News Nation Logo
Banner

चीन ब्रह्मपुत्र नदी पर करने जा रहा है बांध की निर्माण, भारत में सूखे की आशंका

ब्रह्मपुत्र नदी भारत और बांग्लादेश से होकर गुजरती है' ऐसे में बांध निर्माण के प्रस्ताव से दोनों देशों की चिंताएं बढ़ गई हैं.

By : Nihar Saxena | Updated on: 30 Nov 2020, 07:08:11 AM
Brahmaputra Tibet

भारत के पूर्वोत्तर राज्यों और बांग्लादेश में पड़ सकता है सूखा. (Photo Credit: न्यूज नेशन.)

बीजिंग:

चीन बाज नहीं आने वाला है. वह अब तिब्बत में ब्रह्मपुत्र नदी पर एक प्रमुख बांध का निर्माण करेगा और अगले साल से लागू होने वाली 14वीं पंचवर्षीय योजना में इससे संबंधित प्रस्ताव पर विचार किया जा चुका है. चीन की आधिकारिक मीडिया ने बांध बनाने का जिम्मा प्राप्त कर चुकी एक चीनी कंपनी के प्रमुख के हवाले से यह जानकारी दी है. 'ग्लोबल टाइम्स' की खबर के अनुसार, पावर कंस्ट्रक्शन कॉर्पोरेशन ऑफ चाइना के अध्यक्ष यांग जियोंग ने कहा कि कि चीन यारलुंग ज़ंग्बो नदी (ब्रह्मपुत्र का तिब्बती नाम) के निचले हिस्से में जलविद्युत उपयोग परियोजना शुरू करेगा और यह परियोजना जल संसाधनों और घरेलू सुरक्षा को मजबूत करने में मददगार हो सकती है.

दूरगामी सोच है शामिल
'ग्लोबल टाइम्स' ने रविवार को 'कम्युनिस्ट यूथ लीग ऑफ चाइना' की केन्द्रीय समिति के वी-चैट अकाउंट पर डाले गए एक लेख का हवाला देते हुए जानकारी दी कि यांग ने कहा है कि सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (सीपीसी) देश की 14वीं पंचवर्षीय योजना (2021-25) तैयार करने के प्रस्तावों में इस परियोजना को शामिल करने और 2035 तक इसके जरिये दीर्घकालिक लक्ष्य हासिल करने पर विचार कर चुकी है.

यह भी पढ़ेंः आज कोरोना वैक्‍सीन बनाने में जुटीं 3 टीमों से बात करेंगे पीएम नरेंद्र मोदी

भारत-बांग्लादेश से होकर गुजरती है ब्रह्मपुत्र 
इस योजना के बारे में विस्तृत जानकारी अगले साल नेशनल पीपुल्स कांग्रेस (एनपीसी) द्वारा औपचारिक अनुसमर्थन किये जाने के बाद सामने आने की उम्मीद है. ब्रह्मपुत्र नदी भारत और बांग्लादेश से होकर गुजरती है' ऐसे में बांध निर्माण के प्रस्ताव से दोनों देशों की चिंताएं बढ़ गई हैं. हालांकि चीन ने इन चिंताओं को खारिज करते हुए कहा है कि वह उनके हितों को भी ध्यान में रखेगा.

यह भी पढ़ेंः  अमरिंदर ने खट्टर से पूछा: बात करनी थी तो सही तरीका क्यों नहीं अपनाया

भारत ने जताई आशंका
भारत सरकार नियमित रूप से अपने विचारों और चिंताओं से चीनी अधिकारियों को अवगत कराती रही है और भारत ने चीन से यह सुनिश्चित करने का आग्रह किया है कि नदी के ऊपरी हिस्सों में होने वाली गतिविधियों से निचली हिस्से से जुड़े देशों के हितों को नुकसान न हो.

First Published : 30 Nov 2020, 07:08:11 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.