News Nation Logo
Banner

विदेश जाने वाले हवाई यात्रियों के लिए बड़ी खबर, 31 अगस्त तक रहेगी अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर रोक

सरकार ने नियमित अंतर्राष्ट्रीय वाणिज्यिक यात्री विमान सेवाओं पर लगे प्रतिबंध को 31 जुलाई 2021 से बढ़ाकर 31 अगस्त 2021 तक कर दिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 30 Jul 2021, 03:33:40 PM
international passenger flights

international passenger flights (Photo Credit: NewsNation)

highlights

  • एयर बबल के तहत पूर्व की तरह वंदे भारत स्कीम के तहत यात्रियों की आवाजाही जारी रहेगी
  • DGCA के सर्कुलर के अनुसार चुनिंदा रूट्स पर विदेशी उड़ानों की आवाजाही की अनुमति होगी

नई दिल्ली :

केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार ने नियमित अंतर्राष्ट्रीय वाणिज्यिक यात्री विमान सेवाओं पर लगे प्रतिबंध को 31 जुलाई 2021 से बढ़ाकर 31 अगस्त 2021 तक कर दिया है. DGCA (डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन) ने इसकी जानकारी साझा की है. बता दें कि पहले सरकार ने प्रतिबंध को 30 जून से बढ़ाकर 31 जुलाई कर दिया है. हालांकि एयर बबल के तहत पूर्व की तरह वंदे भारत स्कीम के तहत यात्रियों की आवाजाही जारी रहेगी. DGCA की तरफ से जारी सर्कुलर के अनुसार चुनिंदा रूट्स पर विदेशी उड़ानों की आवाजाही की अनुमति होगी और यह अलग-अलग मामलों पर निर्भर करेगा.

यह भी पढ़ें: Airtel के प्रीपेड ग्राहकों को बड़ा झटका, महंगा कर दिया एंट्री लेवल प्लान

बता दें कि सरकार ने इससे पहले मई में प्रतिबंध को 31 मई से बढ़ाकर 30 जून 2021 तक किया था. बता दें कि भारत ने 30 अप्रैल को उड़ान सेवाओं को लेकर जारी किए गए सर्कुलर में अंतर्राष्‍ट्रीय वाणिज्यिक उड़ानों के परिचालन पर लगाए गए प्रतिबंध को 31 मई 2021 तक बढ़ा दिया था. हालांकि सर्कुलर में इसकी जानकारी भी दी गई थी कि कुछ जरूरी मामलों में चुनिंदा रूट पर विदेशी उड़ान सेवाओं के लिए मंजूरी दी जा सकती है.

पिछले साल 25 मार्च 2020 को पैसेंजर एयर सर्विसेज को किया गया था निलंबित 
सर्कुलर में कहा गया था कि यह प्रतिबंध अंतर्राष्‍ट्रीय कार्गो संचालन और उड़ानों पर लागू नहीं होगा. गौरतलब है कि पिछले साल 25 मार्च 2020 को पैसेंजर एयर सर्विसेज को निलंबित कर दिया गया था. हालांकि 25 मई 2020 से घरेलू उड़ान सेवाओं को फिर से शुरू कर दिया गया था. हालांकि सर्कुलर में इसकी जानकारी भी दी गई थी कि कुछ जरूरी मामलों में चुनिंदा रूट पर विदेशी उड़ान सेवाओं के लिए मंजूरी दी जा सकती है. सर्कुलर में कहा गया था कि यह प्रतिबंध अंतर्राष्‍ट्रीय कार्गो संचालन और उड़ानों पर लागू नहीं होगा. गौरतलब है कि पिछले साल 25 मार्च 2020 को पैसेंजर एयर सर्विसेज को निलंबित कर दिया था. हालांकि 25 मई 2020 से घरेलू उड़ान सेवाओं को फिर से शुरू कर दिया गया था.

First Published : 30 Jul 2021, 03:21:27 PM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.