News Nation Logo
Banner

योगी सरकार ने जारी किया स्कूलों को खोलने का आदेश, इन मानकों को करना होगा पूरा

उत्तर प्रदेश में सभी बोर्ड विद्यालयों को खोले जाने को लेकर शिक्षा विभाग ने दिशा निर्देश जारी किए हैं. मुख्य सचिव आराधना शुक्ला ने ऑनलाइन पढ़ाई शुरू करने को लेकर निर्देश जारी लिए हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 04 Jul 2020, 03:48:49 PM
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो (Photo Credit: फाइल फोटो)

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश में सभी बोर्ड विद्यालयों (Board School) को खोले जाने को लेकर शिक्षा विभाग ने दिशा निर्देश जारी किए हैं. मुख्य सचिव आराधना शुक्ला ने ऑनलाइन पढ़ाई शुरू करने को लेकर निर्देश जारी लिए हैं. 6 से 15 जुलाई के बीच सभी बोर्ड विद्यालयों को ऑनलाइन पढ़ाई (Online class) शुरू करनी होगी. इसके लिए शिक्षकों और अभिभावकों को ट्रेनिंग भी दी जाएगी. विद्यालय प्रबंधन और प्रधानाचार्य को कोविड-19 के सभी मानकों को पूरा करते टीचरों के बैठने की जगह को सेनेटाइज करना होगा. साथ ही थर्मल स्कैनिंग और हाथ धोने के लिए साबुन भी उपलब्ध कराने होंगे. स्कूल प्रबंधन अप्रैल से लॉकडाउन पीरियड तक बसों का किराया नहीं ले सकेंगे.

यह भी पढ़ें- कानपुर मुठभेड़ में शहीद हुए पुलिसकर्मियों का राजकीय सम्मान के साथ किया गया अंतिम संस्कार

सभी बोर्ड विद्यालयों को ऑनलाइन पढ़ाई शुरू करनी होगी

लॉकडाउन के चलते सभी स्कूल-कॉलेज बंद है. जिसके चलते छात्र-छात्राओं की पढ़ाई में काफी दिक्कत हो रही है. बच्चों की पढ़ाई में बाधा ना पड़े इसलिए यूपी बोर्ड के 10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए दूरदर्शन (Doordarshn) पर कक्षाओं का संचालन भी किया था. दूरदर्शन के स्वयंप्रभा चैनल पर सुबह 10 से 12 बजे तक कक्षाओं का प्रसारण किया जा रहा था. सुबह 30-30 मिनट की दो क्लास हाईस्कूल और 30-30 मिनट की दो क्लास इंटर की चलती थीं. वहीं इसके बाद शिक्षा विभाग ने सभी स्कूलों को निर्देश देते हुए कहा कि पूरी तरह से ऑनलाइन क्लास शुरू किया जाए. कोरोना से बचाव के पूरे नियमों का भी पालन करना होगा.

यह भी पढ़ें- प्रियंका गांधी का हमला, कहा- यूपी में जंगलराज, अब यहां पुलिस भी नहीं सुरक्षित

कोरोना से बचाव के लिए नियमों को करना होगा पालन

लॉकडाउन के कारण स्कूल की पढ़ाई प्रभावित न हो, इसके लिए शासन के निर्देशों पर यह पहल की गई थी. डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) के स्टूडियो में इनकी रिकॉर्डिंग की जा रही थी. वहीं दूसरी तरफ पहली से आठवीं क्लास के बच्चों का कोई एग्जाम नहीं होगा. उन्हें सीधे अगले क्लास में प्रमोट कर दिया जाएगा. 9वीं और 11वीं के छात्र-छात्राओं को स्कूल द्वारा किए गए एग्जाम और अन्य प्रैक्टिकल असाइनमेंट (Practical assignment) आदि के आधार पर आगे प्रमोट किया जाएगा. दसवीं तक के किसी भी छात्र-छात्रा (Students) का एग्जाम अखिल भारतीय स्तर पर नहीं होगा. सीबीएसई और आईसीएसई ने सभी परीक्षाओं को रद्द कर दिया है. सभी छात्रों को असाइमेंट के तहत मिले अंक के माध्यम से अगले क्लास में प्रोमोट किया जाएगा.

First Published : 04 Jul 2020, 03:30:03 PM

For all the Latest Education News, More News News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

LiveScore Live IPL 2021 Scores & Results

वीडियो

×