News Nation Logo
Banner

LIC New Jeevan Anand Policy: जीवन के साथ भी जीवन के बाद भी

LIC New Jeevan Anand Policy: बाजार के जानकारों का कहना है कि एलआईसी की इस पॉलिसी के जरिए बीमा धारकों को काफी फायदा होता है. पहला सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसमें आपको रिस्क कवर तो मिलता ही है.

Written By : बिजनेस डेस्क | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 24 Nov 2020, 01:27:40 PM
LIC New Jeevan Anand Policy

LIC New Jeevan Anand Policy (Photo Credit: newsnation)

नई दिल्ली :

LIC New Jeevan Anand Policy: देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनियों में शुमार भारतीय जीवन बीमा निगम यानि LIC ने आम लोगों के लिए कई बेहतरीन इंश्योरेंस प्रोडक्ट (Insurance Product) लॉन्च किए हुए हैं. एलआईसी परिस्थितियों को देखते हुए समय-समय पर लोगों के लिए सस्ती और बेहतरीन पॉलिसी लेकर आती रहती है. एलआईसी के ये आकर्षक प्लान आम लोगों के लिए काफी फायदेमंद साबित होते हैं.

यह भी पढ़ें: भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर अच्छी खबर, केयर रेटिंग्स ने जारी किया ये अनुमान

आज की इस रिपोर्ट में हम एलआईसी की एक ऐसी ही सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली पॉलिसी के बारे में बात करेंगे. जी हां हम बात करने जा रहे हैं न्यू जीवन आनंद पॉलिसी (LIC Jeevan Anand Policy) के बारे में...हम जानने की कोशिश करेंगे कि इस पॉलिसी के जरिए इंश्योरेंस कवर मिलने के साथ ही और क्या-क्या फायदे मिलते हैं.

पॉलिसी धारक की मौत के बाद भी मिलता इंश्योरेंस कंवर
बाजार के जानकारों का कहना है कि एलआईसी की इस पॉलिसी के जरिए बीमा धारकों को काफी फायदा होता है. पहला सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसमें आपको रिस्क कवर तो मिलता ही है. साथ ही दूसरा बड़ा फायदा इस पॉलिसी में निवेश करने पर टैक्स बचाने में भी मदद मिलती है. बता दें कि जीवन आनंद पॉलिसी (LIC's New Jeevan Anand Plan) में बीमित व्यक्ति का रिस्क कवर खत्म होने के बाद भी जारी रहता है. इस प्लान के तहत पॉलिसी अवधि के दौरान अगर पॉलिसी धारक की मौत हो जाती है तो भी व्यक्ति को इंश्योरेंस कवर का फायदा मिलता है.

यह भी पढ़ें: डेट सिक्योरिटीज के पब्लिक इश्यू में निवेश करने वालों को सेबी ने दी बड़ी सुविधा, UPI के जरिए भी कर सकेंगे निवेश

आपको बता दें कि अगर कोई पॉलिसी धारक 18 साल की उम्र में इस पॉलिसी से जुड़ता है और 1 लाख रुपये सम एश्योर्ड के लिए 35 साल का प्लान लेता हैं तो ऐसे में उसका सालाना प्रीमियम एक लाख सात हजार छह सौ रुपये के आस-पास बनेगा और उसे यह रकम 35 किश्त में जमा करनी होगी. पॉलिसी मैच्योर होने पर पॉलिसी धारक को साढ़े चार लाख रुपये के आस-पास मिल जाएंगे.

यह भी पढ़ें: सोना का कोरोना कनेक्शन: वैक्सीन की प्रगति से फिर फीकी पड़ी पीली धातु की चमक

आयकर की धारा 80सी के तहत मिलती है आयकर में छूट
जीवन आनंद पॉलिसी के तहत 18 साल से 50 साल तक की उम्र के लोग कवर हो सकते हैं. एलआईसी ने इस प्लान में शामिल होने के लिए न्यूनतम उम्र 18 साल तय की है. जीवन आनंद पॉलिसी की अवधि 15 साल से 35 साल है. ग्राहक ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन तरीके से भी इस पॉलिसी को खरीद सकते हैं. ग्राहक इस प्लान के प्रीमियम का भुगतान मासिक, तिमाही, छमाही और सालाना आधार पर भी कर सकते हैं. इसके अलावा पॉलिसी 3 साल पूरी हो जाने के बाद पॉलिसी के ऊपर कर्ज भी लिया जा सकता है. आखिर में सबसे महत्पपूर्ण बात कि इस पॉलिसी में बीमित व्यक्ति को आयकर की धारा 80सी के तहत इनकम टैक्स में छूट भी मिलती है.

First Published : 24 Nov 2020, 01:25:37 PM

For all the Latest Business News, Personal Finance News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.