News Nation Logo

चार्जिंग के झंझट से मिलेगी मुक्ति, Maruti और Toyota मिलकर बना रहे हैं सेल्फ चार्जिंग Hybrid कार

टाटा मोटर्स (Tata Motors), महिंद्रा (Mahindra) और हुंडई (Hyundai) की तुलना में मारूति सुजूकी की इलेक्ट्रिक वाहनों की तैयारी काफी धीमी है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 23 Aug 2021, 03:04:09 PM
Maruti Suzuki-Toyota

Maruti Suzuki-Toyota (Photo Credit: NewsNation)

highlights

  • टोयोटा के साथ मिलकर मारूति सुजूकी एक सेल्फ चार्जिंग हाईब्रिड कार बना रही है
  • मारूति सुजूकी की Toyota के साथ मिलकर इलेक्ट्रिक वाहनों को लाने की तैयारी

नई दिल्ली :

इलेक्ट्रिक कार (Electric Car) लेकर अगर आप कहीं जा रहे हैं तो अब आपको रास्ते में कार को चार्ज करने की झंझट से छुटकारा मिलने जा रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मारूति सुजूकी (Maruti Suzuki) एक ऐसी हाइब्रिड इलेक्ट्रिक कार (HEV) को तैयार कर रही है जो कि सड़क पर चलने के दौरान खुद ही चार्ज हो जाएगी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस कार को चार्जिंग स्टेशन से चार्ज करने की जरूरत नहीं होगी. गौरतलब है कि टाटा मोटर्स (Tata Motors), महिंद्रा (Mahindra) और  हुंडई (Hyundai) की तुलना में मारूति सुजूकी की इलेक्ट्रिक वाहनों की तैयारी काफी धीमी है.

यह भी पढ़ें: इस इलेक्ट्रिक स्कूटर से सिर्फ 20 पैसे में कर सकेंगे 1 किलोमीटर का सफर, जानिए कब हो रहा है लॉन्च

वहीं दूसरी ओर अब मारूति सुजूकी टोयोटा (Toyota) के साथ मिलकर इलेक्ट्रिक वाहनों को लाने की तैयारी कर रही है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मारूति सुजूकी का कहना है कि कंपनी टोयोटा के साथ मिलकर एक सेल्फ चार्जिंग हाईब्रिड कार बना रही है. मारूति सुजूकी से मिली जानकारी के मुताबिक कंपनी टोयोटा के साथ मिलकर अगले महीने से इलेक्ट्रिक वाहनों की ज्वाइंट टेस्टिंग कर रही है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कंपनी ने ग्राहकों से यूसेज पैटर्न्स (Usage Patterns) पर फीडबैक मांगा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कंपनी का कहना है कि जब तक देश में इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर अच्छी तरह से विकसित नहीं हो जाता है तब तक सेल्फ चार्जिंग तकनीक एक बेहतरीन विकल्प साबित हो सकती है.

यह भी पढ़ें: Mahindra की इन SUV पर मिल रहा है बंपर डिस्काउंट, जानिए क्या है ऑफर

आपको बता दें कि किसी सेल्फ चार्जिंग कारों में व्हील रोटेशन के अतिरिक्त एक इंटरनल Combustion Engine से भी बैटरियों को एनर्जी मिलती है और यह पावर का एक अतिरिक्त सोर्स भी होती है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कंपनी का कहना है कि यह एक अच्छी टेक्नोलॉजी है जिसपर अगले 10 से 15 साल तक ध्यान केंद्रित रहेगा.

यह भी पढ़ें: Honda U-Go: एक बार चार्ज करने पर मिलती है 130 किलोमीटर की रेंज

First Published : 23 Aug 2021, 03:04:09 PM

For all the Latest Auto News, Cars News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.