News Nation Logo

जानिए क्यों जांच के दायरे में आई अमेरिकी इलेक्ट्रिक कार कंपनी Tesla

द वर्ज ने गुरुवार को अपनी रिपोर्ट में बताया कि मिशिगन पुलिस ने कहा है कि दुर्घटना के समय ड्राइवर ऑटोपायलट का उपयोग कर रहा था, जो कि टेस्ला का एडवांस ड्राइवर-असिस्टेंस सिस्टम (एडीएएस) है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 20 Mar 2021, 07:51:44 AM
Tesla Model S Electric Sedan

Tesla Model S Electric Sedan (Photo Credit: IANS )

highlights

  • Tesla की कार जब दुर्घटनाग्रस्त हुई, तब उसमें ऑटोपायलट मोड का उपयोग किया गया था
  • हाल के हफ्तों में इस तरह से टेस्ला वाहन से जुड़ी यह तीसरी दुर्घटना है
  • टेस्ला मॉडल वाई के ड्राइवर ने मिशिगन के पास एक राज्य सैनिक की क्रूजर में टक्कर मार दी

नई दिल्ली:

एलन मस्क (Elon Musk) के नेतृत्व वाली टेस्ला (Tesla) कंपनी एक वाहन दुर्घटना को लेकर एक बार फिर अमेरिका में जांच के दायरे में आ गई है. कंपनी की कार जब दुर्घटनाग्रस्त हुई, तब उसमें ऑटोपायलट मोड का उपयोग किया गया था. हाल के हफ्तों में इस तरह से टेस्ला वाहन से जुड़ी यह तीसरी दुर्घटना है. टेस्ला मॉडल वाई के ड्राइवर ने मिशिगन के पास एक राज्य सैनिक की क्रूजर में टक्कर मार दी. अमेरिकी राष्ट्रीय राजमार्ग यातायात सुरक्षा प्रशासन (एनएचटीएसए) दुर्घटना के बाद जांच में जुट गया है. द वर्ज ने गुरुवार को अपनी रिपोर्ट में बताया कि मिशिगन पुलिस ने कहा है कि दुर्घटना के समय ड्राइवर ऑटोपायलट का उपयोग कर रहा था, जो कि टेस्ला का एडवांस ड्राइवर-असिस्टेंस सिस्टम (एडीएएस) है. एनएचटीएसए के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि एनएचटीएसए मिशिगन में लैंसिंग के पास हुई घटना से अवगत है, जिसमें टेस्ला वाहन शामिल है. 

यह भी पढ़ें: सिर्फ 4 सेकेंड में शून्य से 100 किलोमीटर की रफ्तार पकड़ सकती है BMW की यह कार

दुर्घटना की जांच के लिए एक विशेष क्रैश जांच दल बनाया

स्वचालित तकनीकों सहित सभी मोटर वाहनों और उपकरणों की सुरक्षा पर एनएचटीएसए के सतर्क निरीक्षण और मजबूत अथॉरिटी के साथ, हमने दुर्घटना की जांच के लिए एक विशेष क्रैश जांच दल लॉन्च किया है. अन्य दो दुर्घटनाएं ह्यूस्टन और डेट्रायट में हुई हैं, जिनकी जांच की जा रही है. कम से कम दो घातक दुर्घटनाएं हुई हैं, जिसमें एक टेस्ला के मालिक ने एक खड़े वाहन में टक्कर मार दी थी. हालांकि इलेक्ट्रिक कार निर्माता ने अभी तक इस मुद्दे को किसी भी सार्थक तरीके से संबोधित नहीं किया गया है. कंपनी ने हाल ही में ऑटोपायलट के एक बीटा वर्जन को 'फुल सेल्फ ड्राइविंग' कहा, जो कंपनी के अनुसार, सुरक्षित ड्राइविंग की दिशा में अगला कदम है. पिछले साल, अमेरिकी संघीय एजेंसियों ने उन परिस्थितियों की जांच की, जिनके कारण मार्च में टेस्ला वाहनों से एक घातक टक्कर हुई.

यह भी पढ़ें: Jeep India ने लॉन्च किया SUV Wrangler, जानिए क्या है कीमत

एजेंसियां वाशिंगटन मुख्यालय वाले राष्ट्रीय परिवहन सुरक्षा बोर्ड (एनटीएसबी) और एनएचटीएसए के साथ मिलकर एक और दुर्घटना की जांच कर रही हैं। यह जांच फ्लोरिडा के डेलरे बीच के पास एक सेमी-ट्रक और टेस्ला मॉडल 3 के बीच हुई भीषण टक्कर से संबंधित है, जिसमें 50 वर्षीय जेरेमी बेरेन बैनर की मौत हो गई थी. यह दुर्घटना एनटीएसबी के उस बयान के करीब दो साल बाद सामने आई, जिसमें कहा गया था कि ऑटोपायलट सिस्टम ने 2016 की दुर्घटना में एक प्रमुख भूमिका निभाई, जिसमें फ्लोरिडा में टेस्ला चालक जोशुआ ब्राउन की मौत हो गई. इसके अलावा एनएचटीएसए ने 13 अन्य टेस्ला क्रैश की जांच की है, जिसमें एजेंसी का मानना है कि दुर्घटना से जुड़ी कार का ऑटोपायलट काम कर रहा था। एजेंसी ने हालांकि अभी कोई नियम या दिशानिर्देश जारी नहीं किए हैं. दक्षिण कोरिया की परिवहन सुरक्षा एजेंसी ने भी टेस्ला इलेक्ट्रिक वाहन के साथ हुई एक घातक दुर्घटना के कारणों की प्रारंभिक जांच शुरू की है. इनपुट आईएएनएस

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 20 Mar 2021, 07:51:44 AM

For all the Latest Auto News, Cars News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो