्रधान, ऐसे शुरू हुई थी हितेन तेजवानी संग लव स्टोरी

जावेद अख्तर ने लिखा, 'पिछले करीब 2 दशकों में मुस्लिम कट्टरपंथियों द्वारा मेरी जान को खतरा होने की वजह से मुझे पुलिस सुरक्षा दी गई और ऐसा 2 बार हुआ. पहली बार तब जब मैंने ट्रिपल तिलाक का विरोध किया था. 2010 में एक टीवी डिबेट में मैंने पर्दा के रिवाज के जोरदार बहस की थी. मौलाना इस वजह से मुझसे नाराज भी हुए थे. लखनऊ में मेरे पुतले जलाए गए और धमकियों भरे मेल आने लगे. मुझे फिर पुलिस सुरक्षा मुहैया करवाई गई. इसलिए यह इल्जाम बेबुनियाद है कि मैं मुस्लिम कट्टरतावाद के खिलाफ नहीं बोलता.' बता दें कि जावेद अख्तर (Javed Akhtar) अक्सर ही अपने ट्वीट्स और बयानों की वजह से विवादों में आ जाते हैं. सोशल मीडिया पर जावेद अख्तर को अक्सर ही ट्रोलिंग का सामना करना पड़ता है.

First Published : 16 Sep 2021, 11:07:56 AM

For all the Latest Entertainment News, Bollywood News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.