News Nation Logo
पीएम नरेंद्र मोदी 20 अक्टूबर को उत्तर प्रदेश के कुशीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का उद्घाटन करेंगे घर में घुसकर गरीब लोगों की हत्या करना दुर्भाग्यपूर्ण है। आतंकियों की यह कायराना हरकत है: सुशील मोदी आतंकियों की मंशा लोगों में डर पैदा करने की है, जिससे लोग कश्मीर छोड़कर चले जाएं: सुशील मोदी उत्तराखंड: बद्रीनाथ धाम में शुरू हुआ सीजन का पहला हिमपात। धाम में पड़ रही कड़ाके की ठंड। राम रहीम को रंजीत सिंह हत्या मामले में उम्रकैद की सजा पंचकूला की CBI अदालत ने सजा का ऐलान किया अन्य 4 दोषियों पर 50-50 हजार रुपए का जुर्माना अदालत ने राम रहीम पर 31 लाख का जुर्माना भी लगाया लंबी लड़ाई के बाद पीड़ित परिवार को मिला इंसाफ डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम के साथ 5 लोगों को उम्र कैद पंजाब: जालंधर-फगवाड़ा हाईवे पर धनोवाली में एक तेज रफ़्तार गाड़ी ने 2 युवतियों को कुचला देश में अब तक कोविड वैक्सीन की 98 करोड़ डोज़ लगाई गई है: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया आंतरिक सुरक्षा पर राज्यों के IG और DGP के साथ आज अमित शाह की बैठक कश्मीर में एक और आतंकी साजिश का अलर्ट, सुरक्षा बढ़ाई गई दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने “रेड लाईट ऑन, गाड़ी ऑफ” अभियान की शुरुआत की पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की अध्यक्षता में चंडीगढ़ में कैबिनेट की बैठक हुई महाराष्ट्रः कल्याण की आधारवाड़ी जेल में 20 कैदी कोरोना पॉजिटिव आर्यन खान पर NCB का बड़ा बयान, आर्यन की काउंसिलिंग की गई आर्यन ने दोबारा गलती न करने की बात कही: NCB रिहाई के बाद गरीबों के लिए काम करेंगे आर्यन खान: NCB कांग्रेस सिर्फ एक परिवार की पार्टी है: संबित पात्रा कश्मीर पर कांग्रेस भ्रम फैला रही है: संबित पात्रा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चारधाम यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं से सावधानी बरतने की अपील की भाजपा कार्यालय में हो रही राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक का पहला चरण खत्म किसान संगठनों के रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर मोदी नगर (उ.प्र.) में प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन रोकी ISI Chief पर बीवी के टोटके पर अड़े इमरान, पाक सेना के जनरल ने लगाई लताड़ संयुक्त किसान मोर्चा के रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर प्रदर्शनकारी बहादुरगढ़ में रेलवे ट्रैक पर बैठे दिल्ली में लगातार दूसरे दिन भी बारिश का दौर जारी. जगह-जगह जलभराव

76th UNGA: शी जिनपिंग बोले- विवादों को बातचीत और सहयोग के माध्यम से सुलझाने की जरूरत

अमेरिका का जिक्र किए बिना शी ने कहा, 'बाहर से सैन्य हस्तक्षेप और लोकतांत्रिक परिवर्तन में नुकसान के अलावा कुछ भी नहीं है. दुनिया सभी देशों के साझा विकास और प्रगति को समायोजित करने के लिए काफी बड़ी है.'

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 22 Sep 2021, 02:02:40 PM
Xi Jinping

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Photo Credit: न्यूज नेशन)

वॉशिंगटन:

Xi Jinping: अमेरिका (US China Tension) के साथ बढ़ते तनाव के बीच चीन (China) के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Xi Jinping) ने मंगलवार को अपने देश की बहुपक्षवाद की दीर्घकालिक नीति दोहराई और संयुक्त राष्ट्र (United Nations General Assembly UNGA) में विश्व नेताओं से कहा कि देशों के बीच विवादों को ‘बातचीत और सहयोग के माध्यम से सुलझाने की आवश्यकता है.’ शी की इस टिप्पणी से कुछ घंटे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा था कि उनका ‘एक नया शीत युद्ध’ शुरू करने का कोई इरादा नहीं है. शी जिनपिंग न्‍यूयॉर्क में नहीं थे मगर उनके के रिकॉर्डेड भाषण को यहां पर टेलीकास्‍ट किया गया था. उन्‍होंने अपने भाषण में कहा, ‘एक देश की सफलता का मतलब दूसरे देश की विफलता नहीं है. दुनिया सभी देशों के साझा विकास और प्रगति को समायोजित करने के लिए काफी बड़ी है.’

यह भी पढ़ेंः NDA प्रवेश परीक्षा में लड़कियां इसी साल से होंगी शामिल, सुप्रीम कोर्ट का आदेश

बातचीत से हल हो सभी मुद्दे-जिनपिंग
सीधे अमेरिका का जिक्र किए बिना शी ने कहा, ‘बाहर से सैन्य हस्तक्षेप और लोकतांत्रिक परिवर्तन में नुकसान के अलावा कुछ भी नहीं है. दुनिया सभी देशों के साझा विकास और प्रगति को समायोजित करने के लिए काफी बड़ी है. हमें टकराव और बहिष्कार पर बातचीत और समावेश को तरजीह देने की जरूरत है. जो बाइडेन ने न्‍यूयॉर्क में अपने पहले संबोधन में कहा कि अमेरिका की सैन्य शक्ति उसका अंतिम विकल्‍प होना चाहिए न कि पहला. बाइडेन के मुताबिक हथियारों से कोविड-19 महामारी या उसके भविष्य के वरिएंट्स से बचाव नहीं किया जा सकता है, बल्कि यह विज्ञान और राजनीति की सामूहिक इच्छाशक्ति से ही संभव है. चीन के साथ बढ़ते तनाव के बीच जो बाइडन ने संयुक्त राष्ट्र से कहा कि अमेरिका एक नया शीत युद्ध नहीं शुरू करना चाहता.

चीनी राष्ट्रपति ने संयुक्त राष्ट्र से अंतरराष्ट्रीय मामलों में विकासशील देशों के प्रतिनिधित्व और कहने को बढ़ाने और अंतरराष्ट्रीय संबंधों में लोकतंत्र और कानून के शासन को आगे बढ़ाने का बीड़ा उठाया. उन्होंने कहा, "इसे (सुरक्षा, विकास और मानवाधिकारों के क्षेत्रों में) साझा एजेंडा निर्धारित करना चाहिए, दबाव वाले मुद्दों को उजागर करना चाहिए और वास्तविक कार्यों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए, और यह देखना चाहिए कि बहुपक्षवाद के लिए सभी दलों द्वारा की गई प्रतिबद्धताओं को सही मायने में पूरा किया जाए."

यह भी पढ़ेंः मौलाना कलीम सिद्दकी को यूपी ATS ने किया गिरफ्तार, धर्मांतरण के लिए की हवाला फंडिंग

अमेरिका ने चीन की जलवायु घोषणा का स्वागत किया
अमेरिकी जलवायु दूत जॉन केरी ने कहा कि वह शी जिनपिंग की इस घोषणा से बिल्कुल खुश हैं कि चीन विदेशों में कोयले से चलने वाले बिजली संयंत्रों का निर्माण नहीं करेगा. ”केरी ने एक बयान में कहा कि हम इस बारे में काफी समय से चीन से बात कर रहे हैं. और मुझे यह सुनकर बहुत खुशी हुई कि राष्ट्रपति शी ने यह महत्वपूर्ण निर्णय लिया है. चीन पर विदेशों में अपने कोयले के वित्तपोषण को समाप्त करने के लिए भारी कूटनीतिक दबाव रहा है क्योंकि इससे कार्बन उत्सर्जन को कम करने के लिए पेरिस जलवायु समझौते के लक्ष्यों को पूरा करने के लिए दुनिया के लिए राह पर बने रहना आसान हो सकता है. दुनिया का सबसे बड़ा ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जक चीन अभी भी अपनी घरेलू ऊर्जा जरूरतों के लिए कोयले पर बहुत अधिक निर्भर है.

First Published : 22 Sep 2021, 02:01:54 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो