News Nation Logo
Banner

सेक्स वर्करों की सूची तैयार कर रहा तालिबान, खंगाल रहा एडल्ट एवं पोर्न साइट  

ऐसा अनुमान है कि तालिबान सेक्स वर्करों को मृत्युदंड देने की घोषणा कर सकता है.

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Singh | Updated on: 03 Sep 2021, 10:05:06 PM
taliban

तालिबान लड़ाके (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • तालिबान अफगानिस्तान में तैयार करवा रहा है सेक्स वर्करों की सूची  
  • तालिबानी दस्ता सेक्स वर्करों को पहचानने के लिए पोर्न साइटों को सर्च कर रहा है
  • पिछले दौर से महिलाओं के लिए तालिबान बना  है आतंक का पर्याय

नई दिल्ली:

अमेरिकी सैनिकों के वापस जाने के बाद अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा है. तालिबान ने काबुल पर कब्जा करके समूचे अफगानिस्तान पर अपना नियंत्रण मजबूत करने पर जुटा है. दूसरे देशों के लोगों के साथ अफगानिस्तान के नागरिक भी देश छोड़ रहे हैं.  एक खबर के अनुसार सत्तारूढ़ तालिबान अफगानिस्तान में सेक्स वर्करों की सूची तैयार करवा रहा है. ऐसा अनुमान है कि तालिबान सेक्स वर्करों को मृत्युदंड देने की घोषणा कर सकता है. तालिबान का दस्ता पोर्न साइटों को सर्च कर रहा है जिस पर कुछ अफगानी महिलाएं विदेशी लोगों के साथ सेक्सुअल एक्ट में संलग्न हैं. 

इस संबंध में दैनिक नवभारत टाइम्स की खबर ने 'द सन' को कोट करते हुए खबर दिया है. खबर के अनुसार तालिबानी आतंकी समूह ऐसी औरतों के पहचान का अभियान चला रहा है. तालिबान के पिछले कार्यकाल 1996-2001 के दौरान कई महिलाओं को सार्वजनिक रूप से फांसी पर लटका दिया गया था. सूत्र के हवाले से रिपोर्ट कहती है कि तालिबान लड़ाके पोर्न साइटों को  सर्च कर रहे हैं जिससे वे सेक्स वर्करों को पहचान कर उन्हें मार सकें या सेक्स स्लेव बना सकें.

यह भी पढ़ें:पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई बोले- पंजशीर में जंग शुरू होना चिंताजनक, क्योंकि...

अपने पिछले दौर में तालिबान ने बर्बरता से महिलाओं की हत्या की थी. इस बात की आशंका है कि तालिबान के महिलाओं के लिए बड़े खतरे के रूप में उभर कर आया है. पिछले 20 वर्षों में तालिबान ऐसी औरतों की हत्या करता रहा है, जो सेक्स वर्कर रही हैं या जिनका विवाहेत्तर संबंध देखा गया. 

तालिबान जहां अफगानिस्तान में आतंक का  खेल खेल रहा है वहीं अफगानिस्तान के पंजशीर प्रांत में तालिबान लड़ाकों और अहमद मसूद के नेतृत्व वाले प्रतिरोध मोर्चे की सेनाओं के बीच जंग जारी है. टोलो न्यूज ने बताया कि तालिबान ने पुष्टि की कि लड़ाई दो दिनों से चल रही है और दोनों पक्षों के कई लोग हताहत हुए हैं. तालिबान ने पंजशीर में आगे बढ़ने का दावा किया है. तालिबान का कहना है कि उसने विपक्षी बलों के 11 चौकियों के साथ शुतुल जिले के केंद्र पर कब्जा कर लिया है. इस बीच अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई (Former president Hamid Karzai) ने कहा कि पंजशीर में जंग शुरू होना काफी चिंताजनक है. लेकिन असली सवाल यह है कि क्या तालिबानी राज में वहां की महिलाओं के साथ फिर वहीं बर्बरता का राज लौट आया है.

First Published : 03 Sep 2021, 10:05:06 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.