News Nation Logo
Banner

तालिबान ने अमेरिका से कुशल अफगानों को नहीं निकालने को कहा

तालिबान ने अफगान नागरिकों के एयरपोर्ट जाने पर पूर्ण रुप से फिलहाल के लिए पांबदी लगा दी है. इसके अलावा जबीहुल्ला मुजाहिद ने अमेरिका से कुशल अफगानों को वहां से नहीं निकालने को कहा है.

News Nation Bureau | Edited By : Rupesh Ranjan | Updated on: 24 Aug 2021, 09:21:36 PM
Talibaan

Talibaan (Photo Credit: News Nation )

highlights

  • तालिबान ने अमेरिका से कुशल अफगानों को नहीं निकालने को कहा
  • पंजशीर में शांति से समस्या का समाधान करने के लिए प्रतिबद्ध - तालिबान

नई दिल्ली:

अफगानिस्तान में तालिबान आंतकियों का आंतक जारी है. अफगानिस्तान के नागरिक तालिबान आंतकियों की डर से सहमे हुए हैं. तालिबानी आंतकियों की क्रूरता से बचने के लिए सुरक्षित स्थान की तलाश में जुटे हैं. अफगानिस्तान के कई नागरिक देश छोड़कर जा चुके हैं और कई लोगों जाने की कोशिश में जुटे थे. इसी बीच तालिबान ने अफगान नागरिकों के एयरपोर्ट जाने पर पूर्ण रुप से फिलहाल के लिए पांबदी लगा दी है. तालिबान ने बयान जारी कर  सिर्फ विदेशियों को ही एयरपोर्ट पर जाने की इजाजत की बात कही है. बता दें कि तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने बयान जारी कर इसे भीड़ को इकट्ठा होने से रोकने और सुरक्षा कारणों के लिए ली गई फैसला बताया है. इसके अलावा जबीहुल्ला मुजाहिद ने अमेरिका से कुशल अफगानों को वहां से नहीं निकालने को कहा है. 

यह भी पढ़ें: नेशनल मोनेटाइजेशन पाइपलाइन पर कांग्रेस का सवाल, जानें पूरी खबर

गौरतलब है कि अफगानिस्तान के 33 प्रांतों पर तालिबान कब्जा कर चुका है. लेकिन अफगानितान के पंजशीर पर तालिबान का कब्जा नहीं है. बहरहाल पंजशीर पर अपना कब्जा जमाने के लिए तालिबान तमाम कोशिशें कर रहा है. उसके बाद भी पंजशीर के मसूद की सेनाओं के सामने तालिबानी आंतकियों को मुंह की ही खानी पड़ रही है. पंजशीर को लेकर तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने बयान जारी कर कहा कि तालिबान पंजशीर में शांति से समस्या का समाधान करना चाहता है और इसके लिए तालिबान प्रतिबद्ध है. हालांकि इस दौरान उसने अफगानिस्तान में तालिबान आंतकियों के द्वारा जारी आंतक को छुपाते हुए कहा कि पूरे अफगानिस्तान में सभी शैक्षिणिक संस्थान का संचालन किया जा रहा है. उसने महिलाओं पर लगाए गए पांबदी को लेकर कहा कि संस्थानों में महिलाओं को जाने से रोकने का मामला फिलहाल अस्थायी है, इसका समाधान जल्द निकाला जाएगा। महिलाओं पर लगाए गए पाबंदी को वो किसी भी तरह के दुर्व्यवहार को रोकने के लिए उठाया गया कदम बताया. 

यह भी पढ़ें: तालिबान के समर्थन में उतरा पाकिस्तान, कहा- तालिबानी भारत को जीतकर हमें सौंपेंगे

मुजाहिद ने अमेरिका को 31 अगस्त तक अफगानिस्तान से लोगों को निकालने का काम पूरा कर लेने की बात कही है. उसने कहा कि इसको लेकर कोई अतिरिक्त समय सीमा नहीं बढ़ाई जाएगी. बता दें कि अमेरिकी सरकार ने अफगानिस्तान से अपने सभी अमेरिकी सैनिकों की वापसी के लिए 31 अगस्त की तारीख तय की है. 

First Published : 24 Aug 2021, 09:17:16 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

LiveScore Live Scores & Results

वीडियो

×