News Nation Logo
Banner

अमेरिका चाहता है बातचीत तो ईरान पर दबाव बनाना और प्रतिबंध लगाना बंद करें

समाचार एजेंसी आईआरएनए ने कासेमी के हवाले से बताया कि अगर अमेरिका वार्ता चाहता है तो उसे दबाव बनाना और प्रतिबंध लगाना बंद करना चाहिए।

IANS | Updated on: 05 Aug 2018, 01:37:50 PM
ईरान के विदेश मंत्रालय ने अमेरिका को चेताया, कहा दबाव बनाया तो बातचीत नहीं (आइएएनएस)

नई दिल्ली:

ईरान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता बहराम कासेमी ने शनिवार को कहा कि ईरान किसी दबाव में आकर अमेरिका संग वार्ता नहीं करेगा खासकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ। जिन्होंने समझौते का उल्लंघन किया है। समाचार एजेंसी आईआरएनए ने कासेमी के हवाले से बताया कि अगर अमेरिका वार्ता चाहता है तो उसे दबाव बनाना और प्रतिबंध लगाना बंद करना चाहिए। 

उन्होंने कहा कि इस तरह के दबाव में वार्ता नहीं हो सकती और ईरान के लोग दबाव का विरोध करेंगे और आखिरकार जीतेंगे। 

इस बीच कासेमी ने अमेरिका और ईरान के बीच युद्ध होने की संभावना से इनकार करते हुए कहा कि मौजूदा दुनिया में कोई भी देश इस तरह की गतिविधि को अंजाम देने में समर्थ नहीं है। 

और पढ़ें- भगोड़ा आर्थिक अपराधियों की अब ख़ैर नहीं, राष्ट्रपति कोविंद ने विधेयक को दी मंजूरी

उन्होंने यह भी कहा कि तेहरान उम्मीद करता है कि मई में अमेरिका के समझौते से अलग होने के बाद यूरोपीय देश ईरानी परमाणु समझौते को बचाने के प्रस्तावों के एक व्यावहारिक पैकेज को आगे बढ़ाएंगे, जिसे जेसीपीओए के तौर पर भी जाना जाता है। 

First Published : 05 Aug 2018, 01:35:52 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.