News Nation Logo

श्रीलंका भी लगाएगा बुर्के पर प्रतिबंध, 1 हजार से अधिक इस्लामिक स्कूलों को करेगा बंद

देश की सुरक्षा का हवाला देते हुए श्रीलंकाई सरकार ने मुस्लिम महिलाओं द्वारा पहने जाने वाले बुर्का पर पाबंदी लगाने का फैसला लिया है साथ ही यहां के हजार से अधिक इस्लामिक स्कूलों को बंद करने का भी प्लान बनाया जा रहा है. 

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 14 Mar 2021, 10:14:12 AM
burqa

श्रीलंका भी लगाएगा बुर्के पर प्रतिबंध, 1 हजार से अधिक इस्लामिक स्कूलों (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • कुछ दिन पहले ही स्विट्जरलैंड ने भी बुर्के पर प्रतिबंध लगाया था
  • नीदरलैंड, फ्रांस, ऑस्ट्रिया, बेल्जियम, जर्मनी और डेनमार्क में भी बैन
  • 1 हजार से अधिक इस्लामिक स्कूलों भी होंगे बंद

कोलंबो:

श्रीलंका में अब बुर्का पहनने पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा और 1 हजार से अधिक इस्लामिक स्कूलों को बंद करा दिया जाएगा. महिंदा राजपक्षे सरकार के एक मंत्री ने शनिवार को ऐलान किया कि श्रीलंका जल्द ही बुर्का पहनने पर प्रतिबंध लगाएगा. उन्होंने यह भी कहा कि इसके अलावा कम से कम 1 हजार इस्लामी स्कूलों को भी बंद किया जाएगा. श्रीलंका के अलावा भी दुनिया के कई सारे देश बुर्के पर प्रतिबंध लगा चुके हैं. कुछ दिन पहले ही स्विट्जरलैंड ने भी जनमत संग्रह कर बुर्के के पहनने पर प्रतिबंध लगाया था. पब्लिक सिक्योरिटी मंत्री सरत विरासेकेरा (Sarath Weerasekera) ने एक न्यूज कॉन्फ्रेंस के दौरान यह जानकारी दी. उन्होंने शुक्रवार को एक पेपर पर हस्ताक्षर किया था जिसमें मुस्लिम महिलाओं द्वारा पहने जाने वाले बुर्का पर प्रतिबंध लगाने की मंजूरी दी गई है. श्रीलंका के अलावा भी दुनिया के कई सारे देश बुर्के पर प्रतिबंध लगा चुके हैं. कुछ दिन पहले ही स्विट्जरलैंड ने भी जनमत संग्रह कर बुर्के के पहनने पर प्रतिबंध लगाया था. 

यह भी पढ़ेंः एंटीलिया के बाहर विस्फोटक लदी कार केस में इनकाउंटर स्पेशलिस्ट गिरफ्तार

कैबिनेट में बुर्के पर प्रतिबंध को लेकर बिल पेश
श्रीलंका के सार्वजनिक सुरक्षा मंत्री सरथ वेरासेकेरा ने कहा कि उन्होंने कैबिनेट की मंजूरी के लिए एक बिल पर साइन किया है. इस बिल में राष्ट्रीय सुरक्षा के आधार पर मुस्लिम महिलाओं के बुर्का पहनने पर प्रतिबंध की मांग की गई है. अगर यह बिल कैबिनेट से पारित हो जाता है तो श्रीलंका की संसद इस पर कानून बना सकती है. 

मदरसों पर भी प्रतिबंध लगाने की तैयारी
वेरासेकेरा ने कहा कि सरकार ने एक हजार से अधिक मदरसा इस्लामिक स्कूलों पर प्रतिबंध लगाने की योजना बनाई है. उन्होंने यह भी कहा कि ये मदरसे श्रीलंका के राष्ट्रीय शिक्षा नीति की धज्जियां उड़ा रहे हैं. उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि कोई भी स्कूल नहीं खोल सकता है और बच्चों को आप जो भी चाहते हैं वह सिखा नहीं सकते हैं.

पहले भी बुर्के पर प्रतिबंध लगा चुका है श्रीलंका
बौद्ध बहुसंख्यक श्रीलंका में साल 2019 में इस्लामी आतंकवादियों के चर्चों और होटलों में किए गए हमले के बाद भी कुछ समय के लिए बुर्का पहनने पर प्रतिबंध लगा दिया गया था. इस हमले में 250 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी. जिसके बार श्रीलंका ने कई आरोपियों को गिरफ्तार भी किया था.

यह भी पढ़ेंः तमिलनाडु में खुशबू 'थाउजेंड लाइट्स' सीट से बन सकती हैं भाजपा उम्मीदवार

इन देशों में पहले से है प्रतिबंध
यूरोप के कई देशों ने बुर्के पर आंशिक या पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाया हुआ है. इसमें नीदरलैंड, फ्रांस, ऑस्ट्रिया, बेल्जियम, जर्मनी, स्विट्जरलैंड और डेनमार्क शामिल हैं. हाल के दिनों में जर्मनी, फ्रांस और डेनमार्क ने कट्टरपंथ को देखते हुए और भी कई तरह के नए प्रतिबंधों को लगाने का ऐलान किया हुआ है.

मुसलमानों के शवों को दफनाने पर लगाया था प्रतिबंध
श्रीलंका ने कोरोना महामारी के दौरान संक्रमण से मरे मुसलमानों के शवों को दफनाने पर रोक लगा दी थी. तब सरकार ने यह दलील दी थी कि इससे संक्रमण फैलने की संभावना नहीं होगी. हालांकि, तब इस फैसले को लेकर श्रीलंका के मुस्लिमों ने काफी विरोध किया था. मामला श्रीलंकी की सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचा था लेकिन फैसला जस का तस रहा. बाद में अमेरिका और अंतरराष्ट्रीय अधिकार समूहों की आलोचना के बाद श्रीलंकाई सरकार ने इस साल की शुरुआत में इस प्रतिबंध को हटा दिया था.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 14 Mar 2021, 09:48:56 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.