News Nation Logo
Banner

भारत विरोध पर उतारू नेपाल बन सकता है आतंकियों का पनाहगाह, सोमालिया में मारा गया नेपाली आतंकी कमांडर

सोमालिया में आतंकी संगठन अल-शबाब (Al-Shabaab) का मारा गया कमांडर वास्तव में नेपाली था, जिसकी पहचान अशरफ आजमी अबु हमदान के रूप में हुई है.

Written By : पुनीत के पुष्कर | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 28 Jun 2020, 12:42:34 PM
Al Shabaab

अल-शबाब का मारा गया कमांडर वास्तव में था नेपाल का. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • सोमालिया में सेना ने मार गिराया अल-शबाब का कमांडर.
  • उसकी पहचान नेपाल के नागरिक बतौर हुई, करता था भर्ती.
  • अमेरिकी रिपोर्ट में नेपाल को बताया गया आतंकी हैवन लैंड.

काठमांडू:

चीन (China) की गोद में बैठकर हर लिहाज से भारत (India) का विरोध कर रहे प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली (KP Sharma Oli) का नेपाल भारत के लिए दूसरा पाकिस्तान (Pakistan) बन सकता है. दूसरे शब्दों में कहें तो आतंकियों की सुरक्षित पनाहगाह. विगत दिनों सोमालिया में आतंकी संगठन अल-शबाब (Al-Shabaab) का मारा गया कमांडर वास्तव में नेपाली था, जिसकी पहचान अशरफ आजमी अबु हमदान के रूप में हुई है. इसके बाद अमेरिका ने चेतावनी देते हुए कहा कि भारत का एक और पड़ोसी देश नेपाल आतंकवादियों का हैवेन लैंड बन सकता है. यानी भारत के लिए आतंक के मसले पर एक साथ दो चुनौतियां सिर उठा सकती है.

यह भी पढ़ेंः LAC पर भारत ने तैनात किया एयर डिफेंस सिस्टम, चीनी विमानों ने की गुस्ताखी तो भुगतना होगा अंजाम

नेपाल से जाकर संभाली थी आतंकी संगठन की कमान
गौरतलब है कि सोमालिया में कट्टर इस्लामिक आतंकवादी संगठन अल शबाब के खिलाफ चलाए जा रहे अभिय़ान में सोमालियाई सेना ने दो दिन पहले संगठन के एक प्रमुख कमांडर को मार गिराया था. जांच में वह नेपाल का नागरिक निकला, जिसका नाम अशरफ आज़मी अबु हमदान था. सोमाली नेशनल आर्मी के ब्रिगेडियर जनरल इस्माइल अब्दालीलिक मालिन ने स्थानीय सोमाली रेडियो से बातचीत करते हुए कहा कि उन्होंने नेपाल के एक वरिष्ठ अल-शबाब प्रशिक्षण अधिकारी को मार गिराया है.

यह भी पढ़ेंः Mann ki Baat : भारत दोस्ती निभाना जानता है तो आंख में आंख डालकर जवाब देना भी जानता है- पीएम मोदी ने दी चीन को चेतावनी

अमेरिका ने चेताया नेपाल बन सकता है आतंकी पनाहगाह
आर्मी ऑफिसर ‌के मुताबिक इनामी आतंकी हमदान अपने तीन अंगरक्षकों सहित मारा गया था. सोमाली सेना के कमांडर ने कहा कि ऑपरेशन उन क्षेत्रों में हुए जो मध्य जुब्बा क्षेत्र में साको जिले के नियंत्रण में हैं. सोमाली सेना ने लोअर जुबा क्षेत्र में किसमायो और जैममे जिलों को अपने नियंत्रण में ले लिया है. इन पर पहले अल-शबाब का ही नियंत्रण था. यह घटना ठीक उसी दिन हुई जिस दिन अमेरिका ने सुरक्षा संबंधी एक रिपोर्ट सार्वजनिक करते हुए चेतावनी दी थी कि नेपाली क्षेत्र को अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी समूहों द्वारा ट्रांजिट बिंदु के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है.

यह भी पढ़ेंः कश्मीर हमारा... कश्मीरी हमारे... पाकिस्तान क्यों नहीं समझ रहा बात, फिर अड़ाई टांग

सॉफ्ट टारगेट है नेपाल
अमेरिकी विदेश विभाग की आतंकवाद रिपोर्ट-2019 बताती है कि अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी संगठन नेपाल को ट्रांजिट प्वाइंट और सॉफ्ट टारगेट के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं. रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि भारत के साथ खुली सीमा होने और देश के एकमात्र अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सुरक्षा प्रक्रिया अपर्याप्त होने से नेपाल अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादियों के लिए एक हेवेन लैंड बन सकता है. रिपोर्ट के मुताबिक नेपाल को अब आमतौर पर आतंकवादी संगठनों के लिए एक उपजाऊ जमीन माना जाता है. रिपोर्ट में इस बात की आशंका जताई गई है कि नेपाल ने आतंकवादी भर्ती के मामले को गंभीरता से नहीं लिया है.

First Published : 28 Jun 2020, 12:42:34 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×