News Nation Logo
Banner

ट्रंप को मोदी का समर्थन होने का भरोसा, अमेरिकी राजनीति में आएगा काम

'हमें भारत से बहुत समर्थन है. हमारे पास प्रधानमंत्री मोदी से बहुत समर्थन है और मुझे लगता है कि भारतीय (Indians) लोग ट्रंप के लिए मतदान करेंगे.'

IANS | Updated on: 06 Sep 2020, 08:49:26 AM
PM Narendra Modi Donald Trump

ट्रंप को मोदी का मिला साथ. आसान होगी चुनावी राह. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

न्यूयॉर्क:

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने भारत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को अमेरिकी राजनीति के संभावित क्षेत्र में यह कहते हुए शामिल किया कि भारत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उन्हें अमेरिकी चुनाव (President Elections) के संदर्भ में 'बड़ा समर्थन' देते हैं. भारतीय अमेरिकी वोट के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, 'हमें भारत से बहुत समर्थन है. हमारे पास प्रधानमंत्री मोदी से बहुत समर्थन है और मुझे लगता है कि भारतीय (Indians) लोग ट्रंप के लिए मतदान करेंगे.'

एक रिपोर्टर ने भारतीय अमेरिकियों को लक्षित एक वीडियो 'फोर मोर इयर्स' का जिक्र किया जो रिपब्लिकन नेशनल कन्वेंशन के दौरान जारी किया गया था और जिसे उनके बड़े बेटे डोनाल्ड ट्रंप जूनियर द्वारा रीट्वीट किया गया था और पूछा कि क्या कम्युनिटी उनके लिए वोट करेगा. इस पर ट्रंप ने कहा, 'मैं ऐसा मानता हूं.' उन्होंने कहा, 'हमने ह्यूस्टन में एक कार्यक्रम किया था, जैसा कि आप जानते हैं और यह एक शानदार कार्यक्रम था. मुझे प्रधानमंत्री मोदी द्वारा आमंत्रित किया गया था. यह बड़े पैमाने पर था, यह वह जगह थी, जहां ह्यूस्टन फुटबॉल टीम फुटबॉल खेलती थी. यह अविश्वसनीय था. यह वास्तव में अविश्वसनीय था. प्रधानमंत्री काफी उदार थे.'

यह भी पढ़ेंः राजनाथ सिंह के ईरान दांव से चीन की बढ़ी बेचैनी, भारत का बड़ा झटका

उन्होंने तब भारत और मोदी का समर्थन होने के बारे में जोर दिया था, जो नवंबर के राष्ट्रपति चुनावों में विदेशी हस्तक्षेप के आरोप के बीच विवादास्पद हो सकता है. डेमोक्रेटिक पार्टी और रिपब्लिकन ने एक-दूसरे पर आरोप लगाए थे. डेमोक्रेटिक ने कहा था कि रूस ट्रंप का समर्थन कर रहा है, जबकि रिपबिल्कन ने कहा था कि चीन डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडन का समर्थन कर रहा है.

'फोर मोर इयर्स' वीडियो के कॉन्सेप्ट का श्रेय 'अल मेसन' को जाता है, जो 'ट्रंप विक्ट्री इंडियन अमेरिकन फाइनेंस कमेटी' का को-चेयर है. वीडियो में ह्यूस्टन में पिछले साल आयोजित 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम और इस साल फरवरी में अहमदाबाद में 'नमस्ते ट्रंप' रैली की झलकियां हैं. भारतीय अमेरिकी पारंपरिक रूप से डेमोक्रेटिक पार्टी का गढ़ रहे हैं. प्यू रिसर्च सेंटर ने पाया है कि 65 प्रतिशत भारतीय अमेरिकी डेमोक्रेट समर्थक हैं या पार्टी के प्रति झुकाव रखते हैं.

यह भी पढ़ेंः कांग्रेस के कंधे पर रखकर बंदूक चला रहा है चीन, बीजेपी का आरोप

'एशियन अमेरिकी पैसिफिक आईलैंडर डेटा' के निदेशक कार्तिक रामाकृष्णन के अनुसार, 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में 77 प्रतिशत भारतीय अमेरिकियों ने डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन को वोट दिया था और ट्रंप को केवल 16 प्रतिशत ने दिया था. भारतीय-अमेरिकी मतदाता प्रमुख्र अमेरिकी राज्यों में अहम भूमिका निभा सकते हैं. एक रिपोर्टर ने ट्रंप से पूछा कि क्या उनके बड़े बेटे और बेटी इवांका इस साल चुनाव के लिहाज से प्रमुख राज्यों में उनके लिए भारतीय-अमेरिकी समुदाय के बीच प्रचार करेंगे तो उन्होंने कहा, 'वे शानदार युवा हैं और मुझे पता है कि उनका भारत से रिश्ता बहुत अच्छा है और ऐसा ही मेरा भी है और प्रधानमंत्री मोदी मेरे एक मित्र हैं और उन्होंने बहुत अच्छा काम किया है. कुछ भी आसान नहीं, कुछ भी आसान नहीं है, लेकिन वह बहुत अच्छा काम कर रहे हैं.'

First Published : 06 Sep 2020, 08:49:26 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो