News Nation Logo
Banner

UPSEB: उत्तर प्रदेश में पाठ्यक्रम का हिस्सा बना गंगा संरक्षण

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (यूपीएसईबी) के छात्र अब हाई स्कूल और इंटरमीडिएट स्तर पर गंगा संरक्षण का विषय पढ़ेंगे.

IANS | Updated on: 14 Jan 2021, 04:14:49 PM
उत्तर प्रदेश में पाठ्यक्रम का हिस्सा बना गंगा संरक्षण

उत्तर प्रदेश में पाठ्यक्रम का हिस्सा बना गंगा संरक्षण (Photo Credit: न्यूज नेशन)

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (यूपीएसईबी) के छात्र अब हाई स्कूल और इंटरमीडिएट स्तर पर गंगा संरक्षण का विषय पढ़ेंगे. नमामि गंगे विभाग की पहल पर गंगा संरक्षण को एक विषय के रूप में शामिल किया गया है. इसके साथ ही ऐसा करने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य है. सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि गंगा संरक्षण और जल प्रदूषण की रोकथाम को पाठ्यक्रम में शामिल करने का प्रस्ताव तैयार किया गया है और यूपीएसईबी ने इसे हिंदी विशेषज्ञों की एक समिति के पास विचार करने के लिए भेजा है.

ये भी पढ़ें- पूर्व IAS अधिकारी ए.के. शर्मा ने राजनीति में मारी एंट्री, थामा BJP का दामन

समिति द्वारा प्रस्ताव को मंजूरी मिलते ही इस विषय को पाठ्यक्रम में शामिल कर लिया जाएगा. छात्र गंगा के पवित्र जल को प्रदूषित होने से बचाने और हिमालय से बंगाल की खाड़ी तक गंगा की यात्रा करने के तरीके सीखेंगे. इस विचार का मकसद युवाओं को गंगा सफाई अभियान से जोड़ने और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 'निर्मल और अविरल गंगा' की अवधारणा को बच्चों के बीच ले जाने के लिहाज से है. अधिकारियों ने कहा कि यह पहल न केवल बच्चों के ज्ञान को बढ़ाएगी, बल्कि गंगा की स्वच्छता को एक नई गति देगी.

ये भी पढ़ें- 'शाहजहां-औरंगजेब ने बनवाए मंदिर', NCERT के पाठ्यक्रम पर हुआ ये खुलासा

नमामि गंगे और राज्य सरकार के ग्रामीण जल आपूर्ति विभाग ने माध्यमिक शिक्षा विभाग को स्कूलों में गंगा प्रदूषण से संबंधित नए पाठ्यक्रम और गतिविधियों को लागू करने का निर्देश दिया है. साथ ही छात्रों के लिए गंगा स्वच्छता कार्यक्रम में भाग लेना अनिवार्य कर दिया गया है.

First Published : 14 Jan 2021, 04:14:49 PM

For all the Latest Education News, School News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.