News Nation Logo
Banner

खरीफ खाद्यान्न उत्पादन रिकॉर्ड 1,445.2 लाख टन रहने का अनुमान

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार 2019-20 के खरीफ सत्र के दौरान खाद्यान्न उत्पादन 1,433.8 लाख टन था. अभी देश में खरीफ फसलों की कटाई चल रही है. चावल मुख्य खरीफ फसल है.

Bhasha | Updated on: 16 Oct 2020, 02:38:51 PM
Foodgrain

खाद्यान्न (Foodgrain) (Photo Credit: IANS )

नई दिल्ली:

केंद्रीय कृषि व किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने शुक्रवार को कहा है कि कृषि क्षेत्र पर कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Epidemic) का अधिक असर नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि 2020-21 के खरीफ सत्र में 1,445.2 लाख टन खाद्यान्न (Foodgrain) का उत्पादन होने का अनुमान है. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार 2019-20 के खरीफ सत्र के दौरान खाद्यान्न उत्पादन 1,433.8 लाख टन था. अभी देश में खरीफ फसलों की कटाई चल रही है. चावल मुख्य खरीफ फसल है.

यह भी पढ़ें: ICICI Bank के कस्टमर ध्यान दें, इस सर्विस में आ रही है बड़ी दिक्कत, पढ़ें पूरी खबर

इस साल खरीफ फसलों की बुवाई में रिकॉर्ड 4.51 फीसदी की बढ़ोतरी
तोमर ने उद्योग संगठन सीआईआई द्वारा आयोजित एक डिजिटल सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि खाद्यान्न उत्पादन पिछले साल की तुलना में बेहतर होगा. शुरुआती अनुमानों के अनुसार, 2020-21 खरीफ सीजन में खाद्यान्न उत्पादन 1,445.2 लाख टन होने का अनुमान है. उन्होंने कहा कि गन्ने और कपास जैसी नकदी फसलों का उत्पादन भी अच्छा होने की उम्मीद है. उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के बावजूद इस वर्ष खरीफ फसलों की बुवाई क्षेत्र में रिकॉर्ड 4.51 प्रतिशत की वृद्धि हुई है और यह 1,121.75 लाख हेक्टेयर हो गया है. 

यह भी पढ़ें: कमोडिटी वायदा बाजार में ट्रेडिंग शुरू करने जा रहे हैं तो पहले यह खबर जरूर पढ़ लें

तोमर ने कहा कि कृषि भारतीय अर्थव्यवस्था का आधार है. वित्त वर्ष 2020-21 की पहली तिमाही के दौरान भी यह क्षेत्र 3.4 प्रतिशत बढ़ा है. नये कृषि कानूनों पर, मंत्री ने कहा कि किसानों को सुधारों के बारे में "गुमराह" किया जा रहा है. उन्होंने दोहराया कि न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद के साथ-साथ मंडियां देश भर में काम करती रहेंगी.

First Published : 16 Oct 2020, 02:37:10 PM

For all the Latest Business News, Commodity News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो