News Nation Logo
Banner
Banner

SCO Summit में PAK PM की तालिबान से अपील- अफगानिस्तान में किए वादों को करे पूरा 

प्रधान मंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को कहा कि तालिबान को अफगानिस्तान में किए गए वादों को पूरा करना चाहिए. इसके साथ पाक पीएम ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से युद्धग्रस्त देश के लोगों के साथ खड़े होने का आह्वान किया.

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 17 Sep 2021, 11:06:13 PM
Imran Khan

Imran Khan (Photo Credit: File Pic)

नई दिल्ली:

पाकिस्ताान के प्रधानमंत्री इमरान खान ( Prime Minister Imran Khan ) ने शुक्रवार को कहा कि तालिबान को अफगानिस्तान ( Afghanistan ) में किए गए वादों को पूरा करना चाहिए. इसके साथ पाक PM ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से युद्धग्रस्त देश के लोगों के साथ खड़े होने का आह्वान किया. आपको बता दें कि पाक प्रधानमंत्री ने ताजिकिस्तान की राजधानी दुशांबे में 20वें शंघाई सहयोग संगठन राष्ट्राध्यक्षों (SCO-CHS) शिखर सम्मेलन ( Shanghai Cooperation Organisation Council )को संबोधित करते हुए ये विचार व्यक्त किए. इस मौके पर पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ( Foreign Minister Shah Mahmood Qureshi) , राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोईद यूसुफ (  National Security Adviser Moeed Yusuf  ) और सूचना मंत्री फवाद चौधरी भी मौजूद रहे.

यह भी पढ़ें : बैक टू द क्लासरूम कार्यक्रम के तहत केरल के मंत्रियों को दिया जाएगा तीन दिवसीय प्रशिक्षण

एक शांतिपूर्ण और स्थिर अफगानिस्तान में रुचि

पाक पीएम ने कहा कि, "तालिबान को एक समावेशी राजनीतिक ढांचे के लिए किए गए वादों को पूरा करना चाहिए, जहां सभी जातीय समूहों का प्रतिनिधित्व किया जाता है. उन्होंने कहा कि यह अफगानिस्तान की स्थिरता के लिए महत्वपूर्ण है."प्रधानमंत्री इमरान खान ने यह भी कहा कि यह सुनिश्चित करते हुए सभी अफगानों के अधिकारों के लिए सम्मान सुनिश्चित करना भी महत्वपूर्ण है कि यहां फिर से आतंकवादियों के लिए एक सुरक्षित पनाहगाह न बने. उन्होंने कहा  पाकिस्तान को पड़ोसी देश में जारी संघर्ष और अस्थिरता के कारण काफी नुकसान उठाना पड़ा था, लेकिन अब हमारा मुल्क एक शांतिपूर्ण और स्थिर अफगानिस्तान में रुचि रखता है.

यह भी पढ़ें : IPL 2021: आईपीएल की इन टॉप टीमों के कप्तान रह चुके हैं कई लव रिलेशनशिप में

अफगानिस्तान का समर्थन करना जारी रखेंगे

इमरान खान ने कहा कि हम एक स्थिर, संप्रभु और समृद्ध अफगानिस्तान का समर्थन करना जारी रखेंगे. "अब यह सुनिश्चित करना अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के सामूहिक हित में है कि अफगानिस्तान में कोई नया संघर्ष न हो और सुरक्षा स्थिति स्थिर हो." उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान की पिछली सरकार विदेशी सहायता पर बहुत अधिक निर्भर थी और इसे हटाने से आर्थिक पतन हो सकता है," उन्होंने कहा कि अब अफगानों के साथ "दृढ़ और स्पष्ट रूप से" खड़े होने का समय है.

First Published : 17 Sep 2021, 11:03:57 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.