News Nation Logo
Banner

डिजिटली डाकुओं के इनाम से आप रहें सावधान, पलभर में कर रहे अकाउंट को निल

प्रधानमंत्री डिजिटल इंडिया (Digital India)पर जोर दे रहे हैं, केन्द्र सरकार (central government) कैशलेस सोसाइटी बनाने के लिए लोगों को प्रेरित करने में जुटी है. यहां तक की इसके लिए कई तरह के कार्यक्रम भी चलाए जा रहे हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Sunder Singh | Updated on: 05 Feb 2022, 04:10:12 PM
1

सांकेतिक तस्वीर (Photo Credit: NEWS NATION)

highlights

  •  इनामी योजना का हवाला देकर जान रहे खातों की डिटेल
  • चंद मिनटों में ही कर रहे अकाउंट खाली
  • अज्ञात फोन कॅाल पर न दें अपने बैंक खाते की कोई भी जानकारी 

नई दिल्ली :  

प्रधानमंत्री डिजिटल इंडिया (Digital India)पर जोर दे रहे हैं, केन्द्र सरकार (central government) कैशलेस सोसाइटी बनाने के लिए लोगों को प्रेरित करने में जुटी है. यहां तक की इसके लिए कई तरह के कार्यक्रम भी चलाए जा रहे हैं.  लेकिन इसी की आड़ लेकर साइबर ठगों (cyber thugs)ने अपना जाल फैलाना शुरु किया हुआ है. ठग इनामी योजना (bounty scheme) में नंबर सलेक्ट होने का झांसा देकर लोगों से उनके खातों की डिटेल्स जान रहे हैं. साइबर सेल (cyber cell) ने एक बार फिर  लोगों  को सावधान रहने के लिए कहा है. क्योंकि ये जालसाज पिछले एक सप्ताह में ही सैंकड़ों लोगों के अकाउंट्स में सेंधमारी कर चुके हैं. इसके लिए गृह मंत्रालय (home Ministry)भी पहले ही अलर्ट कर चुका है.

यह भी पढ़े : Internet चलाने वालों की हुई चांदी, Tata Play फ्री में दे रहा हाईस्पीड़ कनेक्शन

इनामी योजना का प्रलोभन 
शातिल ठग जिसे भी निशाना बनाते हैं, उसे डिजिटल इंडिया के तहत योजना में शामिल होने का प्रलोभन देते हैं. उसके बाद धीरे-धीरे खाते की डिटेल्स जान लेते हैं. फिर खाते का अमाउंट जान उसे निल कर देते हैं. उसके बाद जालसाजों का नंबर हमेशा के लिए बंद हो जाता है, ठग नया मुर्गा फंसाने के लिए दूसरे मोबाइल नंबर का इस्तेमाल करते हैं. इस तरीके दिनभर में कई भले व्यक्तियों को चूना लगाना इनका पेशा बन चुका है. इन ठगों का पता लगाने में साइबर सेल भी कई बार नाकाम हो जाती है. इसलिए सावधानी रखकर ही इनसे निजात पाई जा सकती है.

क्या करें
अगर आपके पास ऐसी कॅाल आए तो उसे रिसीव ही न करें. साथ ही किसी को भी अपने खाते की कोई भी जानकारी न दें. संदिग्द लगने में तुरंत साइबर सेल को सुचित करें. किसी भी इनामी योजना में अकाउंट डिटेल की जरूरत नहीं होती. ओपन वाई-फाई का प्रयोग न करें. यह भी ठगी का एक कारण बन सकता है. ऑनलाइन कोई भी खाते से जुड़ी जानकारी या अपनी पहचान से जुड़ी जानकारी कभी भी शेयर न करें. सोशल साइट पर ज्यादा अपना विवरण न सार्वजनिक करें. कुछ ठग वहां से भी आपकी जानकारी चुराकर इस्तेमाल कर रहे हैं.

First Published : 05 Feb 2022, 04:05:10 PM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.