News Nation Logo
Banner

Corona Vaccine दोनों डोज लगने पर मिलेगा ई-सर्टिफिकेट

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के निर्देश पर वैक्सीनेशन अंतरराष्ट्रीय मानक के अनुसार हो रहा है. इसके बाद जारी प्रमाणपत्र देश-विदेश में भी हर जगह मान्य होंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 16 Jan 2021, 03:01:32 PM
Co win App

फ्रंटलाइन वर्कर्स के बाद शुरू हो जाएगा पंजीकरण. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:  

कोरोना संक्रमण (Corona Epidemic) से बचाव के लिए कोवैक्सिन और कोविशील्ड वैक्सीनेशन 16 जनवरी यानी आज से शुरू हो रहा है. तैयारियां पूरी हो गई हैं. वैक्सीन की दो डोज लगेगी. दूसरी डोज के बाद पंजीकृत मोबाइल नंबर पर ऑनलाइन लिंक भेजा जाएगा, जिसे क्लिक करने पर क्यूआर कोड आधारित ई-सर्टिफिकेट भेजा जाएगा. वैक्सीनेशन सेंटर पर दोनों डोज लगने पर वैक्सीनेशन कार्ड भी जारी होगा. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के निर्देश पर वैक्सीनेशन अंतरराष्ट्रीय मानक के अनुसार हो रहा है. इसके बाद जारी प्रमाणपत्र देश-विदेश में भी हर जगह मान्य होंगे.  

सबसे पहले हेल्थ वर्कर
सबसे पहले कोरोना संक्रमितों के इलाज में लगे हेल्थ वर्कर से वैक्सीन लगाने की शुरुआत होगी. फिर फ्रंटलाइन वर्कर और उसके बाद गंभीर बीमारियों से पीडि़त 50 या उससे ऊपर की उम्र के बुजुर्गों को वैक्सीन लगाई जाएगी. ध्यान रहे कोविन एप या पोर्टल पर बिना ऑनलाइन पंजीकरण कराए बगैर किसी को वैक्सीन नहीं लगेगी. वैक्सीन लगवाने के लिए तीसरे चरण में बुजुर्गों और आमजन का ऑनलाइन पंजीकरण होगा. इसके लिए कोविन की वेबसाइट, पोर्टल एवं एप जल्द खोला जाएगा.

यह भी पढ़ेंः दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन आज से, PM मोदी लांच करेंगे Co-Win एप

मोबाइल से करें पंजीकरण
कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए मोबाइल फोन से पंजीकरण कर सकते हैं. इसके लिए गूगल प्ले स्टोर से को-विन एप को डाउनलोड करना होगा. कंप्यूटर या लैपटॉप से भी को-विन पोर्टल पर जा सकते हैं. वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन के ऑप्शन पर क्लिक कर अपना विस्तृत ब्यौरा देना होगा. कोई बीमारी है तो उसकी भी जानकारी देनी होगी. पहचान पत्र (आइडी) अपलोड करना होगा. वैरीफिकेशन के लिए पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एसएमएस आएगा.

पंजीकरण पर मिलेगा वैक्सीनेशन का संदेश
वैक्सीनेशन के लिए पंजीकरण कराते समय दिए गए मोबाइल नंबर पर एसएमएस (संदेश) भेजा जाएगा, जिसमें वैक्सीनेशन सेंटर का नाम और समय की जानकारी होगी, सेंटर पर मैसेज से जुड़ी सूचनाएं देने एवं आइडी दिखाने के बाद प्रवेश दिया जाएगा, वैक्सीनेटर पूरी प्रक्रिया पूरी कर वैक्सीन की पहली डोज लगाएगा, वैक्सीन की पहली डोज लगते और ऑनलाइन डाटा फीड करते ही मोबाइल पर मैसेज आएगा, जिसमें दूसरी डोज लगवाने के लिए सेंटर और समय की जानकारी भेजी जाएगी.

यह भी पढ़ेंः कोरोना: दिल्ली से लेकर महाराष्ट्र तक जानें वैक्सीनेशन के लिए कैसे हैं इंतजाम

पंजीकरण के लिए जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • वोटर आइडी
  • पैन कार्ड
  • पासपोर्ट
  • जॉब कार्ड
  • पेंशन दस्तावेज
  • मनरेगा कार्ड
  • स्वास्थ्य मंत्रालय से जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड
  • सांसदों, विधायकों, एमएलसी को जारी आधिकारिक प्रमाण-पत्र
  • बैंक, पोस्ट ऑफिस की पासबुक, केंद्र
  • राज्य सरकार या पब्लिक लिमिटेड कंपनियों से जारी सेवा आइडी कार्ड

First Published : 16 Jan 2021, 09:39:11 AM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.