News Nation Logo
Banner
Banner

Reliance-RIL AGM 2021: नए एनर्जी बिजनेस में 75 हजार करोड़ रुपये का निवेश करेंगे, मुकेश अंबानी ने किया ऐलान

Reliance-RIL AGM 2021: मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने कहा कि रिलायंस जियो ने पूरे साल के दौरान 3.79 करोड़ नए ग्राहक जोड़े. यह 42.5 करोड़ ग्राहकों को सेवा देती है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 24 Jun 2021, 04:33:39 PM
Mukesh Ambani

Mukesh Ambani (Photo Credit: ANI )

highlights

  • रिलायंस इंडस्ट्रीज कुल रेवेन्यू 5.40 लाख करोड़ रुपये दर्ज किया गया
  • रिलायंस जियो ने पूरे साल के दौरान 3.79 करोड़ नए ग्राहक जोड़े

नई दिल्ली :

Reliance-RIL AGM 2021: रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) की आज यानी 24 जून 2021 को 44वीं सालाना आम बैठक (Annual General Meeting) में RIL के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने शेयरधारकों को संबोधित करते हुए कहा कि हमारा कारोबार और बिजनेस पिछले AGM के मुकाबले उम्मीद से बेहतर बढ़ा है, लेकिन हमें जिस चीज से ज्यादा खुशी मिली वो थी रिलायंस की मानव सेवा. उन्होंने कहा कि कोरोना के मुश्किल समय में रिलायंस ने यह काम किया है. मुकेश अंबानी ने कहा कि रिलायंस का प्रदर्शन लगातार आउटस्टैंडिंग रहा है. इसका कुल रेवेन्यू 5.40 लाख करोड़ रुपये रहा है. देश की बड़ी कंपनी के रूप में रिलायंस का देश की इकोनॉमी में योगदान अच्छा रहा है. मर्चेंडाइज एक्सपोर्ट में 6.8 पर्सेंट हिस्सा रहा है. 75 हजार नए रोजगार दिया है. मुकेश अंबानी ने कहा कि अगले तीन साल में नए एनर्जी बिजनेस में 75 हजार करोड़ रुपये का निवेश करेंगे. 

यह भी पढ़ें: मुकेश अंबानी ने किया सस्ते JioPhone Next स्मार्टफोन का ऐलान, जानिए कब से होगा उपलब्ध

उन्होंने कहा कि हमें विश्वास है कि पिछले एक साल में हमारे इस प्रयास ने हमारे संस्थापक चेयरमैन धीरूभाई अंबानी के प्रयास को आगे बढ़ाया है. इससे पहले कोरोना में अपनी जान गंवाने वाले रिलायंस के कर्मचारियों के लिए मुकेश अंबानी ने एक मिनट का मौन रखा. मुकेश अंबानी की करीब 5 मिनट की स्पीच के बाद ईशा और आकाश ने रिलायंस के शेयरधारकों को संबोधित किया. उन्होंने केयर एंड इंपैथी पॉलिसी के बारे में बताया. ईशा और आकाश अंबानी ने कहा कि कोरोना के दौरान राहत कार्यों को अपने मॉनीटरिंग के तहत रिलायंस से पूरा कराया.

पूरे साल के दौरान 3.79 करोड़ नए ग्राहक जोड़े

उन्होंने कहा कि रिलायंस जियो ने पूरे साल के दौरान 3.79 करोड़ नए ग्राहक जोड़े. यह 42.5 करोड़ ग्राहकों को सेवा देती है. यह देश के 22 सर्कल में से 19 सर्कल में रेवेन्यू के लिहाज से लीडर है. रिटेल शेयर धारकों ने एक साल में राइट इश्यू से 4 गुना का रिटर्न कमाया है. हमारा ऑयल टू केमिकल बिजनेस इकोनॉमी में गिरावट के कारण चुनौतियों से जूझता रहा. अभी भी ग्लोबल लेवल पर रिलायंस ही एकमात्र कंपनी है जो पूरी क्षमता के साथ अपना ऑपरेशन चला रही है और हर तिमाही में फायदा कमा रही है.

रिलायंस रिटेल लगातार संगठित सेक्टर में लीडरशिप की पोजीशन में है. इसका जो अगला कंपटीटर है, उसकी तुलना में यह 6 गुना बड़ी है. हम ग्रॉसरी से लेकर इलेक्ट्रॉनिक्स और अपैरल में लीडर हैं. मुकेश अंबानी ने कहा कि रिलायंस ने नेट डेट फ्री बैलेंसशीट को मार्च 2021 के पहले ही पूरा कर लिया. हमारा लक्ष्य मार्च 2021 तक का था, इसे दो साल पहले पूरा किया गया है. 5.4 लाख करोड़ रुपये का कंसोलिडेटेड रेवेन्यू जेनरेट किया है. 53,739 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ, जो पिछले साल से करीब 39 फीसदी ज्यादा है. 107 देशों में 1.45 लाख करोड़ रुपये का एक्सपोर्ट किया. वहीं, 75000 लोगों को रोजगार दिया.

यह भी पढ़ें: Reliance-RIL AGM 2021: इस साल शुरू होगा जियो इंस्टीट्यूट, नीता अंबानी ने किया ऐलान

पिछले फाइनेंशियल ईयर में 21,044 करोड़ रुपये की कस्टम ड्यूटी जमा की

रिलायंस ने पिछले फाइनेंशियल ईयर में 21,044 करोड़ रुपये की कस्टम ड्यूटी दी. 85,306 करोड़ रुपये का जीएसटी और वैट दिया. 3216 करोड़ रुपए का इनकम टैक्स दिया. 3,24,432 करोड़ रुपए की कैपिटल जुटाई. रिटेल इन्वेस्टर्स को राइट्स इश्यू से 1 साल में 4 गुना रिटर्न मिला है. साउदी अरामको के साथ स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप पर मुकेश अंबानी ने कहा कि सउदी अरामको के साथ इसी साल पार्टनरशिप की प्रक्रिया पूरी होने की उम्मीद है. रिलायंस के बोर्ड में बदलाव भी हुए हैं. वीई पी त्रिवेदी ने बोर्ड से रिटायरमेंट लिया और सउदी अरामको के चेयरमैन और किंगडम के गवर्नर यासिर-अल-रमायन रिलायंस इंडस्ट्रीज के बोर्ड में शामिल हुए हैं. किंगडम 430 अरब डॉलर का सॉवरेन वेल्थ फंड है.

क्लीन एनर्जी की दिशा में मुकेश अंबानी का बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि 2021 में RIL न्यू एनर्जी एंड मटेरियल बिजनेस के लिए 4 गीगा प्लांट लगाएगी. इसके लिए अगले तीन साल में 75 हजार करोड़ रुपए का निवेश किया जाएगा. 2030 तक रिलायंस 100 गीगावाट सोलर एनर्जी का उत्पादन करेगा। इसका उद्देश्य देश और वैश्विक स्तर पर ग्रीन एनर्जी को बढ़ावा देना है. 40 करोड़ सब्सक्राइबर्स के साथ जियो भारत का सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी है. वहीं चीन के बाद दूसरा ऐसा देश है जहां सबसे ज्यादा डाटा का इस्तेमाल हो रहा है. भारत को 2G मुक्त बनाने के लिए अल्टा-अफोर्डेबल स्मार्टफोन की जरूरत है. इसे देखते हुए जियो और गूगल ने जियोफोन नेक्स्ट लॉन्च कर दिया है. जियो 5G सॉल्यूशन के लिए रिलायंस गूगल क्लाउड का इस्तेमाल करेगी.

First Published : 24 Jun 2021, 04:32:36 PM

For all the Latest Business News, Markets News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.