News Nation Logo

खुशखबरी : रेलवे का बड़ा फैसला, ट्रेनों में होगी अब रेगुलर खाने की जांच

मीडिया रिपोर्ट्, के मुताबिक रेलवे 50 एफएसएस (Food Safety Supervisor) तैनात किए जाएंगें. हर किचन में कम से कम एक फूड सेफ्टी सुपरवाइजर रहेगा.

News Nation Bureau | Edited By : Shivani Kotnala | Updated on: 21 Feb 2022, 02:14:42 PM
Indian Railway

Indian Railway (Photo Credit: NewsNation)

highlights

  • अब ट्रेन में पहुंचने वाले खाने की रोजाना जांच की जाएगी
  • कोरोना के बाद फिर से फूड सर्विस 428 ट्रेनों में बहाल की जा चुकी हैं
  • अच्छी गुणवत्ता का भोजन परोसने के लिए निजी एंजेसियों की ली जाएगी मदद

नई दिल्ली:  

Indian Railway News: भारतीय रेल यात्रियों के लिए एक बड़ी खबर है कि अब ट्रेन में पहुंचने वाले खाने की रोजाना जांच की जाएगी. भारतीय रेल यात्रियों की स्वास्थ्य सुविधाओं का ध्यान रखते हुए यह सुनिश्चित करेगी कि खाने की नियमित जांच हो. दरअसल अक्सर रेल विभाग के पास खाने की गुणवत्ता के लिए शिकायतों का अंबार लगा होता है. शिकायतें रहती हैं कि ट्रेन में पहुंचाए जाने वाले खाने की क्वालिटी उच्च नहीं होती. अब IRCTC के इस महत्वपूर्ण कदम के तहत बेस किचन में खाने की क्वालिटी की नियमित जांच की जाएगी. इसके लिए खासतौर पर फूड सेफ्टी सुपरवाइजर तैनात किए जाएंगे. मीडिया रिपोर्ट् के मुताबिक, रेलवे 50 एफएसएस (Food Safety Supervisor) तैनात किए जाएंगें. हर किचन में कम से कम एक फूड सेफ्टी सुपरवाइजर रहेगा. बता दें कोरोना महामारी को देखते हुए ट्रेनों में यात्रियों के लिए पिछले कुछ समय से फूड सर्विस उपलब्ध नहीं थी. हालांकि पिछले दिनों IRCTC ने सभी ट्रेनों में फूड सर्विस फिर से शुरू कर दी है. कोरोना काल के पहले IRCTC के 46 बेस किचन थे.

यह भी पढ़ेंः शादी के बाद पैन कार्ड में जल्द अपडेट करा लें ये अपडेट

यात्रियों की सुविधाओं का रखा जाएगा ध्यान
खाने की नियमित जांच के लिए निजी लैब की भी मदद ली जाएगी. इस पूरी प्रक्रिया के दौरान यात्रियों की संतुष्टि का ख्याल रखा जाएगा. साथ ही यात्रियों के सुझाव के बाद ही खामियों को दूर किया जाएगा.

सभी ट्रेनों में मिल रहा पका हुआ खाना
पिछले दिनों IRCTC ने सभी ट्रेनों में फूड सर्विस फिर से शुरू कर दी हैं. रेलवे बोर्ड की गाइडलाइंस के मुताबिक पके हुए खाने की बहाली पूरी सावधानी के साथ की गई है. 428 ट्रेनों में पहले ही फूड सर्विस बहाल की जा चुकी है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 21 दिसंबर से ही 30 फीसदी और 22 जनवरी तक 80 फीसदी ट्रेनों में पके यह सर्विस शुरू कर दी गई थी. बाकी 20 फीसदी ट्रेनों में भी इसे 14 फरवरी से बहाल कर दिया गया. इसके साथ ही प्रीमियम ट्रेनों (राजधानी, शताब्दी, दुरंतो) में पका हुआ खाना पहले ही 21 दिसंबर को बहाल कर दिया गया था.

यह भी पढ़ेंः SBI ने जारी किया अलर्ट, QR कोड को लेकर हो जाएं सतर्क, वरना लुट जाएंगे

नि़जी एजेंसी यात्रियों से बात कर करेगी रिपोर्ट तैयार
ट्रेन में यात्रियों को अच्छी गुणवत्ता का ही भोजन परोसा जाए इसके लिए निजी एजेंसियों की सर्विस भी ली जाएगी. दो साल की समयावधि के लिए इस प्राइवेट एजेंसी को हायर किया जाएगा. साथ ही एजेंसी के कर्मचारी स्टेशनों पर खानपान के स्टॉल और ट्रेनों में यात्रियों से बात करके रिपोर्ट तैयार की जाएगी.

First Published : 21 Feb 2022, 02:14:42 PM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Indian Railways Irctc Food