News Nation Logo

Indian Railway: ये ट्रेनें सिर्फ ढाई घंटे में दिल्ली से पहुंचाएंगी लखनऊ, रेलवे का बुलेट प्लान हुआ शुरू

Indian Railway: दिल्ली से लखनऊ आने जाने वालों के लिए खुशखबरी है. अब आपको लखनऊ जाने के लिए सोचने की जरूरत नहीं होगी. बल्कि आप सुबह जाकर दोपहर को वापस भी लौट सकते हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Sunder Singh | Updated on: 22 Jun 2022, 06:51:31 PM
train

सांकेतिक तस्वीर (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • रेलवे के मुताबिक 200 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ेंगी ट्रेन
  • दिल्ली से जाने वाली 100 ट्रेनों को किया जाएगा एडवांस

नई दिल्ली :  

Indian Railway: दिल्ली से लखनऊ आने जाने वालों के लिए खुशखबरी है. अब आपको लखनऊ जाने के लिए सोचने की जरूरत नहीं होगी. बल्कि आप सुबह जाकर दोपहर को वापस भी लौट सकते हैं. रेलवे के मुताबिक दिल्ली से लखनऊ रूट पर 100 ऐसी ट्रेनें चलाई जाएंगी. जिनकी स्पीड 200 किमी प्रतिघंटा होगी. यानी ये ट्रेने महज ढाई घंटे में आपको लखनऊ पहुंचा देंगी. यही नहीं वापसी के लिए यही सुविधा मिलेगी. इसके लिए रेलवे ने बुलेट प्लान की शुरुवात करने की घोषणा की है. आपको बता दें कि भारतीय रेलवे के अनुसंधान अभिकल्प और मानक संगठन (RDSO) ने देश में ट्रेन की स्पीड बढ़ाकर 200 किलोमीटर प्रति घंटे करने के लिए 100 ट्रेन सेट खरीदने की तैयारी शुरू कर दी है. बताया जा रहा है कि चैकआउट टाइम को भी एड कर लिया जाए तो कई मायनों में रेलवे सफर, हवाई को भी पीछे छोड़ देगा.

यह भी पढ़ें : अब Facebook-Instagram यूजर्स होंगे मालामाल, Mark Zuckerberg ने किया यह ऐलान

आरडीएसओ महानिदेशक संजीव भुटानी ने बताया कि आने वाले दिनों में बेहतर यात्री सुविधाओं के मद्देनजर आरडीएसओ कई दिशा में काम कर रहा है. इसके तहत 200 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से ट्रेन चलाने के लिए 100 ट्रेन सेट खरीदने की तैयारी है. इसके लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है. बहुत जल्द आप ट्रेन में ही हवाई जहाज का आनंद ले सकते हैं. यानि सुबह लखनऊ जाकर अपना काम निपटाएं, उसके बाद वापस ट्रेन में बैठेंगे तो दोपहर तक आ जाएंगी. इस दिशा में रेलवे काम कर रहा है. भुटानी ने बताया कि आरडीएसओ में दोनों सिरों पर पावर यूनिट लगाई गई है.

पटरियों पर चल रहा काम 
आपको बता दें कि ट्रेन सेट का पटरियों पर ट्रायल करने के लिए तेजी से काम चल रहा है. उन्होंने याद दिलाया कि आरडीएसओ ने ट्रेनों के टकराव को रोकने के लिए कवच का सफल परीक्षण बीते 4 मार्च 2022 को पूरा कर लिया है. यह कवच ट्रेन में इसी साल से लगना शुरू हो जाएगा. इससे आने वाले दिनों में रेल दुर्घटना की संभावना काफी कम हो जाएगी और यह यात्रियों का सफर बेहतर और सुरक्षित करेगा.

First Published : 22 Jun 2022, 06:51:31 PM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.