News Nation Logo

मोदी सरकार ने कलर ब्लाइंड लोगों के ड्राइविंग लाइसेंस को लेकर किया बड़ा फैसला

Bhasha | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 27 Jun 2020, 09:41:58 AM
Driving Licence

ड्राइविंग लाइसेंस (Driving Licence) (Photo Credit: फाइल फोटो)

दिल्ली:  

अब हल्के तथा मध्यम वर्णान्ध (कलर ब्लाइंड) लोग भी ड्राइविंग लाइसेंस (Driving Licence) हासिल कर सकेंगे. केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय (Union Road Transport Ministry) ने शुक्रवार को इस बारे में मोटर वाहन नियमों में आवश्यक संशोधन के लिए अधिसूचना जारी कर दी है. मंत्रालय ने बयान में कहा कि सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने केंद्रीय मोटर वाहन (सीएमवी) नियम-1989 के फॉर्म-1 और फॉर्म-1ए में संशोधन के लिए अधिसूचना जारी की है.

यह भी पढ़ें: भारतीय रेलवे ने विशेष ट्रेनों की संख्या को बढ़ाने को लेकर बनाई ये बड़ी योजना

हल्के ओर मध्यम वर्णान्ध नागरिक ड्राइविंग लाइसेंस हासिल कर सकेंगे
अधिसूचना के बाद इससे हल्के ओर मध्यम वर्णान्ध नागरिक ड्राइविंग लाइसेंस हासिल कर सकेंगे. मंत्रालय ने कहा कि वह ‘दिव्यांगजन’ नागरिकों को परिवहन आधारित सेवाएं विशेषरूप से ड्राइविंग लाइसेंस उपलब्ध कराने के लिए कई कदम उठा रहा है. बयान में कहा गया है कि ‘दिव्यांगजन’ नागरिकों को ड्राइविंग लाइसेंस के लिए परामर्श जारी किया जा चुका है. अब कलर ब्लाइंड लोगों को ड्राइविंग लाइसेंस के लिए परामर्श जारी किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें: चीन से भारी तनाव के बीच भारतीय कपड़ा निर्यातकों ने मोदी सरकार से की ये बड़ी मांग

मंत्रालय को इस बात की जानकारी दी गई थी कि कलर ब्लाइंड नागरिकों को ड्राइविंग लाइसेंस जारी नहीं किया जा रहा है. इस बारे में चिकित्सा विशेषज्ञ संस्थानों से राय मांगी गई. उनकी सिफारिशों के आधार पर हल्के तथा मध्यम वर्णान्ध लोगों को ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने की अनुमति दी गई है. हालांकि, गंभीर वर्णान्ध नागरिकों को ड्राइविंग लाइसेंस जारी नहीं किया जाएगा. मंत्रालय ने कहा कि दुनिया के अन्य हिस्सों में भी इसकी अनुमति है.

First Published : 27 Jun 2020, 09:38:31 AM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.