News Nation Logo

बांग्लादेश में हिंदुओं को बदनाम करने क्या कट्टरपंथियों ने रची साजिश, आरोपी पकड़ा गया

इकबाल हुसैन की गिरफ्तार के बाद परिवार ने कहा है कि उसकी मानसिक हालत ठीक नहीं है. ऐसे में किसी दूसरे ने इसका फायदा उठाते हुए दुर्गा पंडाल में कुरान रखने के लिए कहा होगा.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 22 Oct 2021, 11:07:45 AM
Bangladesh Violence

सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पकड़ा गया देवी पंडाल में कुरान रखने वाला. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • सीसीटीवी फुटेज के आधार पर कॉक्स बाजार से आरोपी गिरफ्तार
  • दुर्गा पूजा पंडाल में रखी थी कुरान, जिसके बाद भड़की हिंसा
  • कई जिलों में हिंदुओं पर हमले हुए और 7 लोग मारे गए

ढाका:

बांग्लादेश (Bangladesh) में नवरात्रि पर देवी पंडालों में तोड़फोड़ के पीछे साजिश का अंदेशा सच साबित हुआ है. सोशल मीडिया पर अफवाहों के बाद न सिर्फ देवी पंडालों, इस्कॉन मंदिर में तोड़-फोड़ की गई, बल्कि हिंदुओं (Hindu) के सैकड़ों घरों को भी आग के हवाले कर दिया गया. अब इस हिंसा को उकसाने के आरोप में मुख्य आरोपी इकबाल हुसैन को बांग्लादेश पुलिस ने कॉक्स बाजार से गिरफ्तार किया है. इकबाल की गिरफ्तारी का पुख्ता आधार सीसीटीवी (CCTV) फुटेज बना है, जिसमें उसे दुर्गा पंडालों में कुरान रखते दिखाया जा रहा है. इसके बाद यह घटना सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद हिंदुओं के खिलाफ दंगे शुरू हो गए थे. 

सीसीटीवी से की गई पहचान
दुर्गा पंडालों में तोड़-फोड़ की घटनाओं के बाद गुरुवार को बांग्लादेश की कोमिला पुलिस ने दावा किया था कि सीसीटीवी में हिंसा भड़काने के पीछे जिम्मेदार शख्स की पहचान कर ली गई है. पुलिस ने सीसीटीवी से उसकी पहचान कर उसे पकड़ने के लिए अपनी टीमें लगाईं थीं. गुरुवार रात को ही वह पकड़ में आ गया था. इससे पहले मंगलवार को बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने हिंसा भड़काने वालों के खिलाफ कार्रवाई शुरू करने के निर्देश अपने गृह मंत्री को दिए थे.

यह भी पढ़ेंः ताइवान पर खुलकर आया अमेरिका, कहा- चीन ने किया हमला तो.....

दुर्गा पूजा पंडाल में कुरान रखने से भड़की सांप्रदायिक हिंसा
दूसरी ओर इकबाल हुसैन की गिरफ्तार के बाद परिवार ने कहा है कि उसकी मानसिक हालत ठीक नहीं है. ऐसे में किसी दूसरे ने इसका फायदा उठाते हुए दुर्गा पंडाल में कुरान रखने के लिए कहा होगा. साजिशकर्ताओं ने बांग्लादेश का सांप्रदाय‍िक सौहार्द बिगाड़ने के लिए कुरान को पंडाल में रखा था. एक दुर्गा पूजा पंडाल में कुरान रखे जाने की घटना के बाद बांग्‍लादेश जल उठा था. मुस्लिम कट्टरपंथियों की भीड़ ने दर्जनों मंदिरों में तोड़फोड़ की औऱ हिंदुओं पर हमले में 7 लोग मारे गए.

यह भी पढ़ेंः  J&K पर पाकिस्तान के दोस्त तुर्की को भी भारत ने दिलाई सजा, FATF का प्रतिबंध

कई जिलों में भड़की थी हिंदुओं के खिलाफ हिंसा
ढाका ट्रिब्यून ने पुलिस के हवाले से बताया है कि इकबाल के पास कोई स्थायी नौकरी नहीं है. वह इधर-उधर घूमता रहता है. अभी यह साफ नहीं है कि उसका ताल्लुक किसी राजनीतिक पार्टी से है या नहीं. रिपोर्ट के मुताबिक इकबाल की मां अमीना बेगम का दावा है कि उसके बेटे को ड्रग्स की लत है और वो अपने ही परिवार के सदस्यों को अलग-अलग तरीकों से परेशान करता रहता था. हिंदुओं के खिलाफ कई जिलों में भड़की हिंसा को लेकर अबतक 450 लोगों को अरेस्‍ट किया गया है. सांप्रदायिक हिंसा के 72 मामले भी दर्ज किए गए हैं. इस हिंसा के दौरान हजारों की संख्‍या में हिंदुओं के घरों और दुकानों को लूट लिया गया. 

First Published : 22 Oct 2021, 11:06:34 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.