News Nation Logo
Banner

सीरिया में ISIS-कुर्द फोर्सेस की जंग, 4 दिन में 84 आतंकियों समेत 136 की मौत

कई दिनों से जारी खूनी संघर्ष को लेकर दुनिया भर के मानव अधिकार और शांति पसंद संगठनों की चिंता बढ गई है. यूनिसेफ ने रविवार को हिरासत में लिए गए 850 नाबालिगों की सुरक्षा की मांग की है.

News Nation Bureau | Edited By : Keshav Kumar | Updated on: 24 Jan 2022, 08:38:32 AM
isis in syria

इस्लामिक स्टेट (ISIS) के आतंकियों का सीरिया में हमला (Photo Credit: File Photo)

highlights

  • ISIS के आतंकियों के हमले से पहले जेल के अंदर से भी उत्पात शुरू
  • इस्लामिक स्टेट एक बार फिर सीरिया में पांव जमाने की कोशिश कर रहा
  • ISIS आतंकियों ने सीरिया के अल-हसाका की घवेरन जेल पर हमला किया 

नई दिल्ली:  

इस्लामिक स्टेट (ISIS) के आतंकियों और कुर्द फोर्सेस के बीच सीरिया में लगातार चार दिन से जारी खूनी संघर्ष में रविवार तक 136 लोगों की मौत होने की खबर है. आतंकियों और कुर्द फोर्सेस के बीच इस संघर्ष की शुरुआत गुरुवार को हुई थी. अपने साथियों को छुड़ाने के लिए ISIS के 100 से ज्यादा आतंकियों ने सीरिया के अल-हसाका शहर की घवेरन जेल पर हमला कर दिया. इसके बाद जबाबी हमला करते हुए कुर्द फोर्सेस ने इनके खिलाफ मोर्चा संभाल लिया. रिपोर्ट्स के मुताबिक, अब तक इस खूनी संघर्ष ISIS के 84 आतंकी और 45 कुर्द लड़ाके मारे गए हैं. वहीं 7 आम नागरिक भी जान गंवाने वालों में शामिल हैं.

कई दिनों से जारी खूनी संघर्ष को लेकर दुनिया भर के मानव अधिकार और शांति पसंद संगठनों की चिंता बढ गई है. यूनिसेफ ने रविवार को हिरासत में लिए गए 850 नाबालिगों की सुरक्षा की मांग की है. वहीं ब्रिटेन की सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स का कहना है कि ISIS आतंकियों ने घवेरन जेल पर हमला कर अपने कई साथियों को छुड़ा लिया. आतंकियों ने बहुत सारे हथियार भी लूट लिए.

सीरिया में फिर पांव जमाने की कोशिश में ISIS

दुनिया के इस हिस्से में जारी आतंकी घटनाओं के जानकारों की माने तो इस्लामिक स्टेट एक बार फिर से सीरिया में अपनी पकड़ मजबूत करने की पुरजोर कोशिश कर रहा है. हाल के महीनों में इस कुख्यात आतंकी संगठन से जुड़े कई 'स्लीपर सेल' भी एक्टिव हो चुके हैं. वहीं सीरिया में एक बार फिर हालात बदतर होने की कगार पर हैं. ISIS ने साल 2011 के आसपास सीरिया में बड़े पैमाने पर आतंकी हमलों की शुरुआत की थी. इसके बाद हजारों लोगों की बर्बर तरीके से जान ली. अमेरिकी सुरक्षा बलों ने लगभग तीन साल पहले जबाबी कार्रवाई की और आतंकियों के पांव सीरिया से उखड़ने लगे थे.

ये भी पढ़ें - गणतंत्र दिवस से पहले आतंकी साजिश का खुलासा, बड़े धमाके की थी तैयारी

जेलों में 50 से ज्यादा देशों के आतंकी-अपराधी
 
कुर्द सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्सेज की ओर से रविवार को दिए गए बयान के मुताबिक घवेरन जेल के आसपास के इलाके को सील कर दिया गया है. ISIS के आतंकी अब ज्यादा देर तक बच नहीं पाएंगे. कुर्द अधिकारियों ने कहा कि इस शहर की अलग-अलग जेल में 50 से ज्यादा देशों के आतंकियों और अपराधियों को रखा गया है. इनमें इस्लामिक स्टेट के 12 हजार से ज्यादा आतंकी शामिल हैं. ISIS के आतंकियों के हमले से पहले ही जेल के अंदर से भी उत्पात शुरू हो गया था. इस उपद्रव में भी जेल के कुछ कैदी मारे गए थे.

First Published : 24 Jan 2022, 08:38:32 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.