News Nation Logo

BREAKING

Banner

Delhi Election Result 2020: क्या मतगणना से पहले ही BJP ने स्वीकारी पराजय? लगे ये पोस्टर

वोटों की गिनती से पहले ही बीजेपी के कार्यालय में लगे पोस्टर कुछ ऐसे पोस्टर लगे हैं जिससे पार्टी की हार स्वीकारने की बात सामने आ रही है. पोस्टर पर लिखा है विजय से हम अहंकारी नहीं होते और पराजय से हम निराश नहीं होते.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 11 Feb 2020, 10:18:09 AM
क्या मतगणना से पहले ही BJP ने स्वीकारी पराजय? लगे ये पोस्टर

क्या मतगणना से पहले ही BJP ने स्वीकारी पराजय? लगे ये पोस्टर (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए वोटों की गिनती शुरू होते ही रूझानों में आम आदमी पार्टी की सरकार बनती दिखाई दे रही है. इस बीच भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के दिल्ली प्रदेश कार्यालय पर लगा एक पोस्टर चर्चा का विषय बना हुआ है. इस पोस्टर के सामने आने के बाद अटकलें लगनी लगी है कि क्या बीजेपी वोटों की गिनती से पहले ही अपनी पराजय को स्वीकार कर चुकी है?

दिल्ली बीजेपी के पार्टी कार्यालय के बाहर एक पोस्टर काफी वायरल हो रहा है. इस पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की फोटो है और लिखा है- 'विजय से हम अहंकारी नहीं होते और पराजय से हम निराश नहीं होते.' बताया जा रहा है कि इस पोस्टर को बीजेपी की दिल्ली यूनिट ने ही लगाया है. हालांकि, वोटों की गिनती से पहले बीजेपी नेताओं ने जीत का दावा किया है.

यह भी पढ़ेंः Delhi Assembly Election Results: शुरुआती रूझानों के बाद आप कार्यालय में जश्न शुरू

बीजेपी ने किया था 55 सीट जीतने का दावा
दूसरी तरफ बीजेपी के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि वह चुनाव परिणाम को लेकर बिल्कुल नर्वस नहीं हैं. उन्होंने कहा कि मुझे विश्वास है कि बीजेपी के लिए नतीजे काफी खुश करने वाले होंगे.

शुरुआती रुझानों में ही आम आदमी पार्टी को बहुमत हासिल होती दिख रही है. सबसे पहले पोस्‍टल बैलेट (Postal Ballet) की काउंटिंग हो रही है. 8 फरवरी को दिल्‍ली में विधानसभा चुनाव कराए गए थे. चुनाव में आम आदमी पार्टी, बीजेपी और कांग्रेस ने पूरा जोर लगाया था. देखना यह है कि जनता किस पर अपना विश्‍वास जताती है. आम आदमी पार्टी (Aam Admi Party) ने मुख्‍यमंत्री पद के लिए अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के चेहरे को आगे किया, तो बीजेपी ने किसी को चेहरा नहीं बनाया और पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) व अमित शाह (Amit Shah) के चेहरे पर चुनाव लड़ा.

कांग्रेस की ओर से भी मुख्‍यमंत्री पद के लिए कोई चेहरा आगे नहीं किया गया था. 2015 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को 67 सीटें हासिल हुई थीं तो बीजेपी को केवल 3 सीटों से संतोष करना पड़ा था. उस समय कांग्रेस का खाता भी नहीं खुल पाया था. इस बार के एग्‍जिट पोल में भी आम आदमी पार्टी को भारी बहुमत हासिल होने की भविष्‍यवाणी की गई है, जबकि कांग्रेस के इस बार भी खाता न खुलने की बात कही जा रही है.

First Published : 11 Feb 2020, 09:55:05 AM

For all the Latest Elections News, Assembly Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो