logo-image
लोकसभा चुनाव

Diwali bonus: दिवाली पर इन कर्मचारियों की हुई चांदी, खाते में क्रेडिट होगा इतना बोनस

Diwali bonus 2023: दिवाली आने में सिर्फ 10 दिन शेष बचे हैं. ऐसे में नौकरीपेशा लोगों को बोनस का इंतजार है. बोनस सिर्फ सरकारी कर्मचारियों को ही नहीं मिलता, बल्कि प्राइवेट सेक्टर की भी 80 प्रतिशत से ज्यादा कंपनियां बोनस देती हैं.

Updated on: 02 Nov 2023, 09:36 AM

highlights

  • प्रत्येक कर्मचारी के खाते में सैलरी से अलग बोनस की धनराशि होगी क्रेडिट 
  • सरकारी ही नहीं बल्कि कई प्राइवेट सेक्टर की भी कंपनी हैं जहां कर्मचारियों को मोटा बोनस दिया जाएगा
  • सर्वें के मुताबिक 80 प्रतिशत कंपनियां दिवाली पर देती हैं बोनस

नई दिल्ली :

Diwali bonus 2023: दिवाली आने में सिर्फ 10 दिन शेष बचे हैं. ऐसे में नौकरीपेशा लोगों को बोनस का इंतजार है. बोनस सिर्फ सरकारी कर्मचारियों को ही नहीं मिलता, बल्कि प्राइवेट सेक्टर की भी 80 प्रतिशत से ज्यादा कंपनियां बोनस देती हैं.  सर्वे के मुताबकि इस दिवाली पर कई कंपनियों ने बोनस की लिस्ट में नाम जोड़ा है. बताया जा रहा है कि कि नेक्सट वीक के मंडे को ही ज्यादातर कंपनियां बोनस कर्मचारियों के खाते में में डाल देंगी. आपको बता दें कि कुल 160 कंपनियों में सर्वे कराया गया था. जिसमें पाया गया कि लगभग 80 फीसदी कंपनियां ऐसी हैं जो अपने कर्मचारियों को दिवाली पर अच्छा-खासा अमाउंट देती हैं. 

यह भी पढ़ें : Ration card: इन 10 लाख लाभार्थियों को नहीं मिलेगा फ्री गेंहू, चना और चावल, राशन कार्ड रद्द करने की तैयारी

ये कंपनियां देंगी बोनस
सर्वे के मुताबिक,  मैन्युफैक्चरिंग और फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स सेक्टर की 160 में से 90 कंपनियों ने कहा कि वे अपने कर्मचारियों को बोनस देने की तैयारी में है. हालांकि आपको बता दें कि बोनस देने का हर कंपनी के अपने नियम कानून हैं.  कहीं सैलरी का 20 प्रतिशत तो कहीं फिक्स में 11000 रुपए देने की तैयारियां कंपनी कर रही हैं. कुछ कंपनियों में बोनस की राशि सिर्फ 2100 और 1100 रुपए देकर ही दी जाती है.  CIEL HR के डायरेक्टर संतोष नायर ने कहा कि मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों में दिवाली बोनस देना अनिवार्य है. यहां बोनस की धनराशि की बात करें तो 7000  रुपए से 10,000 रुपए के बीच होता है. 

आखिर क्या होता है बोनस? 
आपको बता दें कि बोनस सैलरी से एक दम अलग होता है. दिवाली देश का सबसे बड़ा त्योहार माना जाता है. साथ ही इस त्योहार पर खरीदारी का भी चलन है तो सरकारी और गैरसरकारी कंपनियां अपने कर्मचारियों को उपहार के तौर पर कुछ धनराशि देती हैं. साथ ही दिवाली पर बोनस देना किसी भी कंपनी को बाध्य नहीं है. कई कंपनी हर दिवाली पर बोनस नहीं भी देती हैं. लेकिन  सर्वे के मुताबिक कुल 160 कंपनियों में कर्मचारियों व मैनेजमेंट के व्यूज जानने की कोशिश की गई. जिसमें पता चला कि 160 में से 90 से ज्यादा ऐसी कंपनी हैं. जहां  इस साल दिवाली का बोनस दिया जा रहा है.