News Nation Logo

Indian Railway-IRCTC: प्रयागराज-जयपुर के बीच सस्ती और आरामदेह ट्रेन के सफर के लिए रेलवे ने उठाया ये बड़ा कदम

Indian Railway-IRCTC: पहली बार इस कोच को ट्रेन नंबर 02403 प्रयागराज-जयपुर एक्सप्रेस (02403 Prayagraj- Jaipur Express) में जोड़ा गया है. 3एसी कोच की 72 बर्थ की तुलना में नए एसी इकनॉमी कोच में 83 बर्थ हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 07 Sep 2021, 09:16:03 AM
Indian Railway-IRCTC

Indian Railway-IRCTC (Photo Credit: NewsNation)

highlights

  •  3एसी कोच में 72 बर्थ की तुलना में नए 3एसी इकोनॉमी कोच में 83 बर्थ हैं
  • शुरुआती तौर पर 50 नए 3एसी इकोनॉमी कोच विभिन्न क्षेत्रों में सेवाएं देने के लिए तैयार  

नई दिल्ली :

भारतीय रेलवे (Indian Railway) हमेशा से बेहतर यात्री अनुकूल सुविधाओं के साथ कोच विकसित करके अपने यात्रियों की सुविधाजनक यात्रा के लिए प्रतिबद्ध है. भारतीय रेलवे की इस विकास यात्रा में नया शामिल होने वाला एसी थ्री टियर इकनॉमी क्लास कोच (AC Three Tier Economy Class Coach) है. सोमवार से नए कोच ने अपनी सेवा देना शुरू कर दिया है. पहली बार इस कोच को ट्रेन नंबर 02403 प्रयागराज-जयपुर एक्सप्रेस (02403 Prayagraj- Jaipur Express) में जोड़ा गया है. 3एसी कोच की 72 बर्थ की तुलना में नए एसी इकनॉमी कोच में 83 बर्थ हैं. इसके साथ ही इस कोच का किराया 3एसी कोच से 8 फीसदी कम है.

जल्द ही दो और ट्रेनों, ट्रेन नंबर 02429/02430 नई दिल्ली-लखनऊ एसी स्पेशल और ट्रेन नंबर 02229/02230 लखनऊ मेल में इस नए 3एसी इकोनॉमी कोच को जोड़ा जाएगा. शुरुआती तौर पर कपूरथला स्थित रेल कोच फैक्ट्री में निर्मित 50 नए इकनॉमी कोच विभिन्न क्षेत्रों में मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों में अपनी सेवाएं देने के लिए तैयार हैं. इस कोच में प्रवेश और एक व्हील चेयर पर दिव्यांगों के अनुकूल शौचालय के प्रावधान किए गए हैं, जो कि एक नई पहल है.

यह भी पढ़ें: अब इस राज्य ने महंगाई भत्ते में किया 11 फीसदी का इजाफा, कर्मचारियों को अब कितना मिलेगा DA

यात्री आराम में सुधार के लिए कई डिजाइन सुधार भी किए गए हैं. सभी बर्थ के लिए अलग-अलग सुराख प्रदान करके एसी वाहक पाइप प्रणाली को नए स्वरूप में बनाया गया है। आराम में सुधार, कोच का वजन कम करने और रखरखाव अनुकूलता में सुधार के लिए सीटों और बर्थों का बेहतर व मॉड्यूलर डिजाइन बनाया गया है. लंबवत और आड़ा, दोनों हिस्सों में मुड़ने योग्य स्नैक टेबल, चोट न पहुंचाने वाली जगह और पानी की बोतल व मोबाइल फोन रखने के लिए बेहतर यात्री सुविधाएं सुनिश्चित की गई हैं. प्रत्येक बर्थ के लिए व्यक्तिगत रीडिंग लाइट और यूएसबी चार्जिंग पॉइंट दिए गए हैं. मध्य और ऊपरी बर्थ तक पहुंचने के लिए सीढ़ी को एक नए एर्गोनॉमिक के रूप में उन्नत डिजाइन भी प्रदान किया गया है। मध्य और ऊपरी बर्थ में सिर से ऊपर का हिस्सा भी पहले से बढ़ा हुआ है.

एसी 3-टियर इकनॉमी क्लास कोच के डिजाइन की विशेषताएं

  • बर्थ क्षमता 72 से बढ़कर 83 हो गई
  • सीटों और बर्थ का बेहतर और मॉड्यूलर डिजाइन
  • लंबवत और आड़ा, दोनों हिस्सों में मुड़ने योग्य स्नैक टेबल
  • प्रत्येक बर्थ के लिए अलग-अलग एसी सुराख
  • दिव्यांगजनों के लिए प्रत्येक कोच में बड़ा शौचालय का दरवाजा और प्रवेश द्वार
  • प्रत्येक बर्थ के लिए व्यक्तिगत रीडिंग लैंप और यूएसबी चार्जिंग प्वाइंट
  • मध्य और ऊपरी बर्थ, दोनों के लिए सिर से ऊपर के हिस्से में बढ़ोतरी
  • सार्वजनिक संबोधन और यात्री सूचना प्रणाली
  • सामाग्रियों के लिए विश्व बेंचमार्क ईएन45545-2 एचएल3 के अनुपालन को सुनिश्चित करके अग्नि सुरक्षा में सुधार
  • सीसीटीवी कैमरा
  • ऊपरी और मध्य बर्थ तक पहुंचने के लिए सीढ़ी का बेहतर डिजाइन

यह भी पढ़ें: असली और नकली कोविड-19 वैक्सीन की पहचान कैसे करें? सरकार ने जारी किया अलर्ट

वहीं सौंदर्यबोध की दृष्टि से आकर्षक व एर्गोनॉमिक (जिसमें कम मेहनत करना पड़े) प्रवेश द्वार के जरिए कोच तक पहुंचने के वातावरण और सुगमता में सुधार किया गया है. कोच के भीतरी हिस्से में ल्यूमिनसेंट गलियारा निशान, ल्यूमिनसेंट बर्थ नंबरों सहित नाइट लाइट्स के साथ एकीकृत इल्यूमिनेटेड बर्थ इंडिकेटर्स (संकेतक) हैं. सामग्रियों के लिए ईएन45545-2 एचएल3 के विश्व बेंचमार्क के अनुपालन को सुनिश्चित करके अग्नि सुरक्षा में भी सुधार हुआ है, इस प्रकार यह नए अग्नि सुरक्षा मानक की उच्च आवश्यकताओं को भी पूरा करता है. -इनपुट पीआईबी

First Published : 07 Sep 2021, 09:14:40 AM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.