News Nation Logo
Banner

भारतीय रेलवे (Indian Railway) का बड़ा बयान, बुलेट ट्रेन के 72 फीसदी ठेके भारतीय कंपनियों को दिए जाएंगे

Indian Railway-IRCTC: रेलवे बोर्ड के सीईओ वी के यादव ने कहा कि पुल एवं सुरंग बनाने जैसे उच्च मूल्यों के अधिकतर तकनीकी कार्य भारतीय ठेकेदारों द्वारा संभाले जाएंगे जबकि सिग्नल और टेलिकॉम से संबंधित कार्य जापानी कंपनियों द्वारा संभाले जाएंगे.

Written By : बिजनेस डेस्क | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 28 Nov 2020, 08:30:41 AM
Indian Railway-IRCTC

Indian Railway-IRCTC (Photo Credit: newsnation)

नई दिल्ली:

Indian Railway-IRCTC: रेलवे बोर्ड (Railway Board) के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) वी के यादव ने शुक्रवार को कहा कि आत्मनिर्भर भारत अभियान को बढ़ावा देने के तहत मुंबई और अहमदाबाद के बीच चलाई जाने वाली बुलेट ट्रेन परियोजना (Ahmedabad-Mumbai Bullet Train Project) से संबंधित 72 फीसदी ठेके स्थानीय कंपनियों को दिए जाएंगे. 

यह भी पढ़ें: भारतीय रेलवे ने इन रूटों पर किया स्पेशल ट्रेनें चलाने का ऐलान, देखें लिस्ट

एसोचैम द्वारा आयोजित एक वेबिनार के दौरान यादव ने कहा कि पुल एवं सुरंग बनाने जैसे उच्च मूल्यों के अधिकतर तकनीकी कार्य भारतीय ठेकेदारों द्वारा संभाले जाएंगे जबकि सिग्नल और टेलिकॉम से संबंधित कार्य जापानी कंपनियों द्वारा संभाले जाएंगे.

यह भी पढ़ें: Indian Railway: पंजाब में किसानों के विरोध को देखते हुए भारतीय रेलवे ने लिया बड़ा फैसला

इस परियोजना के लिए आने वाली अनुमानित लागत 1.10 लाख करोड़ 
बुलेट ट्रेन की 508 किलोमीटर लंबी इस परियोजना के लिए आने वाली अनुमानित लागत 1.10 लाख करोड़ होगी, जिसमें से 88,000 करोड़ की राशि जापान अंतरराष्ट्रीय सहयोग एजेंसी (जेआईसीए) द्वारा भारत को कर्ज के तौर पर मुहैया कराई जाएगी. उन्होंने कहा कि जापान की सरकार से विस्तृत चर्चा के बाद, हमने पूरी परियोजना का 72 फीसदी ठेका भारतीय कंपिनयों के लिए रखा है.

First Published : 28 Nov 2020, 08:30:41 AM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.