News Nation Logo

भारत यात्रा पर आए सीआईए अधिकारी में हवाना सिंड्रोम के लक्षण : रिपोर्ट

पिछले एक महीने में ऐसा दूसरी बार है जब अमेरिका के दो प्रमुख अधिकारियों पर हवाना सिंड्रोम का साया पड़ा हो.

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Singh | Updated on: 21 Sep 2021, 06:02:51 PM
CIA CHIEF

CIA CHIEF (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • CIA टीम NSA अजीत डोभाल और राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद सचिवालय के शीर्ष सदस्यों से की थी मुलाकात 
  • इस यात्रा में अमेरिका के दो प्रमुख अधिकारियों में पाए गए हवाना सिंड्रोम के लक्षण 
  • बर्न्स ने पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर बाजवा से मुलाकात की थी

 

नई दिल्ली:

पिछले दिनों भारत आया अमेरिकी खुफिया एजेंसी का एक अधिकारी बीमार पड़ गया था. यह अधिकारी सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी (CIA) डायरेक्‍टर विलियम बर्न्‍स के साथ आया था. सीएनएन की रिपोर्ट्स के अनुसार बीमार अधिकारी के लक्षण हवाना सिंड्रोम से मिलते-जुलते थे. इस महीने उनकी भारत यात्रा के दौरान उन्हें चिकित्सा सहायता लेनी पड़ी. पिछले एक महीने में ऐसा दूसरी बार है जब अमेरिका के दो प्रमुख अधिकारियों पर हवाना सिंड्रोम का साया पड़ा हो. पिछले महीने उपराष्‍ट्रपति कमला हैरिस का वियतनाम दौरा भी इसी खतरे की वजह से कुछ वक्‍त के लिए टालना पड़ा था.  मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इस घटना ने अमेरिकी सरकार के भीतर खतरे की घंटी बजा दी और बर्न्स को गुस्से से "क्रोधित" कर दिया था. भारत में हवाना सिंड्रोम से पीड़ित किसी अमेरिकी अधिकारी के बारे में यह पहली मीडिया रिपोर्ट है.

बर्न्स और उनकी टीम ने 7 सितंबर को भारत यात्रा पर आयी थी. इस दौरान वे राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद सचिवालय के शीर्ष सदस्यों से मुलाकात की थी. भारत से प्रतिनिधिमंडल पाकिस्तान गया, जहां बर्न्स ने पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर बाजवा से मुलाकात की. बर्न्स की भारत यात्रा को गुप्त रखा गया था और यात्रा पर दोनों पक्षों की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया था.

यह भी पढ़ें:Canada Election Results: जस्टिन ट्रूडो की लिबरल पार्टी को मिली जीत, लेकिन बहुमत से दूर 

सीआईए के एक प्रवक्ता ने बर्न्स की भारत यात्रा से संबंधित घटना पर टिप्पणी करने से इनकार किया है. भारतीय अधिकारियों की ओर से भी इस पर तत्काल कोई प्रतिक्रिया नहीं आई. सीआईए प्रमुख ने 15 अगस्त को तालिबान द्वारा अफगानिस्तान पर कब्ज़ा करने के बाद अफगानिस्तान के भविष्य पर चर्चा के लिए आये थे.  

करीब पांच साल पहले क्‍यूबा की राजधानी हवाना स्थित अमेरिकी दूतावास में तैनात अधिकारी एक-एक करके बीमार पड़ने लगे. मरीजों ने कहा कि उन्‍होंने होटल के कमरों या घरों में अजीब सी आवाजें सुनीं और शरीर में अजीब सी सेंसेशन महसूस की. इस अजीबोगरीब बीमारी को 'हवाना सिंड्रोम' नाम दिया गया. शुरुआती मामले सीआईए अधिकारियों में थे, इसलिए सीक्रेट रखे गए. मगर धीरे-धीरे बात फैलने लगी और साथ ही 'हवाना सिंड्रोम' का डर भी. अब तक करीब 200 अमेरिकी अधिकारियों और उनके फैमिली मेंबर्स को हवाना सिंड्रोम से पीड़‍ित पाया गया है.

हवाना सिंड्रोम से प्रभावित अमेरिकी अधिकारियों ने बताया है कि उनके कानों को ढंकने पर भी वे चुभने वाली चीखों की भिनभिनाहट की आवाज़ें सुनते थे. दूसरों ने अपनी खोपड़ी पर तीव्र दबाव महसूस करने की सूचना दी है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सिंड्रोम से प्रभावित लोगों ने महीनों तक चक्कर और थकान का अनुभव किया.
 

First Published : 21 Sep 2021, 06:02:51 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.