News Nation Logo
बाबुल सुप्रियो का संसद की सदस्यता से इस्तीफा मंजूर दिल्ली के सदर बाजार में आज आतंकी हमलों को लेकर मॉक ड्रिल की गई T20 World Cup: साउथ अफ्रीका ने वेस्टइंडीज को 8 विकेट से हराया चाहें तो गोली मरवा सकते हैं और कुछ नहीं कर सकते: लालू प्रसाद यादव के बयान पर नीतीश कुमार आर्यन खान की जमानत पर बॉम्बे हाईकोर्ट में कल फिर होगी सुनवाई बिजनेस के सिलसिले में उनसे बातचीत होती थी: हैनिक बाफना प्रभाकर ने मेरा नाम क्यों लिया मैं नहीं जानता: हैनिक बाफना भारत के पूर्व अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी आर्यन खान की ओर से कर रहे हैं दलील पेश प्रभाकर को अच्छी तरह जानता हूं: हैनिक बाफना मेरे खिलाफ कोई सुबूत नहीं: हैनिक बाफना अगर सुबूत है तो प्रभाकर लाकर दिखाएं: हैनिक बाफना टीम इंडिया के मुख्य कोच पद के लिए राहुल द्रविड़ ने किया आवेदन वीवीएस लक्ष्मण के NCA में पदभार संभालने की संभावना आर्यन खान के वकील ने HC में दाखिल किया हलफनामा HC में आर्यन खान की जमानत याचिका पर सुनवाई शुरू पश्चिम बंगाल में तंबाकू और निकोटिन वाले गुटखा-पान मसाला एक साल के लिए बैन कोवैक्सीन को मिल सकती है अंतरराष्ट्रीय मंजूरी, डब्ल्यूएचओ की बैठक आज उमर मलिक के बेटे पर यूपी सरकार कसेगी शिकंजा, एडमिशन के नाम पर रेस का आरोप पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह कल प्रेसवार्ता कर नई पार्टी का ऐलान कर सकते हैं अरविंद केजरीवाल का ऐलान - यूपी में सरकार बनी तो मुफ्त में अयोध्या की तीर्थ यात्रा कराएंगे

जर्मनी से भारत में इंपोर्ट बढ़ाने के लिए इलेक्ट्रिक वाहन तैयार: रिपोर्ट

वर्तमान में भारत और जर्मनी का लक्ष्य प्रत्येक पक्ष पर लाभ उठाकर साझेदारी करना और अगली पीढ़ी की प्रौद्योगिकियों पर सहयोग को तेज करना है, जिसमें इंटरनेट ऑफ थिंग्स भी शामिल है.

IANS | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 03 Jul 2021, 04:10:25 PM
इलेक्ट्रिक वाहन (Electric Vehicles)

इलेक्ट्रिक वाहन (Electric Vehicles) (Photo Credit: IANS )

highlights

  • अप्रैल 2020-जनवरी 2021 की अवधि के लिए जर्मनी से भारत में कुल आयात में 3.56 प्रतिशत की वृद्धि
  • जर्मनी इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए 11,420 डॉलर (9,480 यूरो) की सब्सिडी देता है

नई दिल्ली :

ग्रांट थॉर्नटन भारत-फिक्की की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric Vehicles) के उपयोग में वृद्धि से जर्मनी से भारत में आयात में वृद्धि होगी. वर्तमान में, भारत और जर्मनी का लक्ष्य प्रत्येक पक्ष पर लाभ उठाकर साझेदारी करना और अगली पीढ़ी की प्रौद्योगिकियों पर सहयोग को तेज करना है, जिसमें इंटरनेट ऑफ थिंग्स भी शामिल है. रिपोर्ट में कहा गया है कि अप्रैल 2020-जनवरी 2021 की अवधि के लिए जर्मनी से भारत में कुल आयात में 3.56 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. जर्मनी इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए 11,420 डॉलर (9,480 यूरो) की सब्सिडी देता है, जिसमें से 4,192 डॉलर (3,480 यूरो) की कटौती ओईएम द्वारा की जाती है. देशों के बीच आर्थिक और व्यापारिक संबंध मजबूत हैं, जर्मनी यूरोप में भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार है.

यह भी पढ़ें: कार लोन लेने की है योजना, यहां जानिए कौन सा बैंक दे रहा है सस्ता Auto लोन

"भारत और जर्मनी का लक्ष्य प्रत्येक पक्ष पर लाभ उठाकर साझेदारी करना और 'इंटरनेट ऑफ थिंग्स' (आईओटी) सहित अगली पीढ़ी की प्रौद्योगिकियों पर सहयोग को तेज करना है. रिपोर्ट के अनुसार, देश में 2026 तक वैश्विक ऑटो घटकों के व्यापार में अपनी हिस्सेदारी को 4-5 प्रतिशत तक बढ़ाने की क्षमता है, जो निर्यात वृद्धि और उद्योग द्वारा 'आत्मनिर्भर' पहल के तहत किए जा रहे आयात प्रतिस्थापन पहलों पर आधारित है. 2018 में, भारतीय ऑटोमोबाइल बाजार ने जर्मनी को दुनिया का चौथा सबसे बड़ा बाजार बना दिया था। जिसने भारत के साथ मजबूत व्यापार स्थापित किया.

यह भी पढ़ें: कार लवर्स को खूब पसंद आई Hyundai की गाड़ियां, 100 फीसदी से ज्यादा बढ़ी बिक्री

जर्मनी विद्युतीकरण की दिशा में मजबूती से आगे बढ़ रहा है, लेकिन भारतीय ईवी उद्योग एक बढ़ता हुआ उद्योग है और ई-मोबिलिटी की ओर बढ़ना भारत सरकार (जीओआई) की प्राथमिकता है. "भारत लक्षित निर्यात विस्तार और व्यापार विस्तार के लिए आयात प्रतिस्थापन कार्यक्रम से लाभान्वित हो सकता है. भारतीय इलेक्ट्रिक वाहन बाजार में प्रवेश करने वाले जर्मन मूल उपकरण निमार्ताओं (ओईएम) में उछाल आया है.

First Published : 03 Jul 2021, 04:10:25 PM

For all the Latest Auto News, Cars News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.