News Nation Logo
Banner

संचार विभाग ने सभी टेलीकॉम ऑपरेटर्स को सिक्योरिटी ऑडिट करने का आदेश दिया

सूत्रों के मुताबिक सभी ऑपरेटर्स को ऑडिट की रिपोर्ट अक्टूबर तक जमा करनी होगी. संचार विभाग ने टेलीकॉम ऑपरेटर्स को यह आदेश जारी किया है.

Written By : आमिर हुसैन | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 18 Aug 2020, 02:09:27 PM
Telecom

Telecom (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

संचार विभाग ने टेलीकम्यूनिकेशन के सभी ऑपरेटर्स को सिक्योरिटी ऑडिट करने का आदेश दिया है. सूत्रों के मुताबिक सभी ऑपरेटर्स को ऑडिट की रिपोर्ट अक्टूबर तक जमा करनी होगी.

यह भी पढ़ें: Elon Musk दुनिया के चौथे सबसे अमीर व्यक्ति बने, मुकेश अंबानी दो पायदान नीचे पहुंचे

स्पेक्ट्रम IBC के तहत संपत्ति के रूप में परिभाषित नहीं, तुषार मेहता का बयान
सोमवार को एजीआर मामले में हुई सुनवाई में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने संकेत दिया था कि स्पेक्ट्रम का उपयोग करने वाली संस्था को AGR बकाया का निर्वहन करना चाहिए. उन्होंने कहा कि स्पेक्ट्रम साझा करना स्पेक्ट्रम ट्रेडिंग से अलग मामला है. आईबीसी के तहत स्पेक्ट्रम की बिक्री पर कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय के विचारों से दूरसंचार मंत्रालय के विचार भिन्न है. सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के मुताबिक IBC के तहत स्पेक्ट्रम की बिक्री नहीं की जा सकती है.

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार जन औषधि केंद्र खोलने के लिए देती है पैसा, आप भी उठा सकते हैं फायदा, जानिए कैसे

जस्टिस अरुण मिश्रा ने सॉलिसिटर जनरल से सवाल पूछा कि आप अनिवार्य रूप से तर्क दे रहे हैं कि स्पेक्ट्रम उनके स्वामित्व में नहीं है? तुषार मेहता ने कहा कि मैंने हमेशा यह कहा है कि देश के लोग और सरकार इसकी असली मालिक हैं. तुषार मेहता ने कोर्ट में कहा कि अनुबंध के तहत टेलीकॉम कंपनियों को दिए गए स्पेक्ट्रम का उपयोग और स्वामित्व स्थानांतरित नहीं होता है. उन्होंने कहा कि स्पेक्ट्रम को IBC के तहत संपत्ति के रूप में परिभाषित नहीं किया गया है.

First Published : 18 Aug 2020, 02:00:24 PM

For all the Latest Business News, Telecom News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो