News Nation Logo
Banner

हाफिज सईद के घर धमाके पर पाकिस्तान ने उगला जहर, कहा-रॉ का हाथ

फवाद चौधरी के साथ एक प्रेस कांफ्रेंस में एनएसए यूसुफ ने दावा किया कि हमले का मास्टरमाइंड एक भारतीय नागरिक है, जिसका भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ से संबंध है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 05 Jul 2021, 08:48:14 AM
Hafiz Saied

पाकिस्तान के एनएसए ने धमाके के लिए भारत पर मढ़ा आरोप. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • पाकिस्तान के एनएसए ने कहा धमाके के जिम्मेदार शख्स के रॉ से संबंध
  • इमरान खान ने भी इस पर ट्वीट कर मांगी विश्व बिरादरी से मदद
  • भारत ने आरोपों को खारिज कर पाकिस्तान को दिखाया आईना

इस्लामाबाद:

आतंकवाद (Terrorism) के वैश्विक प्रचार-प्रसार का अगुवा पाकिस्तान (Pakistan) अब अपने घर में आतंकियों के ठिकाने पर होने वाले हमलों के लिए भारत को दोषी ठहराने लगा है. जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) पर तोतारंटत का विश्व बिरादरी पर असर नहीं पड़ते देख अब इमरान खान (Imran Khan) और उनके हुक्मरान नई नापाक चालों पर उतर आए हैं. इमरान और उनके राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोईद यूसुफ ने आरोप लगाया है कि लाहौर के जौहर टाउन में हाफिज सईद (Hafiz Saeed) के घर के पास जो धमाका हुआ था, उसमें भारत की खुफिया एजेंसी रॉ का हाथ था. इमरान ने भारत के खिलाफ कार्रवाई के लिए वैश्विक समुदाय को आवाज भी दी है.

रॉ से जुड़ा है शख्स, जिसने कथित तौर पर धमाका किया
पंजाब पुलिस प्रमुख और सूचना मंत्री फवाद चौधरी के साथ एक प्रेस कांफ्रेंस में एनएसए यूसुफ ने दावा किया कि हमले का मास्टरमाइंड एक भारतीय नागरिक है, जिसका भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ से संबंध है. एनएसए यूसुफ ने कहा, ‘इन आतंकवादियों के पास से बरामद किए गए इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों, फोरेंसिक विश्लेषण के जरिए हमने मुख्य मास्टरमाइंड और इस आतंकवादी हमले के संचालकों की पहचान की है.' हालांकि उन्होंने कथित संदिग्ध की पहचान उजागर नहीं की है.

यह भी पढ़ेंः  बांग्लादेश की भी मैंगो डिप्लोमेसी, शेख हसीना ने PM मोदी-दीदी को भेजे आम

संदिग्धों की जानकारी होने का दावा 
यूसुफ ने कहा कि विभिन्न एजेंसियों के बीच कुशल समन्वय के कारण सरकार के पास फर्जी नाम, वास्तविक पहचान और संदिग्धों के स्थान के बारे में जानकारी है. बाद में प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्वीट कर बताया कि उन्होंने अपनी टीम को विस्फोट की जांच के निष्कर्षों के बारे में आज राष्ट्र को जानकारी देने का निर्देश दिया था और कहा था कि नागरिक और सैन्य खुफिया एजेंसियों के बीच समन्वय से ‘आतंकवादियों और उनके अंतरराष्ट्रीय संबंधों की पहचान की गई.’ गौरतलब है कि लाहौर के जोहर टाउन में बोर्ड ऑफ रेवेन्यू (बीओआर) हाउसिंग सोसाइटी में स्थित सईद के घर के बाहर 23 जून को कार के जरिए बम विस्फोट किया गया था. इसमें 3 लोगों की मौत हुई थी. 24 अन्य जख्मी हुए थे. किसी भी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है.

यह भी पढ़ेंः  दिल्ली में 70 करोड़ की हेरोइन जब्त, 4 अफगानी हुए गिरफ्तार

भारत खारिज कर चुका है आरोप
इससे पहले विदेश मंत्रालय पाकिस्तान में कुछ आतंकी हमलों में भारत की संलिप्तता के आरोपों को खारिज कर चुका है. भारत सरकार साफ कह चुकी है कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय पाकिस्तान के हथकंडों से वाकिफ है. इस्लामाबाद स्पॉन्सर्ड टेररिज्म को किसी और ने नहीं, बल्कि उसके खुद के नेतृत्व ने माना है. इसके साथ ही भारत ने भारतीय दूतावास के ऊपर चक्कर काटते ड्रोन पर भी सख्त आपत्ति दर्ज कराई थी. इसके पहले भारतीय दूतावास की फोटो लेते कुछ संदिग्ध लोगों को भी भारतीय प्रतिष्ठान ने सुरक्षा में भारी चूक माना था. 

First Published : 05 Jul 2021, 08:46:05 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.