News Nation Logo

SBI ग्राहक सावधान, 1 जुलाई से बदलने वाले हैं ये नियम

SBI नए सर्विस चार्ज को 1 जुलाई 2021 से लागू कर रहा है. बैंक ने  एटीएम से निकासी, चेकबुक, मनी ट्रांसफर और नॉन फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन पर सर्विस चार्ज को बढ़ाने का निर्णय लिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 25 May 2021, 01:35:50 PM
SBI

SBI (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • 1 जुलाई से एसबीआई में लागू होंगे नए नियम
  • कैश निकालने पर बढ़ने वाला है सर्विस चार्ज
  • महीने में सिर्फ 4 बार ही निकाल सकते हैं पैसा

नई दिल्ली:

यदि आपका बैंक अकाउंट भारतीय स्टेट बैंक यानी SBI में है तो ये खबर आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है. 1 जुलाई 2021 से कुछ नियमों को बदलने वाले हैं. नए नियमों के हिसाब से एक जुलाई के बाद बैंक में बैलेंस न होने पर यदि एटीएम पर आपका ट्रांजेक्शन फेल हो जाता है तो अब आपको इसके लिए जुर्माना भरना पड़ेगा. दरअसल SBI बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट (BSBD) खाताधारकों के लिए नए सर्विस चार्ज को 1 जुलाई 2021 से लागू कर रहा है. बैंक ने  एटीएम से निकासी, चेकबुक, मनी ट्रांसफर और नॉन फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन पर सर्विस चार्ज को बढ़ाने का निर्णय लिया है.

ये भी पढ़ें- PNB खाताधारक 30 जून तक निपटा लें ये जरूरी काम, नहीं तो होगी बड़ी परेशानी

बैंक के अनुसार बैलेंस न होने पर आपको प्रति फेल ट्रांजेक्शन 20 रुपये का जुर्माना भरना होगा. इसके साथ ही आपको जीएसटी का भी भुगतान करना पड़ेगा. बैंक ने यह जानकारी अपनी वेबसाइट पर दी है. बैंक इसके अलावा और भी कई नियमों में बदलाव करने जा रहा है. आइए आपको बताते हैं नए चार्जेज के बारे में सबकुछ-

SBI ब्रांच से पैसा निकासी 

ग्राहक अगर महीने में बैंक से 4 बार से अधिक पैसा निकाला गया तब बैंक उसपर एडिशनल चार्ज वसूला जाएगा. इस ट्रांजैक्शन में बैंक के एटीएम भी शामिल हैं. सरल भाषा में कहें तो अगर आप चार बार से अधिक एसबीआई ब्रांच या एटीएम से पैसा निकालते हैं तो उस पर आपको 15 रुपये और जीएसटी जोड़ कर  शुल्क देना होगा. यह चार्ज हर एक अतिरिक्त ट्रांजैक्शन पर लगेगा. हालांकि SBI और नॉन-एसबीआई ब्रांच पर BSBD खाताधारकों द्वारा गैर-वित्तीय ट्रांजैक्शन पर कोई चार्ज नहीं लगेगा.

ATM में भी 4 बार की लिमिट

बीएसबीडी ग्राहक एसबीआई एटीएम और गैर एसबीआई से अगर चार बार से अधिक पैसा निकालता है तो उसे सर्विस चार्ज का भुगतान करना होगा. सर्विस चार्ज के नाम पर बैंक को 15 रुपये और जीएसटी चार्ज देना होगा. हालांकि एसबीआई आपको इस जुर्माने से बचने के लिए मिस्ड कॉल और एसएमएस (SMS) के जरिए ग्राहकों को बचत खाते पर शेष राशि का पता लगाने की सुविधा प्रदान करता है. एटीएम से निकासी करने से पहले बेहतर होगा कि अपने बैलेंस को हमेशा चेक करते रहें. 

ये भी पढ़ें- यास चक्रवाती तूफान की वजह से Railway ने कैंसिल कर दी ये ट्रेनें, देखें लिस्ट

नए चेकबुक चार्जेस 

मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि खाताधारकों को एक वित्त वर्ष में 10 चेक मुफ्त में मिलेंगे. उसके बाद 10 चेक वाली चेकबुक के लिए 40 रुपये प्लस जीएसटी चार्ज किए जाएंगे. 25 चेक वाली चेकबुक के लिए 75 रुपये प्लस जीएसटी चार्ज किए जाएंगे. इमरजेंसी चेक बुक के लिए, 10 लीव के लिए 50 रुपये प्लस जीएसटी का भुगतान करना होगा. वरिष्ठ नागरिकों को चेकबुक पर नए सर्विस चार्ज से छूट दी गई है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 25 May 2021, 01:35:50 PM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.