News Nation Logo

रिलायंस इंडस्ट्रीज के जियो प्लेटफॉर्म्स (Jio Platforms) में 11,367 करोड़ का रुपये का निवेश करेगी KKR

जियो प्लेटफॉर्म्स (Jio Platforms) में इंवेस्टमेंट के लिए निवेशकों की लाइन लगी है और उसे पिछले 1 महीने में पांचवा बड़ा इंवेस्टमेंट मिला है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 22 May 2020, 09:13:10 AM
Mukesh Ambani

मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries Limited) और Jio Platforms Limited ने ऐलान किया है कि KKR जियो प्लेटफॉर्म्स (Jio Platforms) में 11,367 करोड़ का रुपये का निवेश करेगा. जियो प्लेटफॉर्म्स में इंवेस्टमेंट के लिए निवेशकों की लाइन लगी है और उसे पिछले 1 महीने में पांचवा बड़ा इंवेस्टमेंट मिला है. KKR ने 2.32 फीसदी इक्विटी के लिए जियो प्लेटफॉर्म्स में 11,367 करोड़ रु के निवेश की घोषणा की है. 

KKR ने जियो प्लेटफॉर्म्स की इक्विटी वैल्यू 4.91 लाख करोड़ रु आंकी है. करीब 1 महीना पहले फेसबुक के इंवेस्टमेंट के साथ, जियो प्लेटफॉर्म्स में निवेश का जो सिलसिला शुरू हुआ था वह थम नही रहा है. अब तक कुल पांच बड़े इंवेस्टर्स द्वारा  जियो प्लेटफॉर्म्स में कुल 78,562 करोड़ रु का निवेश हो चुका है. सबसे पहले फेसबुक निवेश ले कर आया. उसके बाद विश्व के अग्रणी निवेशक सिल्वर लेक, विस्टा इक्विटी पार्टनर्स एवं जनरल अंटलांटिक और अब KKR. एशिया में KKR का यह सबसे बड़ा निवेश है.

यह भी पढ़ें: Gold Silver Rate Today 22 May 2020: सोने और चांदी में गिरावट पर खरीदारी की सलाह दे रहे हैं एक्सपर्ट, देखें टॉप ट्रेडिंग कॉल्स

रिलायंस जियो इंफ़ोकॉम लिमिटेड के 38 करोड़ 80 लाख ग्राहक
जियो प्लेटफॉर्म्स, रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड की “फ़ुली ओन्ड सब्सिडियरी” है. ये एक “नेक्स्ट जनरेशन” टेक्नॉलोजी कंपनी है जो भारत को एक डिजिटल सोसायटी बनाने के काम में मदद कर रही है. इसके लिए जियो के प्रमुख डिजिटल एप, डिजिटल ईकोसिस्टम और भारत के नंबर 1 हाइ-स्पीड कनेक्टिविटी प्लेटफ़ॉर्म को एक-साथ लाने का काम कर रही है. रिलायंस जियो इंफ़ोकॉम लिमिटेड, जिसके 38 करोड़ 80 लाख ग्राहक हैं, वो जियो प्लेटफ़ॉर्म्स लिमिटेड की “होल्ली ओन्ड सब्सिडियरी” बनी रहेगी.

यह भी पढ़ें: RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ब्याज दरों को लेकर कर सकते हैं बड़ा ऐलान, 10 बजे होगी प्रेस कॉन्फ्रेंस

भारतीय डिजिटल इको सिस्टम में बदलाव की हमारी यात्रा का हमसफर बनेगा KKR: मुकेश अंबानी 
1976 में स्थापित, केकेआर के पास वैश्विक निजी उद्यमों में निवेश का लंबा अनुभव है. निजी इक्विटी और टेक्नोलॉजी ग्रोथ फंड के माध्यम से KKR ने बीएमसी सॉफ्टवेयर, बाइटडांस और गोजेक सहित कई प्रौद्योगिकी कंपनियों में सफलतापूर्वक निवेश किया है. फर्म ने तकनीकी कंपनियों में $ 30 बिलियन (कुल उद्यम मूल्य) से अधिक का निवेश किया है, और आज फर्म के टेक पोर्टफोलियो में प्रौद्योगिकी, मीडिया और दूरसंचार क्षेत्रों की 20 से अधिक कंपनियां हैं.

यह भी पढ़ें: म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) निवेशकों को बड़ा झटका, अब इन दो स्कीमों में नहीं लगा पाएंगे पैसा

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक, मुकेश अंबानी ने कहा कि “दुनिया के सबसे सम्मानित वित्तीय निवेशकों में से एक KKR का एक महत्वपूर्ण साझेदार के रूप में स्वागत करते हुए मुझे प्रसन्नता हो रही है. KKR भारतीय डिजिटल इको सिस्टम में बदलाव की हमारी यात्रा का हमसफर बनेगा. यह सभी भारतीयों के लिए लाभप्रद होगा. KKR, भारत में एक प्रमुख डिजिटल सोसाइटी के निर्माण के हमारे महत्वाकांक्षी लक्ष्य को साझा करता है. एक महत्वपूर्ण भागीदार होने का KKR का  ट्रैक रिकॉर्ड शानदार है. हम जियो को आगे बढ़ाने के लिए KKR के वैश्विक प्लेटफॉर्म, इंडस्ट्री की जानकारीयां  और परिचालन विशेषज्ञता का लाभ उठाने की उम्मीद करते हैं.

दिल्ली, मुंबई और चेन्नई समेत देश के बड़े शहरों के सोने-चांदी के आज के रेट जानने के लिए यहां क्लिक करें
 
केकेआर के सह-संस्थापक और Co-CEO हेनरी क्राविस ने कहा, "कुछ कंपनियों के पास ही देश के डिजिटल इको सिस्टम को बदलने की ऐसी क्षमता होती है जैसा की Jio Platforms भारत में और संभवतः दुनिया भर में कर रहा है. Jio Platforms एक सच्चा स्वदेशी प्लेटफॉर्म है जो भारत में डिजिटल क्रांति कर रहा है और इसके पास देश को प्रौद्योगिकी समाधान और सेवाएं देने की बेजोड़ क्षमता है. हम Jio Platforms की प्रभावशाली गति, विश्व स्तरीय इनोवेशन और मजबूत नेतृत्व टीम के कारण निवेश कर रहे हैं. इस निवेश को हम भारत और एशिया प्रशांत में अग्रणी प्रौद्योगिकी कंपनियों के समर्थन के लिए KKR की प्रतिबद्धता के रूप में देखते हैं.

For all the Latest Business News, Markets News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 22 May 2020, 07:30:12 AM