News Nation Logo
उत्तराखंड : बारिश के दौरान चारधाम यात्रा बड़ी चुनौती बनी, संवेदनशील क्षेत्रों में SDRF तैनात आंधी-बारिश को लेकर मौसम विभाग ने दिल्ली-NCR के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया राजस्थान : 11 जिलों में आज आंधी-बारिश का ऑरेंज अलर्ट, ओला गिरने की भी आशंका बिहार : पूर्णिया में त्रिपुरा से जम्मू जा रहा पाइप लदा ट्रक पलटने से 8 मजदूरों की मौत, 8 घायल पर्यटन बढ़ाने के लिए यूपी सरकार की नई पहल, आगरा मथुरा के बीच हेली टैक्सी सेवा जल्द महाराष्ट्र के पंढरपुर-मोहोल रोड पर भीषण सड़क हादसा, 6 लोगों की मौत- 3 की हालत गंभीर बारिश के कारण रोकी गई केदारनाथ धाम की यात्रा, जिला प्रशासन के सख्त निर्देश आंधी-बारिश के कारण दिल्ली एयरपोर्ट से 19 फ्लाइट्स डाइवर्ट
Banner

जानिए क्यों इंडिया रेटिंग्स ने कहा कि भारत की GDP अनुमान से कम बढ़ेगी

इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च (India Ratings) के अनुसार, कोविड 2.0 की गति और इसके पैमाने को देखते हुए यह नहीं लगता है कि वित्त वर्ष 22 में यह पहले के 10.1 प्रतिशत की दर पर बनी रह पाएगी.

IANS/News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 26 Jun 2021, 07:32:00 AM
India GDP 2021

India GDP 2021 (Photo Credit: NewsNation)

highlights

  • वित्त वर्ष 2022 में भारत की जीडीपी 9.6 प्रतिशत की दर से बढ़ने की उम्मीद
  • रेटिंग एजेंसी ने कहा, 1-20 जून के दौरान औसत दैनिक टीकाकरण 32 लाख था

नई दिल्ली :  

Coronavirus (Covid-19): इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च (India Ratings) ने कहा है कि वित्त वर्ष 2022 में भारत की जीडीपी 9.6 प्रतिशत की दर से बढ़ने की उम्मीद है, जो पहले के 10.1 प्रतिशत के अनुमान से कम है. रेटिंग एजेंसी के अनुसार, कोविड 2.0 की गति और इसके पैमाने को देखते हुए यह नहीं लगता है कि वित्त वर्ष 22 में यह पहले के 10.1 प्रतिशत की दर पर बनी रह पाएगी. अब एजेंसी को उम्मीद है कि वित्त वर्ष 2022 में सकल घरेलू उत्पाद की वृद्धि 9.6 प्रतिशत पर आ जाएगी. हालांकि, यह दर 31 दिसंबर, 2021 तक भारत द्वारा अपनी पूरी वयस्क आबादी का टीकाकरण करने पर निर्भर है.

यह भी पढ़ें: COVID के उपचार पर खर्च और मौत पर मिली अनुग्रह राशि को आयकर से छूट

टीकाकरण के लक्ष्य को हासिल करने में देरी होने पर जीडीपी में और गिरावट की आशंका
रेटिंग एजेंसी ने कहा, 1-20 जून के दौरान औसत दैनिक टीकाकरण 32 लाख था, जो 21 जून को बढ़कर 87.3 लाख हो गया. यदि टीकाकरण की गति 21 जून के स्तर के करीब बनी रही, तो भारत उक्त लक्ष्य को हासिल करने में सक्षम हो जाएगा. टीकाकरण के लक्ष्य को हासिल करने में तीन महीने तक की देरी हो जाती है, जो जीडीपी और नीचे गिरकर 9.1 प्रतिशत की दर पर आ जाएगी.

यह भी पढ़ें: 2021 की पहली तिमाही में अमेरिकी अर्थव्यवस्था 6.4 फीसदी की दर से बढ़ी

महामारी के चलते पहले से ही खपत में कमी
एजेंसी के मुताबिक, भारतीय अर्थव्यवस्था कोविड-19 महामारी के चलते पहले से ही खपत में कमी देख रही है. पीएफसीई वित्त वर्ष 2021 की पहली तिमाही में ही नकारात्मक 26.2 प्रतिशत तक गिर गया है. हालांकि इसके बाद से इसमें सुधार देखने को मिला है और अब उम्मीद है कि इस वित्त वर्ष में इसमें तेजी आएगी. हालांकि, कोरोना की मार का सामना यह भी कर रहा है.

यह भी पढ़ें: Reliance-RIL AGM 2021: नए एनर्जी बिजनेस में 75 हजार करोड़ रुपये का निवेश करेंगे, मुकेश अंबानी ने किया ऐलान

First Published : 26 Jun 2021, 07:32:00 AM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.