News Nation Logo
Banner

मुक्के मार-मारकर महिला ने भगा दिया तेंदुए को, ये थी वजह

एक महिला ने घूंसे मार-मारकर तेंदुए को भगा दिया. गांव के लोग महिला की जमकर तारीफ कर रहे हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Apoorv Srivastava | Updated on: 29 Aug 2021, 06:00:44 PM
LEPORD

leopard (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • तेंदुए का वजह करीब 65 पौंड यानी लगभग 30 किलोग्राम था 
  • बच्चे को  लॉस एंजिल्स के अस्पताल में कराया भर्ती
  • फिश एंड वाइल्ड लाइफ डिपार्टमेंट के अधिकारी ने दी जानकारी

नई दिल्ली :

कहा जाता है मां अपने बच्चे के लिए कुछ भी कर सकती है. ये बात आज भी उतनी ही सच है जितनी दशकों पहले थी. एक तेंदुए ने जब 5 साल के बच्चे को पकड़ लिया तो उसकी मां अपनी जिंदगी और मौत को भूलकर तेंदुए से भिड़ गए. महिला ने तेंदुए को मुक्के मार-मारकर भगा दिया. घटना है अमेरिका के कैलिफोर्निया की. यहां पर अपने घर के पास कुछ बच्चे खेल रहे थे. तभी एक तेंदुआ आ गया. वह बच्चे को घसीटकर ले जाने लगा. इस पर गांव वाले चिल्लाने लगे. आवाज सुनकर बच्चे की मां घर से बाहर आई और देखा कि तेंदुआ बच्चे को करीब 45 गज ही ले जा पाया था. बच्चे की मां तुरंत उसके पास पहुंच गई और तेंदुए से भिड़ गई. महिला ने खींचकर तेंदुए को मुक्के मारने शुरू कर दिए. महिला ने इतनी तेज घूंसे मारे की तेंदुए ने बच्चे को छोड़ दिया और भागने लगा. 

इसे भी पढ़ेंः टॉयलेट में खोला कैफे, दूर-दूर से लोग आते हैं खाने

मीडिया में छपी रिपोर्ट के अनुसार कैलिफोर्निया के फिश एंड वाइल्ड लाइफ डिपार्टमेंट के अधिकारी ने बताया कि बच्चे के सिर और ऊपरी भाग में चोट आई हैं. उसे लॉस एंजिल्स के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है. फिलहाल बच्चे की हालत स्थिर बताई जा रही है.  अधिकारी ने बताया कि बच्चे के परिजनों की सूचना पर तेंदुए की तलाश की गई. वह पास ही के क्षेत्र में पाया गया. उसका व्यवहार बहुत ही आक्रामक था और अधिकारियों को भय था कि यह बाद में भी लोगों पर हमला कर सकता है. इसलिए अधिकारियों ने तेंदुए को मारने का फैसला किया और गोली मारकर तेंदुए को ढेर कर दिया. मारने के बाद तेंदुए का डीएनए टेस्ट भी किया गया, जिससे यह कंफर्म हुआ कि बच्चे पर हमला करने वाला तेंदुआ यही था. तेंदुए का वजह करीब 65 पौंड यानी लगभग 30 किलोग्राम है. हालांकि इसी क्षेत्र में अधिकारियों को एक और तेंदुआ मिला है. हालांकि उसे ट्रेंकुलाइज्ड करके जिंदा पकड़ा गया है. जांच में यह साबित होने के बाद की इस तेंदुए का किसी हमले में कोई इन्वाल्वमेंट नहीं है, उसे जंगल में जिंदा छोड़ दिया गया. वहीं, तेंदुए के मारे जाने के बाद गांव में लोग महिला की बहादुरी की तारीफ कर रहे हैं. अधिकारियों का भी कहना है कि इस घटना की सच्ची हीरो बच्चे की मां है. 

First Published : 29 Aug 2021, 05:57:13 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.