News Nation Logo
Banner

पेट्रोल-डीजल का झंझट हुआ खत्म, अब 9 रुपए प्रति लीटर चलेगी आपकी कार

केन्द्र सरकार लगातार पेट्रोल-डीजल (petrol-diesel)की निरभर्ता कम करने के लिए काम कर रही है. हाल ही में चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ये ऐलान कर चुके हैं कि उनकी कार निर्माता कंपनियों से बात हो रही है.

News Nation Bureau | Edited By : Sunder Singh | Updated on: 20 Feb 2022, 06:39:13 PM
FULE

सांकेतिक तस्वीर (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • नितिन गडकरी की चल रही कार निर्माता कंपनियों के साथ बातचीत
  • ग्रीन हाईड्रोजन चलित कारों के आने की संभावना बढ़ी
  • सूत्रों के मुताबिक महज 9 रुपए प्रति लीटर की आएगी कॅास्ट 

नई दिल्ली :  

केन्द्र सरकार लगातार पेट्रोल-डीजल (petrol-diesel)की निरभर्ता कम करने के लिए काम कर रही है. हाल ही में चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ये ऐलान कर चुके हैं कि उनकी कार निर्माता कंपनियों से बात हो रही है. बस कुछ ही दिनों में देश में वैकल्पिक ईंधन के वाहन आ जाएंगे. जिसके बाद पेट्रोल- डीजल की निर्भरता कम हो जाएगी. आपको बता दें कि ग्रीन हाइड्रोजन (Hydrogen) चलित वाहनों के सरकार बढ़ावा देने वाली है. यही नहीं केन्द्रीय परिवहन मंत्री (Union Minister of Transport) नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) कार कंपनियों से पहले राउंड की बात भी कर चुके हैं. बताया जा रहा है बहुत जल्द देश में हाइ़ड्रोजन चलित कार मार्केट में होंगी. बताया जा रहा है कि यदि ऐसा हुआ तो महज 9 से 10 रुपए प्रति लीटर की दर से आपको ईंधन मिल सकेगा. यही नहीं इससे किसानों को भी बढ़ावा मिलेगा.

यह भी पढ़ें : Indian Railway: अब ट्रेन का सफर होगा स्मार्ट, ये सुविधा मिलेगी फ्री

दरअसल, सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी (Road and Transport Minister Nitin Gadkari) इन दिनों पांच राज्यों के चुनाव में व्यस्त हैं. कई चुनावी सभाओं में उन्होने हाइड्रोजन ईंधन का जिक्र किया है. साथ ही संकेत भी दिये हैं कि बहुत जल्द देश में हाइड्रोजन युक्त वाहन आने वाले हैं. जिसके बाद पेट्रोल-डीजल की टेंशन ही खत्म हो जाएगी. उन्होने बताया कि बहुत जल्द देश से पेट्रोल-डीजल (petrol-diesel) की निर्भरता कम हो जाएगी. क्योंकि भारत में ग्रीन हाइड्रोज चलित कार मार्केट में आने के लिए वे कंपनी से बात कर रहे हैं. ताकि आम जन के लिए ये वाहन मार्केट में पहुंच सके. नितिन गडकरी अभी भी एथ्नॅाल से चलने वाली कार में सफर करते हैं. उन्होने बताया कि आमजन के लिेए भी वैकल्पिक ईँधन चलित गाड़ियां जल्द ही मार्केट में उपलब्ध होंगी. इसके लिए सरकार काम कर रही है.

सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गड़करी ने कहा कि ग्रीन हाइड्रोजन भविष्य का ईंधन है. पहले दौर के चुनाव से पहले मेरठ में उन्होने कहा था कि वे कार निर्माता कंपनियों से पहले दौर की बात खत्म कर चुके हैं. पांच राज्यों के चुनाव खत्म होने के बाद वे दूसरे दौर की बार कार कंपनियों से करेंगे. उन्होने कहा कि फ्लेक्स इंजन भी भविष्य के लिए अच्छा साबित होगा. क्योंकि पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतें आम आदमी के बजट से बाहर होता जा रहा है. इसी समस्या को देखते हुए उन्होने विकल्प के तौर पर ग्रीन हाईड्रोजन और फ्लेक्स इंजन को चुना है. ताकि देश में पेट्रोल-डीजल की मांग कम हो जाए.

First Published : 20 Feb 2022, 06:39:13 PM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.