News Nation Logo

पोस्ट ऑफिस की योजनाओं में करने जा रहे हैं निवेश, तो यहां जानिए क्या हैं ब्याज दरें

पोस्ट ऑफिस के निवेश माध्यमों में निवेश करके निवेशक शानदार रिटर्न हासिल कर सकते हैं. आम निवेशकों के मन में धारणा है कि पोस्ट ऑफिस की योजनाओं में पैसा लगाने से वह सुरक्षित तो रहता ही है. साथ ही समय बीतने के साथ ही निवेश में बढ़ोतरी भी हो जाती है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 02 Mar 2021, 10:14:27 AM
पोस्ट ऑफिस (Post Office)

पोस्ट ऑफिस (Post Office) (Photo Credit: newsnation)

highlights

  • आम निवेशकों के मन में धारणा है कि पोस्ट ऑफिस की योजनाओं में किया गया निवेश सुरक्षित रहता है
  • केंद्र सरकार हर तीन महीने में अपनी सभी लघु बचत योजनाओं पर मिलने वाले ब्याज दरों की समीक्षा करती है

नई दिल्ली:

अगर कोई व्यक्ति निवेश (Investment) के साथ ही अपने पैसे की पूरी सुरक्षा भी चाहता है तो उसके लिए पोस्ट ऑफिस (Post Office) के निवेश विकल्प काफी फायदेमंद हो सकते हैं. पोस्ट ऑफिस के निवेश माध्यमों में निवेश करके निवेशक शानदार रिटर्न हासिल कर सकते हैं. आज की इस रिपोर्ट में हम बचत खाता (Saving Account), वरिष्ठ नागरिक बचत योजना, मासिक आय योजना खाता, राष्ट्रीय बचत पत्र, पीपीएफ, किसान विकास पत्र और सुकन्या समृद्धि खाता के ऊपर मिलने वाले ब्याज के बारे में जानकारी हासिल करने की कोशिश करेंगे. बता दें कि आम निवेशकों के मन में धारणा है कि पोस्ट ऑफिस की योजनाओं में पैसा लगाने से वह सुरक्षित तो रहता ही है. साथ ही समय बीतने के साथ ही निवेश में बढ़ोतरी भी हो जाती है. 

यह भी पढ़ें: फोन की बैटरी जल्द हो रही है खत्म तो करें ये काम, होगा फायदा

उत्पाद ब्याज दर (1 अप्रैल 2020 से 31 दिसंबर 2020) चक्रवृद्धिता बारंबरता*
डाकघर बचत खाता (बचत बैंक) 4 फीसदी  वार्षिक
1 वर्षीय टीडी खाता 5.5 फीसदी (10,000 रुपये जमा पर वार्षिक ब्याज 561 रुपये) तिमाही
2 वर्षीय टीडी खाता 5.5(10,000 रुपये जमा पर वार्षिक ब्याज 561 रुपये) तिमाही
3 वर्षीय टीडी खाता 5.5(10,000 रुपये जमा पर वार्षिक ब्याज 561 रुपये) तिमाही
5 वर्षीय टीडी खाता 6.7(10,000 रुपये जमा पर वार्षिक ब्याज 687 रुपये) तिमाही
5-वर्षीय आवर्ती जमा खाता (आरडी)  5.8 फीसदी तिमाही
वरिष्ठ नागरिक बचत योजना 7.4 फीसदी त्रैमासिक और भुगतान किया
मासिक आय योजना खाता 6.6 फीसदी (10,000 रुपये जमा पर मासिक ब्याज 55 रुपये) मासिक और भुगतान किया
5 वर्षीय राष्ट्रीय बचत पत्र ( VIII संस्करण) 6.8 फीसदी  वार्षिक
पीपीएफ 7.1 फीसदी  वार्षिक
किसान विकास पत्र 6.9 फीसदी (124 महीने में परिपक्व होगी) वार्षिक
सुकन्या समृद्धि खाता 7.6 फीसदी  वार्षिक
स्रोत: indiapost    

 जानकारी के मुताबिक पोस्ट ऑफिस में आरडी अकाउंट को 5 साल के लिए खोला जा सकता है. हर तीन महीने (सालाना रेट पर) में रिकरिंग डिपॉजिट में जमा की गई राशि पर ब्याज की गणना की जाती है. हर तिमाही में अकाउंट में चक्रवृद्धि ब्याज (Compound Interest) के साथ जोड़ दिया जाता है. इंडिया पोस्ट (Indiapost) की वेबसाइट से मिली जानकारी के मुताबिक मौजूदा समय में रिकरिंग डिपॉजिट में 5.8 फीसदी ब्याज दिया जा रहा है. यह ब्याज दरें 1 अप्रैल 2020 से प्रभावी हैं. बता दें कि केंद्र सरकार हर तीन महीने में अपनी सभी लघु बचत योजनाओं (Small Saving Schemes) पर मिलने वाले ब्याज दरों की समीक्षा करती है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 02 Mar 2021, 10:13:20 AM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.