News Nation Logo
Banner

नौकरियों के सकारात्मक आंकड़े पर डोनाल्ड ट्रंप बोले- उबरने लगी है अमेरिकी अर्थव्यवस्था, लेकिन

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donlad Trump) ने रोजगार के सकारात्मक आंकड़े सामने आने के बाद बृहस्पतिवार को कहा कि यह अमेरिका की अर्थव्यवस्था के कोरोना वायरस महामारी से उबरने का संकेत है.

Bhasha | Updated on: 02 Jul 2020, 10:26:00 PM
donald trump1

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Photo Credit: फाइल फोटो)

वाशिंगटन:

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donlad Trump) ने रोजगार के सकारात्मक आंकड़े सामने आने के बाद बृहस्पतिवार को कहा कि यह अमेरिका की अर्थव्यवस्था के कोरोना वायरस महामारी से उबरने का संकेत है. उन्होंने कहा कि रोजगार के अवसरों में वृद्धि की सकारात्मक खबरों से यह पता चलता है कि अमेरिका की अर्थव्यवस्था कोरोना वायरस महामारी से उबरने लगी है.

यह भी पढ़ेंः अन्य खेल दर्शकों की मौजूदगी में खेला जाएगा फ्रेंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट, शुरू होगी टिकटों की बिक्री

आंकड़ों के अनुसार, अमेरिकी नियोक्ताओं ने जून में 48 लाख नई नौकरियों को जोड़ा और लगातार दूसरे महीने रोजगार बाजार में सुधार होने से बेरोजगारी की दर कम होकर 11.1 प्रतिशत पर आ गई. ट्रंप ने कहा कि अभी भी ऐसे क्षेत्र हैं जहां हम वायरस की चपेट से निकलने के प्रयास में हैं. उल्लेखनीय है कि अमेरिका के कई राज्यों विशेषकर दक्षिणी और पश्चिमी राज्यों में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी देखी जा रही है. ऐसे में ये राज्य अर्थव्यवस्था को पुन: खोलने की प्रक्रिया को धीमी कर रहे हैं.

अमेरिका में 48 लाख नई नौकरियां का सृजन, बेरोजगारी दर घटकर 11.1 प्रतिशत पर

अमेरिका में नियोक्ताओं ने जून में करीब 48 लाख नयी नौकरियां सृजित कीं. रोजगार के मामले लगातार दूसरे महीने के बेहतर प्रदर्शन से यहां बेरोजगारी की दर घटकर 11.1 प्रतिशत पर आ गई है. हालांकि यह कोविड-19 महामारी के दौरान आयी मंदी से गयी नौकरियों का छोटा हिस्सा ही है. महामारी के चलते हुए लॉकडाउन से अमेरिका में करीब 2.2 करोड़ लोगों का रोजगार छिना. नई नौकरियों के बदौलत अमेरिका इनमें से एक-तिहाई रोजगारों को पुन: सृजित करने में सफल रहा है. अमेरिका के दक्षिण राज्यों (सन बेल्ट) में कोरोना वायरस से संक्रमित पुष्ट मामलों की संख्या बढ़ रही है.

तथ्य दिखाते हैं कि इससे रोजगार की स्थिति में आ रहा सुधार रुक सकता है. इन राज्यों में जहां कहीं भी कुछ रेस्तराओं, बार या अन्य खुदरा दुकानों ने कारोबार दोबारा शुरू किया था, उन्हें फिर से कारोबार बंद करने के लिए मजबूर होना पड़ा है. इन कारोबार के दोबारा बंद होने से छंटनियों का दौर जारी है. बेरोजगारी भत्ते के लिए आवेदन करने वाले लोगों की संख्या पिछले हफ्ते 14.7 लाख पर आ गई.

यह भी पढ़ेंः Exclusive: आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने बदला परिवार का सियासी गणित

मार्च के अंत में बेरोजगारी भत्ते के लिए आवेदन करने वाले लोगों की संख्या में अचानक से तेजी देखी गयी थी. तब से इसमें साप्ताहिक आधार पर कमी आ रही है. हालांकि, यह 1982 के उच्चस्तर से अब भी दोगुनी है। बेरोजगारी भत्ता पा रहे लोगों की संख्या अब भी 1.9 करोड़ बनी हुई है. कैलिफोर्निया में बार, सिनेमाघर और बैठकर खाने की सुविधा देने वाले रेस्तरां फिर से बंद हुए हैं. फ्लोरिडा में भी समुद्र तट और बार का कारोबार बंद हुआ है.

टेक्सास ने अपनी अर्थव्यवस्था को दोबारा खोलने की कुछ योजनाएं सुचारू रखी हैं. वहीं न्यूयॉर्क ने बैठकर खाने की सुविधा देने वाले रेस्तरां खोलने की योजना टाल दी है. क्रेडिट और डेबिट कार्ड से किए जाने वाले खर्च पर निगरानी रखने वाली कंपनी जेपी मॉर्गन चेज की रपट दिखाती है कि ग्राहकों ने पिछले हफ्ते में अपनी खरीदारी कम की है, जबकि अप्रैल और मई में इसमें लगातार वृद्धि हुई थी.

First Published : 02 Jul 2020, 10:26:00 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.